Urdu Poetry -2: Sad Shayari On Love In Hindi

Urdu Poetry : अपने दिलबर को याद करते हुए आशिक उसकी राह तकता रहता है. लेकिन उसका महबूब आप शायद उससे मिलने के लिए वापस लौट कर नहीं आने वाला है. क्योंकि उसकी दिल को अब कोई और ही जच रहा है.

लेकिन आशिक का दिल इस बात को मानने के लिए कतई तैयार नहीं है. उसे तो हमेशा ऐसा ही लगता है कि शायद उसका महबूब से मिलने के लिए आज या कल जरूर आएगा. लेकिन अपने दिलबर के बारे में कुछ भी अनाप-शनाप सोचने के लिए उसका दिल बिल्कुल भी राजी नहीं होता है. शायद इसी बात को सच्चे आशिक मोहब्बत का नाम देते हैं.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


हमारी इन दर्द भरी उर्दू शायरीओं को Akash Borde इनकी आवाज में सुनकर महबूब की यादों में खो जाना चाहोगे!

क्योंकि एक मोहब्बत ही ऐसी Sad Shayari On Love In Hindi की दास्तान होती है. जहां पर बस विश्वास से ही जिंदगी चलती है. लेकिन जब यही विश्वास पूरी तरह से टूट जाता है. तब उसके जिंदगी भी जैसे समंदर के तूफान में डूब जाती है. हम आज Urdu Poetry की मदद से आपको इस बात को ही बताना चाहते हैं.

Table of Content

  1. Urdu Poetry
  2. Urdu Poetry Love
  3. Urdu Poetry In Hindi
  4. Urdu Poetry SMS
  5. Urdu Poetry Facebook
  6. Conclusion

Urdu Poetry

1)

हमें याद तेरी हर बात हैं आज भी
दिल में बसी तेरी चाहत हैं आज भी..

चैन से सोने नहीं देती कभी तेरी सदा
आँखों में फिरती तेरी सूरत हैं आज भी..

-Moeen

hamen yaad teri har baat hai aaj bhi
dil mein basi teri chahat hai aaj bhi..
chain se sone nahin deti kabhi teri sada
aankhon mein phirti teri surat hai aaj bhi..

जब अपने महबूब का ख्याल किसी आशिक को सताता है. तब उसे देखने के लिए जैसे बेताब हो उठता है. लेकिन उसकी आंखों को अपने यार की तस्वीर दिखाई नहीं देती है. और वह उसके दिल में बसी चाहत को महसूस कर ही चुप होता है.

और अपने दिल को जैसे-तैसे शांत करने की कोशिश करता है. उसे अपने दिलबर की हर एक बात हमेशा याद आती रहती है. और वह रातों कि नींद भी अपने दिलबर के सिवा ले नहीं पाता है.

2)

लौट आ मेरे नैनों की प्यास बुझा दे
दिल हैं उदास आज मुझे तू सदा दे..

नब्ज़ थमने लगी मरीज़े इश्क की तेरे
फिर ना लौटेंगे ज़रा सूरत अपनी दिखा दे..

-Moeen

laut ke mere naino ki pyaas bujha de
dil hi udaas aaj mujhe tu sada de..
nabj thamne lagi mareez e ishq ki tere
fir na laut ayenge jara surat apni dikha de..

Urdu Poetry अपने महबूब की यादों का मंजर आशिक को जीने नहीं देता है. लेकिन उसकी नब्ज भी तो सिर्फ अपने महबूब के वजह से ही बहती रहती है. और वह अपने महबूब के दीदार के लिए जैसे तड़प रहा है. उसे अब किसी भी इंसान के किसी भी विचार का कोई लेना-देना नहीं है.

और वह हमेशा अपने दिलबर की यादों में खोया हुआ उससे मिलने की ख्वाहिश करता है. उसे शायद यह भी पता होता है कि उसका मिलन अपने महबूब से नहीं होने वाला. लेकिन फिर भी उसकी उम्मीद हमेशा कायम रहती है.

Urdu Poetry Love
Urdu Poetry Love

Urdu Poetry Love

3)

एक बेवफा को हम ने अपना समझा था
ज़माने में यारों शायद यही कसूर मेरा था..

वो बिछड़ा तो बादल रो पड़ा था संग मेरे
मौसम भी नम आँख लिए खामोश खड़ा था..

-Moeen

ek bewafa ko humne apna samjha tha
jamane mein yaaron shayad yahi kasur mera tha..
vah bichhada to badal ro pada tha sang mere
mausam bhi nam aankhen liye khamosh khada tha..

आशिक का महबूब उसकी जिंदगी में उसे धोखा देता है. और किसी दूसरे इंसान की जिंदगी में चला जाता है. तब उस आशिक के दिल पर क्या बात बीत रही होगी. इस बात को आप और हम जैसे लोग सोच भी नहीं पाते है.

क्योंकि उसके जैसे प्यार के धोखे हर किसी को नहीं मिलते हैं. और उन दुखों को वह आशिक छिपा भी नहीं पाता है. इस वजह से उसके साथ में यह सारा आसमान और यह फिजा भी जैसे शोक मनाती है.

4)

साथ तेरे लम्हा नहीं एक दौर जिया हैं
बाद तेरे सिर्फ तन्हाई ने साथ दिया हैं..

आज तबीयत हैं उदास आँखों में नमी सी
शायद फिर ज़ालीम ने मेरा नाम लिया हैं..

-Moeen

sath tere lamha nahin ek daur jiya hai
bad tere sirf tanhai ne sath diya hai..

aaj tabiyat hai udaas aankhon mein nami si
shayad fir jalim ne mera naam liya hai..

Urdu Poetry Love की मदद से यार के साथ बिताए पल याद आएंगे. क्योंकि अपने दिलबर के साथ आशिक जब भी कुछ समय बिताता है. तो जैसे उसके जिंदगी का वक्त कुछ पल के लिए थम सा जाता है. और वह उन्हीं पलों में अपनी सारी जिंदगी जी लेता है.

उसे ना भविष्य की कोई चिंता होती है. और ना ही उस वक्त अपने साथ भूत में क्या हुआ था इस बात की फिक्र होती है. वह बस वर्तमान में अपने दिलबर के साथ ही जी रहा होता है. लेकिन उसका महबूब भी उसे अपनी बेवफाई का जख्म बार-बार देता रहता है.

Urdu Poetry In Hindi

5)

मुद्दतें हुई तेरे खयालों में डूब चूका हुँ
दोस्त बताते हैं मैं सदीयों बाद हँसा हुँ..

ज़माना जब कभी दुखाएगा दिल तेरा
रो पड़ेगी वो कहे कर मैं तेरी दुआ हुँ..

-Moeen

muddate hui tere khayalon mein doob chuka hun
dost batate hain main sadiyon bad hasa hun..
jamana jab bhi kabhi dukhayega dil tera
ro padegi vah kah kar main teri dua hun..

अपने महबूब के प्यार में कोई आशिक किस कदर डूब जाता है. इस बात को उस प्रेमी के स्वभाव से पता लगाया जा सकता है. इससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण है यह बात होती है. जब वह अपने दुख को जमाने के साथ बांटना चाहता है. वह अपने दोस्तों को भी अपनी जिंदगी की समस्याओं के बारे में बताता है.

तब उसके दोस्त भी उसे कई मुद्दतों बाद मिलते हैं. और इस वजह से वह थोड़ा सा अपनी जिंदगी में खुश हो जाता है. क्योंकि उसे पता है कि उसकी दिन रुक दिलरुबा भी उसके प्यार को ठोकर मार खुद भी रोएगी. और शायद अपने नसीब पर रोती हुई जिंदगी ही उसे मिलेगी.

6)

शायरी में जीत पाना हमसे यूं नहीं है आसान काम..
हर लफ्ज़ अपना लिखते, हुए हैं मोहब्बत में हम बदनाम..

shayari mein jeet pana ham se yun nahin hai aasan kam..
har lafz apna likhate, hue hain mohabbat mein ham badnaam..

Urdu Poetry In Hindi को सुनकर हर कोई आशिक के दिल की बात समझ सकेगा. क्योंकि प्यार में पागल आशिक अपने दिल की सच्ची बातों को ही हमेशा बताता रहता है. लेकिन कई बार लोग उसकी इन सच्ची बातों को शायरी समझ बैठते हैं.

और इसी वजह से वह भी आप लोगों को हिदायत देना चाहता है. चाहे लोग उसके शायराना अंदाज के कायल है. लेकिन फिर भी कोई भी उसके इस अंदाज से आज तक जीत नहीं पाया है. और ना ही कोई उसे जीत पाएगा. क्योंकि वह अपने सच्चे प्यार की दास्तां हीं उस शायरी में कहता है.

Urdu Poetry SMS

7)

शहर का तेरे मौसम हमें बड़ा प्यारा लगे
चुरा लूंगा मैं एक शाम अगर तुझे बुरा ना लगे..

हो अगर तेरे बस में तो भुला देना मुझे
तुझे भुलाने में तो मुझे शायद जमाना लगे..

shahar ka tere mausam hamen bada pyara lage
chura lunga main ek sham agar tujhe bura na lage..
ho magar tere bus mein to bhula dena mujhe
tujhe bhulane mein to mujhe shayad jamana lage..

अपने महबूब के प्यार में डूबा हुआ आशिक हमेशा उसे याद करता है. लेकिन इस बात की खबर तक उसके महबूब को नहीं होती है. लेकिन फिर भी उसके सपनों के शहर में जाकर उसके साथ समय बिताना चाहता है.

और कुछ शामें भी चुराकर अपनी जिंदगी में छुपाना चाहता है. लेकिन जब से उसके मन को महबूब ने उसका दिल तोड़ा है. वह खुद को भी अब माफ नहीं कर पा रहा है. और इसी वजह से वह अपने उस बेवफा महबूब को भी शायद अब भुला नहीं पाएगा.

8)

आज तनहा हुए तो एहसास हुआ
कई घंटे होते हैं एक दिन में..!

aaj tanha hue to ehsaas hua
kai ghante hote hain ek din mein..!

Urdu Poetry SMS का असर आशिक की जिंदगी पर बहुत गहरा होता है. क्योंकि वह जब अपने टूटे हुए प्यार को याद करता है. तब आपने मन ही मन हो बहुत ज्यादा और होने लगता है.

तनहाई जैसे उसकी जिंदगी का कभी न मिटने वाला हिस्सा हो गई है. और तभी से उसे अपनी जिंदगी का हर एक पहलू अच्छी तरह से याद आ रहा है. और 1 दिन में कितना समय होता है. इस बात को भी वह आप एहसास कर रहा है. क्योंकि उसका समय आप अपने दिलबर के सिवा कट ही नहीं रहा है.

Urdu Poetry Facebook

9)

दर्द देना किसी को आदत नहीं है हमारी
आज भी अपने दिल में हम वह एहसास रखते हैं..

दिल अपना बदले हुए तो आप हैं
एक हमें छोड़ बाकी सब याद रखते हैं..

dard dena kisi ko aadat nahin hai hamari
aaj bhi apne dil mein ham vah ehsas rakhte hain..
dil apna badle huye to aap hai
ek hamen chhod, baki sab yad rakhte hain..

अपने महबूब की धोखेबाजी को देखकर आशिक का दिल बहुत दुखता है. और उसे अपनी पुरानी जिंदगी ही याद आ जाती है. जब वह अकेला जीता था. तब किसी की भी दिल को कभी भी उसने दुखाया नहीं था. और ना ही किसी गम में पड़े इंसान को उसने अकेला छोड़ा था.

लेकिन जब से उसने अपने प्यार में धोखा खाया है. हमेशा अपने महबूब को इस बात की नसीहत देना चाहता है. चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन अपने दिल से लगा कर इंसान को कभी भूलना नहीं चाहिए. लेकिन यह बात अब उसका महबूब कभी समझ नहीं पाएगा.

10)

अब हुआ है तहजीब के खिलाफ सच बोलना
झूठ अब जिंदगी के सलीके में आ गया..

ab hua hai tehzeeb ke khilaf sach bolna
jhooth ab jindagi ke salike me aa gaya..

Urdu Poetry Facebook मदद से अपने महबूब की यादों को जलाना चाहोगे. क्योंकि अब आपको जिंदगी की सच्चाई का पूरी तरह से पता चल चुका है. और किस तरह से झूठ का पर्दाफाश होता है.

इस बात को भी आप अब पूरी तरह से जान चुके हो. और सारी दुनिया को भी आप हमेशा यही हिदायत देना चाहते हो. चाहे कितनी भी बड़ी बात क्यों ना हो. लेकिन हमें अपनी जिंदगी में झूठ का सहारा कभी नहीं लेना चाहिए.

Conclusion

इन Sad Shayari On Love In Hindi को सुनकर आप भी अपने बेवफा सनम को जरूर याद करोगे. क्योंकि इन शायरियों का दर्द आपके दिल में हमेशा से उभर रहा है. और आप इसे ज्यादा दिन तक छुपाए नहीं रख सकते.

उर्दू पोएट्री पर लिखी गयी हमारी ये पोस्ट भी आपको अच्छी लगेगी

  1. Poetry In Urdu -1: Parveen Shakir Shayari ka best collection
  2. Poetry In Urdu Love -2: Nida Fazli Popular Shayari Writings
  3. Love Poetry In Urdu -1: Romantic Shayari For Gf In Hindi
  4. Love Poetry In Urdu -2: Top 10 Romantic 2 Line Shayari
  5. Urdu Poetry SMS -1: Gam Bhari Yadon Ki Kahani

हमारी इन प्यारी सी Urdu Poetry -2 को सुनकर आप भी अपने यार की यादों को दिल में जगा पाओ. तो हमें नीचे comment box में comments करते हुए जरुर बताएं!

इसी तरह से आप हमारे Telegram channel को भी join कर सकते हैं, ताकि आपको रोज नायाब शायरियां मिल सकें. इसके लिए अपने Telegram में सर्च करें शायरी सुकून या @shayarisukun और हमारे चैनल को तुरंत join करें. 24 घंटो के भीतर आपकी सेवा चालू होगी.

आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

2 thoughts on “Urdu Poetry -2: Sad Shayari On Love In Hindi”

  1. वाह बहुत बढिया!!
    नायब शायरीया और बेहतरीन script आप की दमदार आवाज में सून कर बहुत अच्छा लगा आकाश जी!

    शुभेच्छा!
    कल्याणी

Leave a Comment