Love

Read, Listen to the Most Popular 45+ Gulzar Shayari in Hindi

If you are a fan of the most renowned Indian Shayari writer Gulzar Sahab, then congrats my friend, here, you can listen and read to Gulzar Shayari in Hindi. You will understand the deep meaning of Shayari written by Gulzar Sahab with the voice of Shayari Sukun’s voice-over artist.

आपको जब भी दिलबर की याद सताती है. आपको गुलज़ार साहब की शायरियां हमेशा याद आती है. क्योंकि उन शायरियों का वास्ता आपकी जिंदगी से जुड़ा है. और उसी के ताल्लुकात आपकी जिंदगी सवारते हैं. जो बात आपकी खुशहाल एवं दर्दभरी ज़िन्दगी का जरिया होती है.

Gulzar Shayari in Hindi Image
Gulzar Shayari in Hindi Image

Listen to Gulzar Shayari | Voice-Over: Vanshika Navlani




हम भी आपके इन्हीं जज्बातों को Shayari Sukun के मंच पर लाना चाहते हैं. हमें यकीन है कि आज कि यह 2 Line Gulzar Shayari आपको बहुत पसंद आएगी. साथ ही आप इनके फोटोज भी जरूर डाउनलोड करें. और अपने दोस्तों के साथ इन्हें शेयर करना बिल्कुल ना भूलें.


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏



यूँ भी इक बार तो होता कि समुंदर बहता..
कोई एहसास तो दरिया की अना का होता..

yun bhi ek bar to hota ki samander bahtaa..
koi ehsas to dariya ki anaa ka hota..

ये रोटियाँ हैं ये सिक्के हैं और दाएरे हैं..
ये एक दूजे को दिन भर पकड़ते रहते हैं…

ye rotiyan hai yeh sikke hai aur daayre hai..
yeh ek duje ko din bhar pakadte rahte hain..



2 Line Gulzar Shayari
2 Line Gulzar Shayari
तन्हाई की दीवारों पर
घुटन का पर्दा झूल रहा हैं..

बेबसी की छत के नीचे,
कोई किसी को भूल रहा हैं..

tanhaai ki diwaaron par
ghutan ka pardaa jhul raha hai..
bebasi ki chhat ke niche
koi kisi ko bhool raha hai..

तुम्हारे ख़्वाब से हर शब लिपट के सोते हैं..
सज़ाएँ भेज दो हम ने ख़ताएँ भेजी हैं..

tumhare khwab se har shab lipat ke sote hain..
sajaayen bhej do humne khataayen bheji hai…

वो उम्र कम कर रहा था मेरी..
मैं साल अपने बढ़ा रहा था..

woh umra kam kar rahaa tha meri..
main saal apne badha raha tha..

Gulzar Shayari On Life में अपने आदत की जुस्तजू बताना चाहोगे.

Gulzar Shayari in Hindi
Gulzar Shayari in Hindi
हाथ छूटें भी तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते..
वक़्त की शाख़ से लम्हे नहीं तोड़ा करते..

haath chhute bhi to rishte nahin toda karte..
waqt ki shaakh se lamhe nahin toda karte…



आदतन तुम ने कर दिए वादे..
आदतन हम ने ए'तिबार किया..

aadatan tumne kar diye vaade..
aadatan humne aitbaar kiya..

कल का हर वाक़िआ तुम्हारा था..
आज की दास्ताँ हमारी है..

kal ka har waqia tumhara thaa..
aaj ki dastaa hamari hai..

Gulzar Shayari in Hindi Image
Gulzar Shayari in Hindi Image
कितनी लम्बी ख़ामोशी से गुज़रा हूँ..
उन से कितना कुछ कहने की कोशिश की..

kitni lambi khamoshi se guzra hoon..
unse kitna kuchh kahane ki koshish ki..

कभी तो चौंक के देखे कोई हमारी तरफ़..
किसी की आँख में हम को भी इंतिज़ार दिखे..

kabhi to chaunk ke dekhe koi hamari taraf..
kisi ki aankh mein humko bhi intezar dikhe..



Life Gulzar Shayari
Life Gulzar Shayari
काई सी जम गई है आँखों पर..
सारा मंज़र हरा सा रहता है..

kaai si jam gai hai aankho per..
saara manjar haraa sa rehata hai..

उठाए फिरते थे एहसान जिस्म का जाँ पर..
चले जहाँ से तो ये पैरहन उतार चले..

uthai phirte the ehsan jism ka jaa par..
chale jahan se to yah pairahan utaar chale..

सहर न आई कई बार नींद से जागे..
थी रात रात की ये ज़िंदगी गुज़ार चले..

seher na aayi kayi baar neend se jaage..
thi raat raat ki ye jindagi gujaar chale..

Short Gulzar Shayari Urdu
Short Gulzar Shayari Urdu
कोई न कोई रहबर रस्ता काट गया..
जब भी अपनी राह चलने की कोशिश की…

koi na koi rehbar rastaa kaat gaya..
jab bhi apni raah chalne kee koshish ki



मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में,
बस हम गिनती उसी की करते है
जो हासिल ना हो सका..!

milataa to bahut kuch hain is jindagi me,
bus hum ginti usi ki karte hain, jo haasil na ho saka..!

Gulzar Shayari In Hindi की मदद से वक्त की आदत की बात बताना चाहोगे..

वक़्त रहता नहीं कहीं टिक कर..
आदत इस की भी आदमी सी है…

waqt rehta nahin kahin tik kar..
aadat iski bhi aadami si hai..

कोई अटका हुआ है पल शायद..
वक़्त में पड़ गया है बल शायद..

koi atkaa hua hai pal shaayad..
waqt mein pad gayaa hai bal shaayad..

आ रही है जो चाप क़दमों की..
खिल रहे हैं कहीं कँवल शायद..

aa rahi hai jo chaap kadmon ki..
kheel rahe hain kahin kanwal shayad..



अच्छी किताबें और अच्छे लोग
तुरंत समझ में नहीं आते हैं..
उन्हें पढना पड़ता हैं..

acchi kitabe aur acche log
turant samajh nahi aate hai..
unhen padhnaa padtaa hai…

Sad Shayari by Gulzar
Sad Shayari by Gulzar
कुछ अलग करना हो तो भीड़ से हट के चलिए..
भीड़ साहस तो देती हैं मगर पहचान छिन लेती हैं..

kuchh alag karna ho to bhid se hatke chaliye..
bheed saahas to deti hai magar pehchaan cheen leti hai..

यादों की बौछारों से जब पलकें भीगने लगती हैं..
सोंधी सोंधी लगती है तब माज़ी की रुस्वाई भी..

yadon ki bauchharon se jab palke bheegne lagti hai..
sondhi sondhi lagti hai tab maji ki ruswai bhi..

आँखों के पोछने से लगा आग का पता..
यूँ चेहरा फेर लेने से छुपता नहीं धुआँ..

aankhon ke pochhne se laga aag ka pata..
yu chehra fer lene se chhupta nahin dhuwa..



दिल पर दस्तक देने कौन आ निकला है..
किस की आहट सुनता हूँ वीराने में..

dil par dastak dene kaun aa nikala hai..
kis ki aahat sunta hun veerane mein..

Listen to Gulzar Shayari on Life | Voice-Over: Aniruddh



Quotes By Gulzar में अपने जिंदगी के तन्हा सफर को बयां करना चाहोगे..

Life Gulzar Shayari
Life Gulzar Shayari
मैं चुप कराता हूँ हर शब उमडती बारिश को..
मगर ये रोज़ गई बात छेड़ देती है..

main chup karata hun har shab umadti barish ko..
magar yeh roj gai baat chhed deti hai..

ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा..
क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा..

zindagi yun hui basar tanha..
kafila sath aur safar tanha..

Shayari by Gulzar in Urdu
Shayari by Gulzar in Urdu
एक सन्नाटा दबे-पाँव गया हो जैसे..
दिल से इक ख़ौफ़ सा गुज़रा है बिछड़ जाने का..

ek sannata dabe paaon gaya ho jaise..
dil se ek khauff sa gujara hai bichhad jane ka..

चंद उम्मीदें निचोड़ी थी तो आहें टपकीं..
दिल को पिघलाएँ तो हो सकता है साँसें निकलें..

chand ummide nichhodi thi to aahe tapki..
dil ko pighlaaye to ho sakta hai saanse nikale…

Love Shayari Gulzar
Love Shayari Gulzar

Gulzar Shayari की मदद से अपनी आंखों की नमी छुपाना चाहोगे.

कैसे करें हम ख़ुद को तेरे प्यार के काबिल..
जब हम बदलते हैं,तो तुम शर्ते बदल देते हो..!

kaise karen ham khud ko tere pyar ke kabil..
jab ham badalte hain to tum sharte badal dete ho..!

ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी थी..
उन की बात सुनी भी हमने अपनी बात सुनाई भी..

khamoshi ka hasil bhi ek lambi si khamoshi thi..
unki baat suni bhi humne apni baat sunai bhi..

शाम से आँख में नमी सी है..
आज फिर आप की कमी सी है..

shaam se aankh mein nami si hai..
aaj fir aapki kami si hai..

Gulzar Shayari on Life
Gulzar Shayari on Life
आँखों से आँसुओं के मरासिम पुराने हैं..
मेहमाँ ये घर में आएँ तो चुभता नहीं धुआँ..

aankhon se aansuon ke marasim purane hain..
mehman yeh ghar mein aaye to chubhta nahin dhuwa..

Listen to Love Shayari by Gulzar | Voice-Over: Avalokita Pandey



2 Line Gulzar Shayari की मदद से अपने यार के दिल को तड़पाना चाहोगे..

तुम्हारी ख़ुश्क सी आँखें भली नहीं लगतीं..
वो सारी चीज़ें जो तुम को रुलाएँ, भेजी हैं..

tumhari khushk si aankhen bhali nahin lagti..
woh sari chijen jo tumko rulaye bheji hai..

Heart Touching Gulzar Shayari
Heart Touching Gulzar Shayari

Heart Touching Gulzar Shayari में अपने दिल को सुकून दिलाना चाहोगे.

एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकून होगा..
ना दिल में कसक होगी, ना सर में जूनून होगा..

ek baar to yun hoga thoda sa sukun hoga..
na dil mein kasak hogi na sar mein junoon hoga..

ज़मीं सा दूसरा कोई सख़ी कहाँ होगा..
ज़रा सा बीज उठा ले, तो पेड़ देती है..

zameen sar dusra koi sakhi kahan hoga..
jara sa bij utha le to ped deti hai..

Love Gulzar Shayari | Voice-Over: Dhirendra



काँच के पीछे चाँद भी था और काँच के ऊपर काई भी..
तीनों थे हम, वो भी थे और मैं भी था, तन्हाई भी..

kanch ke piche chand bhi tha aur kanch ke upar kaai bhi..
teeno the ham, woh bhi the aur main bhi tha, tanhai bhi..

Sad Shayari by Gulzar
Sad Shayari by Gulzar

Shayari by Gulzar on Love में अपने कटती हुई जिंदगी के यादगार पलों को समेटना चाहोगे..

खुली किताब के सफ़्हे उलटते रहते हैं..
हवा चले न चले दिन पलटते रहते है..

khuli kitab ke saffe ulatte rahte hain..
hawa chale na chale din paltate rahte hain..

Love Shayari by Gulzar
Love Shayari by Gulzar

मिश्रा जी के आवाज़ में गुलज़ार साहब की शायरियां सुनिए



किसी पर मर जाने से होती हैं मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों के बस का नहीं..

kisee per mar jaane se hoti hai mohbbat,
ishk zindaa logon ke bus ka nahi..

तेरे जाने से तो कुछ बदला नहीं,
रात भी आयी और चाँद भी था,
मगर नींद नहीं..

tere jaane se to kuchch badlaa nhi,
raat bhi aai aur chaand bhi tha,
magar neend nhi..

आइना देख कर तसल्ली हुई,
हम को इस घर में जानता है कोई.

aaina dekh kar taslli hui,
humko is ghar me janta hai koi..

आप के बाद हर घड़ी हम ने,
आप के साथ ही गुज़ारी है.

ap ke bad hr ghadi hum ne,
ap ke sath hi gujari hai..

Gulzar Shayari
Gulzar Shayari
फिर वहीं लौट के जाना होगा,
यार ने कैसी रिहाई दी है.

phir vahi laut ke jaana hoga,
yar ne kaisi rihayee di hai..

मैंने दबी आवाज़ में पूछा?
मुहब्बत करने लगी हो?
नज़रें झुका कर वो बोली! बहुत…

maine dabi awaj me puchha?
mohabbat karne lagi ho?
nazre zuka kar wo boli! bahut…

बिगड़ैल हैं ये यादे,
देर रात को टहलने निकलती हैं.

bigdail hain ye yaadein,
der raat tak tahlane niklati hai..

सुना हैं काफी पढ़ लिख गए हो तुम,
कभी वो भी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते हैं.

suna hai kaafi padh likh gaye ho tum,
kabhi wo bhi padhon jo hum kah nahi paate hain..

कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती हैं,
और कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता.

kabhi zindagi ek pal me gujar jati hain,
aur kabhi zindgi ka ek pal nhi gujarta..

Shayari by Gulzar
Shayari by Gulzar
हम तो अब याद भी नहीं करते,
आप को हिचकी लग गई कैसे?

hum to ab yad bhi nahi karte,
ap ko hichakee lag gai kaise?

कुछ जख्मो की उम्र नहीं होती हैं,
ताउम्र साथ चलते हैं,
जिस्मों के ख़ाक होने तक.

kuch jakhmo ki umra nahi hoti hai,
taumar sath chalate hain,
jismon ke khaak hone tak..

तकलीफ़ ख़ुद की कम हो गयी,
जब अपनों से उम्मीद कम हो गईं.

takleef khud ki kam ho gai,
jab apanon se ummid kam ho gayi..

Gulzar Shayari Photo
Gulzar Shayari Photo
इतना क्यों सिखायें जा रही हो जिंदगी..
हमें कौन सी सदिया गुजारनी है यहां..

itna kyon sikhaye jaa rhi hai zindagi..
hamen kaun se sadiyaan gujarni hai yahan..

थोड़ा सा रफू करके देखिए ना,
फिर से नई सी लगेगी..
जिंदगी ही तो है..!

thodaa sa rafu karke dekhiae na,
fir se nai si lgegi..
jindagi hi to hai..!

मैं वो क्यों बनु जो तुम्हें चाहिए..
तुम्हें वो कबूल क्यों नहीं, जो मैं हूं..

mai voh kyon banu jo tumhen chahie..
tumhen vah kabul kyon nahin, jo main hun..

बहुत छाले हैं उसके पैरों में..
कमबख़्त उसूलों पर चला होगा..!

bahut chhale hain uske pairon mein..
kambakht usoolon par chalaa hoga..!

सुनो…
जब कभी देख लुं तुमको..
तो मुझे महसूस होता है कि
दुनिया खूबसूरत है..

suno…
jab kabhi dekh lu tumko..
to mujhe mahsus hota hai ki
duniyaa khubsurat hai..

मैं दिया हूँ..
मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं..
हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं..

mai diya hun..
meri dushmani to sirf andhere se hai..
hawaa to bewajah hi mere khilaaf hai..

Deep Meaningful Shayari byGulzar
Deep Meaningful Shayari byGulzar
बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती..

bahut andar tak jalaa deti hai,
wah shikayaten jo baya nahin hoti..

एक सपने के टूटकर 
चकनाचूर हो जाने के बाद,

दूसरा सपना देखने के 
हौसले का नाम जिंदगी हैं..

ek sapne ke toot kar
chakna choor ho jane ke bad,
dusra sapnaa dekhne ke
hosle ka naam jindagi hai..

घर में अपनों से उतना ही रूठो..
कि आपकी बात और दूसरों की इज्जत,
दोनों बरक़रार रह सके..

ghar mein apnon se utna hi rutho..
ki aapki baat aur dusron ki izzat,
donon barkarar reh sake..

Zindagi Gulzar Shayari
Zindagi Gulzar Shayari
कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते..
एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें…

kaun kahta hai ki ham jhooth nahin bolate..
ek bar khairiyat to poochh ke dekhiae…

कुछ बातें तब तक समझ में नहीं आती..
जब तक ख़ुद पर ना गुजरे..

kuchh batein tab tak samajh mein nahin aati..
jab tak khud par na gujre…

शायर बनना बहुत आसान हैं..
बस एक अधूरी मोहब्बत की
मुकम्मल डिग्री चाहिए..!

shayar banana bahut aasan hai..
bus ek adhuri mohabbat ki
mukmmal degree chaahiye..

Gulzar Shayari on Life
Gulzar Shayari on Life

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

आपने कई बार गुलजार साहब के लिखे नगमे सुने होंगे. इसी तरह से आज हम Gulzar Shayari खास आपके लिए लेकर आए हैं. इन सभी Gulzar Shayari In Hindi को आप एक बार तहे दिल से जरूर पढ़ें. और इन शायरियों को डाउनलोड भी जरूर करें. गुलजार साहब के जिंदगी को संवारने वाले विचारों पर लिखी Gulzar Shayari In Hindi आपको पसंद आई होगी. अगर ऐसा है तो हमें comments करते हुए जरूर बताइएगा.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.



3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.