Bewafa Shayari Photo -10: Dard Bhare Top 10 Thoughts Hindi

Bewafa Shayari Photo : दोस्तों प्यार के लिए हर एक इंसान के ख्यालात अलग-अलग होते हैं. कभी कोई अपने दर्द को खुद महसूस करता है. तो कभी कोई अपने दिल के गम किसी के साथ बांट सकता है. लेकिन अगर यही दर्द यूं ही बढ़ता रहे. और उस दर्द को गलतफहमी का साथ मिले.

तब ऐसे हालात बेवफाई की भी जगह ले लेते है. कुछ ऐसी ही बात जब किसी आशिक के साथ होती है. तब वह अपने उस दिल के गम को किसी को भी बता नहीं पाता. और मन ही मन अपने उस दर्द को Bewafa Shayari Photo की तरह छुपाता रहता है.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


हमारी इन बेवफाई से भरी दर्द भरी शायरियों को Vrushali Suvarna Dnyandev इनकी आवाज़ में सुनकर दिल के दर्द याद करोगे!

उसे दिल की गहराई में छिपे बातों को बताने का कभी मौका मिलता है. तब वह उन बातों को अपने किसी दिल के करीब इंसान को बताना चाहता है. लेकिन Dard Bhare Thoughts की तरह मौके हर किसी इंसान को नहीं मिलते. और कुछ ऐसा ही इस आशिक के साथ हो रहा है. इसी वजह से वह और भी ज्यादा तन्हा महसूस कर रहा है.

Table of Content

  1. Bewafa Shayari
  2. Bewafa Shayari Image
  3. Bewafa Shayari In Hindi
  4. Bewafa Shayari Photo
  5. Bewafa Shayari English
  6. Conclusion

Bewafa Shayari

1)

बेवफा से हमने दिल लगा लिया
खुद हाथों से कफन खरीद लिया..

अब कहा लंबी उम्र की दुआ होगी
दुआ करने वाला ही पराया हो गया..


-Vrushali

bewafa se humne dil laga liya
khud hathon se kafan khareed liya..
ab kahan lambi umra ki dua hogi
dua karne wala hi paraya ho gaya..

आशिक अपनी बेवफा से कितना प्यार करता है. कुछ उसी तरह के इश्क की आशा वह अपने दिलबर से भी करता है. उसे इसमें कोई ज्यादा अपेक्षा की बात नहीं लगती है. लेकिन यह बात वह अपने बेवफाई को दिल में लिए बैठे महबूब को कैसे समझाएगा?

यही उसके सामने सबसे बड़ी कठिनाई है. क्योंकि उसके दिलबर ने तो उसे ना समझने की जैसे कसम ही खा ली है. और आशिक को भी अपने महबूब से प्यार करते हुए जैसे बहुत बड़ी सजा पाई है. कुछ इसी तरह से उसके दिल के हालात हुए हैं.

2)

कभी जिसे दिल दिया था उस
बेवफा से हमने सवाल क्या किया..

उसने तो जवाब में हमें अपना
झूठा नकाब ही भेज दिया..


-Vruahali

kabhi jise dil diya tha use
bewafa se humne sawal kya kiya..
usne to jawab mein hamen apna
jhutha naqaab hi bhej diya…

Bewafa Shayari में अपने दिल के साथ खेलने वाली महबूबा से जब आशिक कोई सवाल करता है. तो उसे इन सवालों के जवाब देना भी कोई गुनाह से बात नहीं लगती है. वह हर वक्त उसे टालते रहना चाहती है. उसे कभी भी अपने दिल के करीब मानने से इंकार करती है.

इसी वजह से अब आशिक के मन में अकेलेपन के सिवा और कोई विचार भी नहीं आ रहे हैं. यह बात वह ना अपने महबूब से कर सकता है. और ना ही किसी अपने गरीब इंसान के साथ कर सकता है. जो उसकी बात को पूरी तरह से समझ सके. उसका महबूब तो इसके विपरीत उसके झूठ को और भी ज्यादा बताने की कोशिश करता है.

Bewafa Shayari Image

3)

कभी जो हमारे बिना
महफिल नहीं सजाते थे..

आज वो बेवफा हमारे बिन
जश्न में शामिल हो जाते हैं..


-Vruahali

kabhi jo hamare bina
mahfil nahin sajate the..
aaj vo bewafa hamare bin
jashn mein shamil ho jaate hain..

आशिक से प्यार करने वाला कोई दिनभर जब उससे अलग होता है. तो उसके दिल को बहुत ज्यादा दर्द होता है. क्योंकि अब तक वह नहीं यार कभी भी उसके सिवा रहने की सोच भी नहीं सकता था. लेकिन जब से उसका आशिक उसके दिल को अकेला छोड़कर चला गया है.

उसे एक पल भी चैन नहीं आ रहा है. लेकिन उसका महबूब उसके बिना बहुत ज्यादा खुश है. क्योंकि जब वह अपने आशिक के साथ को साझा करता था. तब वो उसके बिना कभी भी रहने की सोच भी नहीं सकता था. लेकिन आज अलग होते ही वह किसी दूसरे के साथ बहुत खुश है.

4)

बेवफाई की कोई हद नहीं होती
यह प्यार में हमें समझा ही नहीं..

जब एक बेवफा से मुलाकात हुई
हमने तो तन्हा जिंदगी चुन ली..

-Vrushali

bewafai ki koi had nahin hoti
yah pyar mein hamen samjha hi nahin..
jab ek bewafa se mulakat hui
humne to tanha jindagi chun li..

Bewafa Shayari Image से अपने बेवफा दिलबर को समझाने की हिम्मत अब आशिक में बिल्कुल भी नहीं है. क्योंकि उसने अपने महबूब को समझाने के सारे पैंतरे आजमा लिए हैं. लेकिन उसका महबूब अब कोई भी बात समझने के लिए बिल्कुल भी राजी नहीं है.

Bewafa Shayari Image
Bewafa Shayari Image

उसे अपने बेवफाई पर बिल्कुल भी पछतावा नहीं है. वह अपने आशिक के प्यार पर जरा भी भरोसा नहीं करता है. इसी वजह से आप आशिक बहुत ही ज्यादा पछता रहा है. उसे अपने प्यार और बेवफाई में फर्क नहीं समझा है. यह सोचकर ही बहुत ज्यादा दुख हो रहा है.

Bewafa Shayari In Hindi

5)

क्यों आई थी मेरी जिंदगी में
बेवजह के रंग भरने के लिए..

जब चली गई छोड़कर वो बेवफा
जो थे जिंदगी में वो रंग भी उड़ गए..


-Vrushali

kyon aayi thi meri jindagi mein
bewajah ke rang bharane ke liye..
jab chali gai chhod kar vah bewafa
jo the jindagi mein vah rang bhi ud gaye…

आशिक जब महबूब के प्यार में अपनी सुध बुध खो बैठा था. तब उसे इस बात का बिल्कुल भी पता नहीं था. यही दिलबर एक दिन उसके दिल को तोड़ कर उसे महफिल में तन्हा छोड़ जाएगा. वह तो अपने प्यार के रंगों में रंगी जिंदगी में बहुत ज्यादा खुश था. उसे अपनी महबूबा पर तहे दिल से प्यार था.

और उसके आने से ही वह अपनी जिंदगी को खुशनुमा पा रहा था. उसे दुनिया की कोई भी खुशी मिलने की तब जैसे परवाह नहीं थी. लेकिन जैसे ही उसका महबूब उसके दिल को अकेला छोड़ चला गया है. उसकी जिंदगी की रंग ही जैसे उड चुके हैं.

6)

मर भी जाऊं गर मैं तो उसे खबर ना होने देना दोस्तों..

मसरूफ़ है वो बहोत, कही वक़्त उसका बर्बाद न हो..!

mar bhi jaau ghar mein to use khabar na hone dena doston..
masroof hai vah bahut, kahin waqt uska barbad na ho..!

Bewafa Shayari in Hindi अपने महबूब की यादों में खोया हुआ दिल में हमेशा गुमसुम रहता है. लेकिन उसके दिल से अपने यार का ख्याल कभी नहीं जाता है. वह अपने महबूब को हमेशा अपने दिल के करीब मानता रहा है.

इसी वजह से वह उसे कभी दुखाने के बारे में सोच भी नहीं सकता है. और यही वजह है कि उसकी तमन्ना मरने के बाद ही कुछ ऐसी ही होगी. वह चाहता है कि उसे दफनाने पर उसके दिलबर को भी इस बात का पता ना चले. क्योंकि खामखा उसका उतना वक्त भी बर्बाद नहीं होना चाहिए. यहाँ पर मसरूफ का मतलब बहोत व्यस्त इंसान होता है. और उसके मसरूफ यार को यह बात ना बताने की आशिक इच्छा रखता है.

Bewafa Shayari Photo

7)

जालिम बेवफा तो वह खुद बन चुका हैं
लेकिन इल्जाम दूसरे दिल को देता है..

रहता था हर वक्त नाम जिसकी जुबां पर मेरा
अब किसी और का नाम वो हमेशा लेता है..

zalim bewafa to vo khud ban chuka hai
lekin ilzaam dusre dil ko deta hai..
rehta tha har waqt naam jiski juban per mera
ab kisi aur ka naam vah hamesha leta hai..

अपने यार की बेवफाई पर आशिक को अब भी भरोसा नहीं आ रहा है. क्योंकि जब उसका दिल पर उससे तहे दिल से प्यार करता था. तब वह रात दिन हमेशा बस उसी के नाम की माला जपता रहता था. और हर दुआ में बस अपने महबूब की ही सलामती चाहता था.

लेकिन जबसे उस जालिम ने अपने प्यार करने के तेवर बदल दिए हैं. वह अब उसे किसी भी तरह से याद नहीं करना चाहता है. इसीलिए अब जिन होठों पर अपने आशिक का नाम वह हर बार लेता था. उन्हीं होठों पर अब उसे किसी दूसरे का नाम दिख रहा है.

8)

नहीं करता कोई याद किसी वफा करने वाले को यहां..

कहना मानो मेरा, हो जाओ बेवफा यारों, याद रखेगा जहां..

nahin karta koi yad kisi wafa karne wale ko yahan..
kahana mano mera, ho jao bewafa yaaron, yad rakhega jahan..

Bewafa Shayari Photo की तरह महबूब के प्यार में जब आशिक अपना दिल खो चुका था. तब उसे अपने महबूब के सिवा किसी और का चेहरा भी नहीं दिखाई देता था. लेकिन जब से उसकी यार की बेवफाई का उसे सबब मिला है. उसका दिलबर हमेशा अब उसकी यादों में तो रहता है.

लेकिन उसके दिल में उसका ठिकाना नहीं है. और इसी वजह से अब टूटा हुआ दिल लेकर आशिक दुनिया वालों को हिदायत देना चाहता है. चाहे कुछ भी हो जाए अब किसी से वफ़ा करने के बारे में वह खुद भी नहीं सोचना चाहता है. और ना ही किसी को इसके लिए नसीहत देना चाहता है.

Bewafa Shayari English

9)

पौधा प्यार का लगाने से पहले परख लेना मिट्टी..

क्योंकि हर जमीन में फितरत नहीं होती वफादारी की..

paudha pyar ka lagane se pahle parakh lena mitti..
kyunki har jameen mein fitrat nahin hoti wafadari ki..

दोस्तों जब आशिक को अपने प्यार करने के लिए महबूब का साथ मिलता है. तो वह जैसे इस दुनिया का रहता ही नहीं है. उसकी तो सबसे अलग ही दुनिया बन जाती है. और वह अपनी ही धुन में उस दुनिया में हमेशा जीता रहता है.

उसे फिर ना दुनिया के किसी बात की कोई फिक्र होती है और ना ही कोई खबर होती है. लेकिन जब वही महबूब उसकी वह सारी दुनिया उजाड़ दे. तब वह अपने महफिल में अकेला ही रोता रहता है. और अपने दिल को हमेशा प्यार करने के लिए कोसता रहता है.

10)

पूछा मुझसे खुदा ने क्या सजा दूं उस बेवफा को..?

कहा मैंने, हो जाए उसे भी इश्क़ किसी से..

pucha mujh se khuda ne kya saja dun us bewafa ko..?
kahaa maine, ho jaaye use bhi ishq kisi se..

Bewafa Shayari English में अपने दिलबर से बेवफाई का धोखा खाकर आशिक बहुत ही अकेला पड़ जाता है. उसकी बनी बनाई दुनिया ही जैसे उजड़ जाती है. उसके सपनों का आशियाना जैसे बिखर कर चूर-चूर हो जाता है. और इसी वजह से जब वह आशिक अपने खुदा से कोई दरख्वास्त करता है.

तो खुदा भी उसके दरख्वास्त पर उससे यही सवाल पूछता है. आखिर उसे अपने महबूब के लिए ऐसी कौन सी सजा चाहिए. जिससे उसके दिल की मुराद पूरी हो सके. तब आशिक भी उसे किसी और से प्यार होने की सजा की दरख्वास्त करता है.

Conclusion

दोस्तों आशिक अपने महबूब से जितना प्यार करता है. उतने ही Dard Bhare Thoughts वह उसे दे पाएगा. इसी बात का अभिमान आज तक आशिक को था. लेकिन अब उसका प्रेमी अपने दिल में उसके लिए कोई पनाह नहीं दे रहा है. यह जानकर अब उस आशिक के जैसे होश ही उड़ गए हैं. Dard Bhare Thoughts भी तो यही बताना चाहता है.

बेवफा पर लिखी गयी हमारी ये पोस्ट भी आपको अच्छी लगेगी

  1. Dard Bhari Bewafa Shayari -9: Disloyal Quotes Love Status
  2. Sad Bewafa Shayari : Yaar Gaddar Status Images In Hindi
  3. Bewafa Shayari In English : Best Baaghi Quotes Images
  4. Bewafa Status In Hindi : Best Ungrateful Quotes Images
  5. Bewafa Shayari : Sad Faithless Quotes in Hindi
  6. Bewafai Shayari -1: अपने दिल का बेवफाई भरा Sad आलम याद करोगे!
  7. Bewafa Shayari -4: Tute Dil ki Dard Bhari Shayari Image hd
  8. Bewafa -3: Sad Shayari बेवफा के जख्मों पर मरहम जैसी लगेगी!
  9. Bewafa -2 : Sad Shayari को पढ़कर बेवफ़ा को भी वफ़ा याद आएगी!
  10. Bewafa 1: Dard Bhari Bewafa Sad Shayari जख़्म ताज़ा हो जाएंगे!
  11. Bewafa Shayari Image -11: Dhokhe Wale Status Download

हमारी इन Bewafa Shayari Photo -10 को सुनकर आपके दिल की वफा को भी चोट पहुंची हो. तो हमें comments area में comment करते हुए जरूर बताईये.

अगर आप चाहते है कि आपको सारी अपडेट्स अपने Whatsapp पर मिले तो, जल्दी से ‘START’ इस मेसेज को +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.

5 thoughts on “Bewafa Shayari Photo -10: Dard Bhare Top 10 Thoughts Hindi”

  1. It is feel like every shayari perfectly suited on your soft and soothing voice ☺️☺️😍👌

  2. वाह वृषाली मॅम..
    दर्द को जिस अंदाज में पेश किया है आप ने.. कमाल!!
    शायरियां भी उमदा और script भी बहुत खूब!!
    हमेशा आप की बेहतरीन पेशकश के इंतजार में,
    कल्याणी

Leave a Comment