Love

Most Romantic 60+ Mohabbat Shayari [मोहब्बत की शायरी]

The most romantic way to express your love for your partner is Mohabbat Shayari. Here in this blog post, you will find the ultimate collection of Shayari on Mohabbat in Hindi that you will definitely like. Mohabbat means love in English. So let’s start listening as well as reading this Mohabbat ki Shayari.

मोहब्बत से बढ़कर हो तुम मेरे लिए
तुम्हें पाकर जैसे मैंने सब कुछ पा लिया..

दिल में अब कोई आरजू नहीं है मेरे
तुम्हारी खुशी को ही मैंने अपना मान लिया…

Mohabbat Se Badhkar Ho Tum Mere Liye
Tumhen Pakar Jaise main sab kuch paa liya..
Dil Mein Ab Koi Aarzoo nahin hai mere
Tumhari Khushi ko hi Maine Apna Maan Liya…


Listen to Mohabbat Shayari by Ruchi Bhairali

Table of Content



  1. Mohabbat Shayari
  2. Mohabbat Shayari in Hindi
  3. Urdu Shayari Mohabbat
  4. Mohabbat ki Shayari
  5. Romantic Mohabbat Shayari
  6. Conclusion
Mohabbat Shayari in Hindi
Mohabbat Shayari in Hindi

Listen to Mohabbat Shayari | Voice-Over: Akash Borde


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏




Mohabbat Shayari

Mohabbat is a special kind of feelings that words can’t express properly, but here we have tried our best to describe love with the help of Mohabbat Shayari.

1)

तेरी सोहबत ने ही तो
मेरी जिंदगी को संवारा है..

मोहब्बत तुम्हारी है सच्ची
बस उसका ही सहारा है..

-Vrushali

teri sohbat ne hi to
meri zindagi ko sawara hai..
mohabbat tumhari hai sacchi
bus uska hi sahara hai..



2)

हमारी सांसों में भी वो समाते हैं जैसे..

इस कदर हम मोहब्बत करते हैं उनसे..

-Kavya

hamari sanson mein bhi vo samate hain jaise..
is kadar ham mohabbat karte hain unse..

3)

शाम का यह सुहाना वक्त
मैं तेरे साथ गुजारना चाहता हूं..

मोहब्बत का यह किस्सा
मैं यादगार बनाना चाहता हूं..

-Vrushali

sham ka yah suhana waqt
main tere sath gujarna chahta hun..
mohabbat ka yah kissa
main yaadgar banana chahta hun..

Mohabbat Shayari Image -2
Mohabbat Shayari in Hindi


4)

उनके सच्चे मोहब्बत की
इंतेहा हमसे ना पूछिए..

बताना चाहा तो कहने लगे
उसे दिल में ही रखिए..

-Santosh

unke sacche mohabbat ki
inteha humse na puchiye..
batana chaha to kahane lage
use dil mein hi rakhiye..

Mohabbat Ki shayari
Mohabbat Ki Shayari


5)

जमाने के सारे जुल्म ओ सितम
सनम मैं हंस कर सह लूंगा..

मोहब्बत है मेरी बेपनाह
मरते दम तक मैं निभाऊंगा..

-Vrushali

zamane ke sare julm o sitam
sanam main hanskar sahe lunga..
mohabbat hai meri bepanah
marte dam tak main nibhaunga..



6)

निगाहों से दिल में चाहत का
दिलकश समां महसूस हुआ..

जबसे तुम्हें देखा हमें जैसे
मोहब्बत का एहसास हुआ..

-Gauri

nigahon se dil mein chahat ka
dilkash sama mahsus hua..
jab se tumhe dekha hamen jaise
mohabbat ka ehsas hua..

7)

इन वादियों में गूंजता है
हमारी मोहब्बत का नगमा..

तेरा नाम ले लेकर
दिल है मेरा धड़कता..

-Vrushali

in wadiyo mein gunjta hai
hamari mohabbat ka nagma..
tera naam le lekar
dil hai mera dhadakta..

8)

धड़कनों के रास्ते हम
तेरे ही दिल में छुपते हैं..

मोहब्बत की उम्मीद
हम तुमसे भी रखते हैं..

-Santosh

dhadkanon ke raste ham
tere hi dil mein chhupte hain..
mohabbat ki ummid
ham tumse bhi rakhte hain..

Mohabbat Hindi Shayari
Mohabbat Hindi Shayari

Mohabbat Shayari in Hindi

Expressing emotions in a romantic way is always a healthy thing for your love relationship, and that’s exactly what this Mohabbat Shayari in Hindi will do for you.



9)

निगाह-ए-उल्फत से
हम तुम्हें देखते रहे..

अपने ख्वाबों खयालों में
हम मोहब्बत निभाते रहे..

-Vrushali

nigah-e-ulfat se
ham tumhen dekhte rahe..
apne khwabon khayalon mein
ham mohabbat nibhate rahe..

10)

तेरा है करम वरना हमारे
दिल में चाहत ना होती..

तुम्हें ना देखते तो शायद
हमें मोहब्बत भी ना होती..

-Gauri

tera hai karam varna hamare
dil mein chahat na hoti..
tumhen na dekhte to shayad
hamen mohabbat bhi na hoti..

11)

शब ओ रोज़ हमारा
तुम्हें यूं याद करना..

मोहब्बत में हमें
गंवारा नहीं भूलना..

-Vrushali

shab o roj hamara
tumhen yun yad karna..
mohabbat mein hamen
gawara nahin bhulna..

12)

आंखों से इश्क की दवाई
एक बार पिला दे मुझे..

तेरी सच्ची मोहब्बत का
विटामिन दिला दे मुझे..!

-Kavya

aankhon se ishq ki dawai
ek bar pila de mujhe..
teri sachhi mohabbat ka
vitamin dila de mujhe..!



13)

मेरे ख़्वाब में तुझे देखकर
तुमसे और मोहब्बत हो जाती हैं..

यूं तुम्हारी यह मासूमियत देखकर
मेरे दिल की धड़कनें बढ़ जाती हैं..

-Vrushali

mere khwab mein tujhe dekh kar
tumse aur mohabbat ho jaati hai..
yun tumhari yah masumiyat dekhkar
mere dil ki dhadkane badh jaati hai..

Mohabbat Shayari Image -2
Mohabbat Shayari in Hindi
14)

जिंदगी को कामयाबी
तुम ही दिला सकती हो..

हर वक्त मेरी मोहब्बत
तुम आजमा सकती हो..

-Gauri

zindagi ko kamyabi
tum hi dila sakti ho..
har waqt meri mohabbat
tum aazma sakti ho..

shayari mohabbat ki
Shayari Mohabbat ki
15)

मोहब्बत हमारी लाज़वाब होगी
जब तुम हमारी मेहबूबा बनोगी..

है आशिक़ी हमारी बेमिसाल
कहानी हमारी यादगार होगी..

-Vrushali

mohabbat hamari lajawab hogi
jab tum hamari mehbooba banogi..
hai aashiqui hamari bemisal
kahani hamari yaadgar hogi..

16)

माना है उसे जिंदगी का सहारा
दिल उसका एहसान मंद है..

उसकी ये कमाल की मोहब्बत
मुझे आजकल बड़ी पसंद है..

-Santosh

mana hai use jindagi ka sahara
dil uska ehsaanmand hai..
uski ye kamal ki mohabbat
mujhe aajkal badi pasand hai..



Urdu Shayari Mohabbat

Revealing your heart’s secret in the Urdu language feels special.

mohabbat-shayari-image-2-7
Mohabbat Shayari In Hindi

Mohabbat ki Shayari

Mohabbat ki Shayari ko padhkar aur sunkar aapko behad haseen khayal aayenge isme ko shak nahi hai.

17)

देखता हूं जब तुम्हें
खुदको ही भूल जाता हूं..

मोहब्बत में तुम्हारी सनम
मैं अपना काम भूल जाता हूं..

-Vrushali

dekhta hun jab tumhen
khud ko hi bhul jata hun..
mohabbat mein tumhari sanam
main apna kaam bhul jata hun..

18)

महबूब पर है भरोसा पूरा इसलिए
उसने किया वादा मान चुका हूं..

उसके भी दिल में है इरादा
जो मोहब्बत का जान चुका हूं..

-Kavya

mahbub per hai bharosa pura isliye
usne kiya vada maan chuka hun..
uske bhi dil mein hai irada
jo mohabbat ka jaan chuka hun..



19)

अगर हैं तुम्हें मोहब्बत हमसे
तो कभी ना आंखों से आंसू बहाना..

फिक्र हैं तुम्हारी हमें बेइंतहा
खुद को रुलाने से पहले ये याद करना..

-Vrushali

agar hai tumhen mohabbat humse
to kabhi na aankhon se aansu bahana..
fikra hai tumhari hamen beinteha
khud ko rulane se pahle ye yaad karna..

Mohabbat Shayari Image -3
Mohabbat Shayari Image
20)

मेरा प्यार होगा साथ हमेशा,
तू जाएगी अब जहां कहीं..

मेरी नजरों में बस तेरी ही
मोहब्बत है समाई हर कहीं..

-Gauri

mera pyar hoga saath hamesha,
tu jayegi ab jahan kahin..
meri najron mein bas teri hi
mohabbat hai samayi har kahin..

Mohabbat Shayari Image -3
Romantic Mohabbat Shayari
21)

होगी एक कहानी ऐसी भी
मोहब्बत की रवानी ऐसी भी..

कश्ती जब मिलेगी साहिल से
बस वो शाम होगी सुहानी ऐसी भी..

-Vrushali

hogi ek kahani aisi bhi
mohabbat ki rawani aisi bhi..
kashti jab milegi sahil se
bus vo sham hogi suhani aisi bhi..

22)

पागल इस दिल को उसके
दिल से शरारत हो गई..

उसकी बस एक नजर से
हमें मोहब्बत हो गई..

-Santosh

pagal is dil ko uske
dil se shararat ho gai..
uski bus ek najar se
hamen mohabbat ho gai..

23)

मोहब्बत में तुम्हारी हम लूट गए
आवारा आशिक हम बन गए..

गाते हैं गीत अब तुम्हारे हुस्न के
दिल के हाथों हम मजबूर हो गए..

-Vrushali

mohabbat mein tumhari ham lut gaye
aawara aashiq ham ban gaye..
gaate hain geet ab tumhare husn ke
dil ke hathon ham majbur ho gaye..

Mohabbat ki Shayari Hindi
Mohabbat ki Shayari Hindi


24)

वो दिलरुबा मँझधार में मेरा किनारा बन गई..

उसकी मोहब्बत मेरे जीने का सहारा बन गई..

-Kavya

vah dilruba majhdhar mein mera kinara ban gai..
uski mohabbat mere jeene ka sahara ban gai..

Romantic Mohabbat Shayari

Improve your romantic mood with the best collection of Romantic Mohabbat Shayari.

25)

उसके दिल की हर धड़कन से मुझे चाहत है..

उसकी एक मुस्कुराहट से भी मुझे मोहब्बत है..

-Gauri

uske dil ki har dhadkan se mujhe chahat hai..
uski ek muskurahat se bhi mujhe mohabbat hai..

26)

मेरे दिन और रातें हमेशा
तेरी यादों में ही सजती है..

पल पल याद करना भी
अब मुझे मोहब्बत लगती है..

-Santosh

mere din aur raaten hamesha
teri yadon mein hi sajti hai..
pal pal yad karna bhi
ab mujhe mohabbat lagti hai..

27)

मेरी ये आंखें हमेशा एक तेरी
तस्वीर से प्यार करती रहती है..

तेरी मोहब्बत ही मेरे दिल में
हमेशा दस्तक देती रहती है..

-Kavya

meri ye aankhen hamesha ek teri
tasveer se pyar karti rahti hai..
teri mohabbat hi mere dil mein
hamesha dastak deti rahti hai..

28)

मेरे दिल का अब चाहे कुछ भी अंजाम हो..

तेरी मोहब्बत में ही मगर मेरी हर शाम हो..

-Gauri

mere dil ka ab chahe kuch bhi anjaam ho..
teri mohabbat mein hi magar meri har sham ho..

mohabbat ki shayari
Mohabbat ki Shayari
29)

अब हर वक्त पसंद मुझे शरारत है तेरी..

मोहब्बत में फना होने की चाहत है मेरी..

-Santosh

ab har waqt pasand mujhe shararat hai teri..
mohabbat mein fanaa hone ki chahat hai meri..

30)

अपनी जिंदगी बना कर तुम्हे
दिल में रखना चाहता हूं..

तूझसे ही पहली मोहब्बत का
इजहार करना चाहता हूं..

-Kavya

apni jindagi banakar tumhen
dil mein rakhna chahta hun..
tujhse hi pahli mohabbat ka
izhaar karna chahta hun..

31)

सच्ची मोहब्बत का मेरी
किस्सा बन गई हो तुम..

मेरे जिंदगी का खूबसूरत
हिस्सा बन गई हो तुम..

-Gauri

sachhi mohabbat ka meri
kissa ban gai ho tum..
mere jindagi ka khubsurat
hissa ban gai ho tum..

mohabbat-4-love-shayari-romantic-hindi-poetry-2
Shayari on Mohabbat
32)

नजरों में समा कर मुझे अब
अपनी बाहों में भर लो तुम..

मेरी सच्ची मोहब्बत पर बस
एक बार यकीन कर लो तुम..

-Santosh

najron mein sama kar mujhe ab
apni bahon mein bhar lo tum..
meri sacchi mohabbat per bus
ek bar yakin kar lo tum..

33)

तुझे हमेशा के लिए अब मैं
अपना बनाना चाहता हूं..

जानम, तेरी मोहब्बत पर मैं
किताब लिखना चाहता हूं..

-Kavya

tujhe hamesha ke liye ab main
apna banana chahta hoon..
janam, teri mohabbat per main
kitab likhna chahta hun..

मोहब्बत का एहसास शायरी
मोहब्बत का एहसास शायरी


34)

तुझे ना देखूं तबतक दिल में
कसक ये रहती है अधूरी..

मोहब्बत बयां करने के लिए
अल्फाज होते नहीं जरूरी..

-Gauri

tujhe na dekhun tab tak dil mein
kasak ye rahti hai adhuri..
mohabbat bayan karne ke liye
alfaaz hote nahin jaruri..

35)

नाराजगी है खो जाती,
चाहत महसूस होती है..

तेरी मोहब्बत भरी नजर से ही
तो हमें खुशी मिलती है..

-Santosh

narazgi hai kho jaati,
chahat mehsoos hoti hai..
teri mohabbat bhari nazar se hi
to hamen khushi milti hai..

mohabbat-3-love-shayari-romantic-hindi-poetry-1
Bepanah Mohabbat Shayari
36)

सारे गमों की सूरत जैसे अब
जिंदगी से बेखबर हो गई है..

मेरे दिल में तेरी मोहब्बत
कुछ इस कदर बस गई है..

-Kavya

sare gamon ki surat jaise ab
jindagi se bekhabar ho gai hai..
mere dil mein teri mohabbat
kuch is kadar bas gai hai..

37)

मुझ पर चाहत का सुरूर सवार होता..

मोहब्बत में जब भी तेरा दीदार होता..

-Gauri

mujh per chahat ka suroor sawar hota..
mohabbat mein jab bhi tera didar hota..

38)

दिल में है जो चाहत उसका
भरोसा कैसे दिलाए हम..

जानेमन, मोहब्बत कितनी है
अब तुम्हें क्या बताएं हम..

-Kavya

dil mein hai jo chahat uska
bharosa kaise dilaye ham..
jaaneman, mohabbat kitni hai
ab tumhen kya batayen ham..

mohabbat-3-love-shayari-romantic-hindi-poetry-2
Mohabbat Shayari for Girls


39)

चाहत को यूं शर्मसार
मत कर ओ दीवाने..

सच्ची मोहब्बत की गली में
तबाह हो चुके है परवाने..

chahat ko yun sharmsar
mat kar o deewane..
sacchi mohabbat ki gali mein
tabah ho chuke hain parwane…

40)

इस शिद्दत से की है मोहब्बत मैंने
कभी भुला नहीं सकता तुझे..

रूठ जाऊं जब भी दोस्तों से, कसम
तुम्हारी देकर मना लेते है मुझे…

is shiddat se ki hai mohabbat maine
kabhi bhula nahin sakta tujhe..
ruth jaaun jab bhi doston se, kasam
tumhari dekar mana lete hain mujhe…

41)

होती है मोहब्बत की
वफ़ा पर दार-ओ-मदार..

जिस्म से हटकर रूह से हो,
तो नहीं कुछ इससे शानदार..

hoti hai mohabbat ki
wafa par daromadar..
jism se hatkar ruh se ho
to nahin kuchh isase shaandar…

mohabbat-shayari-image-3-7
Mohabbat Shayari
42)

तेरी नगरी में सुबह, तेरी गली में शाम हो
लबों पर तेरे इलावा ना किसी का नाम हो..

तेरे लब खिल उठे मोहब्बत से पढ़ते ही
तेरे हुस्न पर बयाँ मुझ से ऐसा कलाम हो..

-Moeen

teri nagari mein subah, teri gali mein shyam ho
labo per tere elava na kisi ka naam ho..
tere lab khil uthe mohabbat se padhte hi
tere husn per bayaan mujhse aisa kalam ho..

43)

मेरी मोहब्बत का हसीं ताजमहल हैं तू
सरयू किनारे खिलता पाकीज़ा कँवल हैं तू..

तेरी अदाओं से पाए हैं पहलू शायरी के
इकबाल की शायरी, गालीब की ग़ज़ल हैं तू..

-Moeen

meri mohabbat ka hasin tajmahal hai tu
sarayu kinare khilta pakeezah kamal hai tu..
teri adaon se paaye hai pehlu shayari ke
iqbal ki shayari, ghalib ki gazal hai tu..

44)

खुद से भी पहले तेरा नाम लिखते हैं
तेरी गलीयों में ऊँचे ऊँचे बेमोल बिकते हैं..

मोहब्बत सजाती हैं फ़िज़ाओं की बेरंग हथेली
कलीया मुस्कुराती हैं दिलों में फूल खिलते हैं..

-Moeen

khud se bhi pahle tera naam likhte hain
teri galiyon mein unche unche bemol bikte hain..
mohabbat sajati hai fizaon ki berang hatheli
kaliyan muskurati hai dilon mein phool khilte hain..

Dardbhari Mohabbat Shayari
Dardbhari Mohabbat Shayari
45)

महफ़िल मोहब्बत की होगी हुस्न का बयाँ होगा
उन की आमद होगी जन्नत सा समाँ होगा..

पहली मुलाकातों में तेरा शरमाना लाज़िम था
किसे ख़याल था चाहतों का सिलसिला होगा..

-Moeen

mahfil mohabbat ki hogi husna ka bayaa hoga
unki aamad hogi, jannat sa sama hoga..
pehli mulakaton me tera sharmana lajim tha
kise khayal tha chahton ka silsila hoga..

shayari mohabbat
46)

खुदा ने दुसरा कोई तुझ सा बनाया ही नहीं
तेरे सिवा कोई और खयालों में आया ही नहीं..

देते रहे कई लोग मोहब्बत से दिल पर दस्तक
तेरे सिवा किसी को दिल में बसाया ही नहीं..

-Moeen

khuda ne dusra koi tujhsa banaya hi nahin
tere siva koi aur khayalon mein aaya hi nahin..
dete rahe kai log mohabbat se dil par dastak
tere siva kisi ko dil mein basaaya hi nahin..

47)

तुझ से बिछड़ कर जीना किसे गवारा हैं
वो लड़की मेरे हर दर्द का मुदावा हैं..

जिसे ना हो मोहब्बत पर यक़ीं ज़माने में
तेरी गलीयों में आए सबूत तेरा दीवाना हैं..

*मुदावा : इलाज

-Moeen

tujhse bichhad kar jina kis gawara hai
vah ladki mere har dard ka mudava hai..
jise na ho mohabbat per yakin jamane mein
teri galiyon mein aaye saboot tera deewana hai..

48)

तेरे आँचल के उड़ने का हैं सबब कोई
मेरे खयालों में जागता हैं हर शब कोई..

मैं ने मोहब्बत तुझ पर तमाम कर दी
मेरी खातिर बुलंद करता हैं दस्ते तलब कोई..

*दस्ते तलब : दुआ के लिए हाथ उठाना

-Moeen

tere anchal ke udane ka hai sabab koi
mere khyalon mein jagata hai har shab koi..
maine mohabbat tujh par tamam kar di
meri khatir buland karta hai daste talab koi..

urdu shayari mohabbat
Urdu Shayari Mohabbat
49)

चेहरा हैं तेरा या कोई सुबह का तारा
अंगड़ाई लेना तेरा कायनात का हसीं नज़ारा..

मैं भटकता फिरता हूँ आवारा हवा की तरह
तू हैं बहता हुआ मोहब्बत का धारा..

-Moeen

chehra hai tera ya koi subah ka tara
angdaai lena tera kaynat ka hasin najara..
main bhatakta phirta hoon awara hawa ki tarah
tu hai bahta hua mohabbat ka dhara..

50)

मंज़िल की तरफ बुलाती दिलनशीं आवाज़ हैं तू
कायनात के राज़ों में से एक राज़ हैं तू..

तू साज़ हैं लाफ़ानी मोहब्बत का ज़माने में
मेरी चाहत, मेरा इंतिखाब, मेरा नाज़ हैं तू..

*लाफ़ानी : अमर

-Moeen

manzil ki taraf bulati dilnasheen awaaz hai tu
kaynat ke rajon mein se ek raaz hai tu..
saaz hai lafaani mohabbat ka jamane mein
meri chahat, mera intekhaab, mera naaz hai tu..

mohabbat-2-love-shayari-romantic-hindi-poetry-1
Mohabbat Shayari in Urdu
51)

तुझे देख कर करते हैं क़याम लोग सहेराई
तेरे खयालों में खोया रहता हैं तेरा शैदाई..

कायनात के ज़र्रे ज़र्रे ने झुकाई निगाहें अपनी
तेरे दिल में मेरी मोहब्बत ने ली जो अंगड़ाई..

*क़याम : ठहरना
*सहेराई : रेगिस्तानों में रहने वाले लोग

-Moeen

tujhe dekh kar karte hai qayam log saheraai
tere khayalon mein khoya rahata hai tera shaidaai..
kaynaat ke zarre zarre ne jhukai nigahen apni
tere dil mein meri mohabbat ne li jo angadai..

52)

हमने तो एक ही शख्स पर
खत्म कर दी थी चाहत..

कहा मालूम था ये मोहब्बत ही
दिल को दिलाएगी इतनी आहत..

-Rasika

humne to ek hi shakhs par
khatm kar di thi chahat..
kahan maloom tha yah mohabbat hi
dil ko dilaayegi itni aahat…

mohabbat-2-love-shayari-romantic-hindi-poetry-2
Mohabbat Shayari for Lover
53)

मोहब्बत से खिले हुए फूल की
तरह नाजुक था दिल उनका..

बड़ा सख्त कर गया मुझे
उनका यूं दबे पांव चले जाना..

-Kriti

mohabbat se khile huye phool ki
tarah nazuk tha dil unka..
bada sakht kar gaya mujhe
unka yu dabe paon chale jana…

54)

मोहब्बत से अपनी जिदंगी
बड़ी रंगीन लगने लगती है..

पर जब उसका रंग फिका पड़
जाए तो बेरंग सी हो जाती है…

-Santosh

mohabbat se apni zindagi
badi rangeen lagne lagti hai..
per jab uska rang fika pad
jaaye to berang si ho jaati hai…

55)

दायरों की मोहब्बत का
शौक किसे है साहब..

मेरा आशिक़ भी तो
सैलाब-ए-सागर है..!

-Rasika

daayron ki mohabbat ka
shauk kise hai sahab..
mera aashiq bhi to
sailab e sagar hai..!

Jakhmi Dil ki Mohabbat Shayari
Jakhmi Dil ki Mohabbat Shayari


56)

मोहब्बत ने हमारे कुछ
ऐसा किया है असर..

बड़े ही प्यार से हो रहे
हम दुनिया से बेखबर..

-Kriti

mohabbat ne hamare kuchh
aisa kiya hai asar..
bade hi pyar se ho rahe
ham duniya se bekhabar..

57)

एक कतरा तेरे अश्क का
मुझे लगता है समुंदर..

मोहब्बत होगी बेपनाह
चाहत होगी इस कदर..

-Santosh

ek katra tere aashq ka
mujhe lagta hai samandar..
mohabbat hogi bepanah
chahat hogi is kadar..

mohabbat-sad-shayari
Mohabbat Sad Shayari
58)

दिल के तार इस कदर छिड़ जाते है,
जरूरी नहीं मोहब्बत हो..

कभी वह दिल दुखा देते हैं,
जरूरी नहीं बेवफा हो..

-Rasika

dil ke taar is kadar chhid jaate hain,
jaruri nahin hai muhabbat ho..
kabhi vah dil dukha dete hain
jaruri nahin bewafa ho…

59)

ना दीजिए नसीहत हमें
मोहब्बत और बेवफाई की..

क्या पता किसी ने दोस्ती कि,
वसीयत लिखी हो हमारे नाम की..

-Kriti

na dijiye nasihat hamen
muhabbat aur bewafai ki..
kya pata kisi ne dosti ki,
vasiyat likhi ho hamare naam ki..

60)

उन्हें कहना पसंद है
और हमें सुनते रहना..

मोहब्बत से है दूर भागना
पर फिर भी है साथ निभाना..

-Santosh

unhen kehna pasand hai
aur hamen sunte rahana..
mohabbat se hai dur bhagna
par fir bhi hai saath nibhaana…

61)

हर किसीसे तो नहीं हो
सकती सच्ची मोहब्बत..

पर तू वो शख्स है
जो मुझमे बसा हुआ है..

-Rasika

har kisi se to nahin ho
sakti sacchi mohabbat..
par tu wo shakhs hai jo
mujhme basa hua hai..

62)

मोहब्बत को सुनते हुए,
और निभाते हुए देखा है..

तुझे देखकर पहली बार
मोहब्बत को महसूस किया है..

-Kriti

mohabbat ko sunte huye,
aur nibhate hue dekha hai..
tujhe dekh kar pahli bar
mohabbat ko mehsus kiya hai..

mohabbat-1-aapke-jakhmi-dil-par-marham-jaisi-sad-shayari-2
Mohabbat Shayari for Boyfriend
63)

तेरी हर एक बात से
मोहब्बत झलकती है..

ऐसा लगता है की
तू सिर्फ मेरे लिए ही बना है..

-Santosh

teri har ek baat se
mohabbat jhalakti hai..
aisa lagta hai ki tu sirf
mere liye hi banaa hai..

64)

हमारा यूं चैन चुरा कर
अच्छा नहीं किया आपने..

इसकी सजा तो बेइंतेहा
मोहब्बत मिलनी है आपको..

-Rasika

hamara yu chain chura kar
achcha nahin kiya aapane..
iski saja to be inteha
mohabbat milani hai aapko…

65)

कुछ तो खास नशा है
उनकी मोहब्बत में..

जो हमें मजबूर करता है
ये दुनिया भुलाने में..

-Kriti

kuchh to khaas nasha hai
unki mohabbat mein..
jo hamen majbur karta hai
yah duniya bhulane mein…

66)

कुछ हम थे उदास
और कुछ हुए थे खफा..

सबकुछ बदल रहा था,
लेकिन जो नहीं बदली
वो थी मोहब्बत-ए-वफ़ा..

-Santosh

kuchh ham the udaas
aur kuchh hue the khafa..
sab kuchh badal raha tha,
lekin jo nahin badli
vo thi mohabbat e wafa…

67)

मुझे खींच ही लेती है
मोहब्बत उसकी,

वरना कई बार कह चुका हूं,
आयिंदा बात ना कर मुझसे..

-Rasika

mujhe khinch hi leti hai,
mohabbat uski,
varna kai bar kah chuka hu
aainda baat na kar mujhse…

68)

पत्थर है वो
जो आराम से है..

बेचैनी तो मोहब्बत
करने वालो को है..

-Kriti

patthar hai vo
jo aaram se hai,
bechaini to mohabbat
karne walon ko hai…

69)

चुप इसलिए नहीं
के लफ़्ज़ों की कमी है..

चुप इसलिए है,
के मोहब्बत बाकी है…!

-Santosh

chup isliye nahin
ke lafzon ki kami hai,
chup isliye hai,
ke mohabbat baki hai…!

Mohabbat ki Purani Yaade Shayari
Mohabbat ki Purani Yaade Shayari

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Conclusion

So what? Have you fallen in love with this Mohabbat Shayari? Tell us, what you think. Sharing this blog post with your close one can make him or her feel romantic. You may follow us on Facebook for more updates. Thank you!

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.



3 Comments

  1. मोहब्बत के सारे राज और अंदाज़ झलक रहे है यह इस शायरी में ।

  2. स्टायलाईज्ड व्हॉइस ऑफ शायरी सुकून ???
    कीप इट आकाशजी???

Leave a Reply

Your email address will not be published.