Sad

Express pain of an unfaithful partner by 20+ Bewafa Shayari

It happens some time in love that your partner becomes disloyal to you, that time you need Bewafa Shayari to express your painful feelings. You feel so bad and down when you know that your boyfriend or girlfriend is not faithful as you were expecting.

All these sad emotions are penned down in this blog post; you can read, listen and share the Shayari on Bewafa from this post to social media. Bewafa means an unfaithful or disloyal person, specifically in a love relationship.

उमड़ आएगे बादल तेरे शहर में
तेरे आँगन में जो घटा बरसेगी..

रातों को तड़पेगी वो बेवफा भी
मेरी सूरत देखने फिर सदा तरसेगी..

--Moeen

umad aaenge badal tere shahar mein
tere angan mein jo ghata barsegi..
raaton ko tadpegi vah bewafa bhi
meri surat dekhne fir sada tarsengi..


Listen to Bewafa Shayari | Voice-Over: Vanshika Navlani

इन Dard Bhari Bewafa Shayari शायरियों को Vanshika Navlani इनकी आवाज़ में सुनकर आपको अपने बेवफा साथी की याद जरूर आएगी!


Bewafa Shayari for Girlfriend
Bewafa Shayari for Girlfriend

Bewafa Dard Bhari Shayari to express the pain of unfaithful partner

अगर आपका साथी आपसे बेवफा हो जाए तो उसकी कीमत सिर्फ आप ही जान सकते हो. चाहे आपका साथी आपसे जानबूझकर बेवफा हो या फिर कोई ऐसी परिस्थिति आ जाए जिससे उसे बेवफा होना पड़े.



धोखे का तजुर्बा मिले
उस बेवफ़ा को..

काश उसको भी पता लगे
कैसे सहते है दर्द को…

dhokhe ka tajurba mile
us bewafa ko..
kash usko bhi pata lage
kaise sahte hain dard ko…

बन कर ज़िंदगी हमें अजनबी मिली
अपने जुर्मों की खूब सज़ा मिली..

जिस लड़की को माँगा सजदों में
वो बन कर हमें बेवफा मिली..

-Moeen

ban kar jindagi hamen ajnabee mili
apne jurmo ki khub saja mili..
jis ladki ko manga sajdon mein
vah bankar hamen bewafa mili..

बेवफा ने वादा वफा ना किया
मेरी चाहत का मुझे सिला ना दिया..

खाते रहे हम उम्र भर धोके यारों
मगर कभी किसी को दगा ना दिया..

--Moeen

bewafa ne vaada wafa na kiya
meri chahat ka mujhe sila na diya..
khate rahe ham umra bhar dhokhe yaaron
magar kabhi kisi ko daga na diya..

ना करो आधी अधूरी बातें
सनम मुझसे तुम..

होने तो लगी हो कुछ कुछ
बेवफा सी तुम…

na karo aadhi
adhuri baatein
sanam mujhse tum..
hone to lagi ho kuch kuch
bewafa si tum…

मँझधार में फँसी मेरी कश्ती हैं
तेरे दिदार को आँखें तरसती हैं..

बेवफा तेरी याद में शब भर
पलकें जुगनुओं से अब सजती हैं..

-Moeen

majhdhaar me fasi meri kashti hai
tere didar ko aankhen tarasti hai..
bewafa teri yaad mein shab bhar
palake juganuo se ab sajti hai..

Sad Bewafa Shayari
Sad Bewafa Shayari
जो बदली से माहताब निकलता था
तेरे नाम से ये दिल मचलता था..

बेवफा नज़र चुरा कर गुज़रता हैं अब
कभी वो मेरे हमराह चलता था..

-Moeen

jo badli se mahatab nikalta tha
tere naam se yah dil machalta tha..
bewafa nazar chura kar gujarta hai ab
kabhi vah mere humrah chalta tha..

जश्न सजा देंगे
आज बेवफ़ाओं का..

सही समय पर आना
खास मेहमान हो तुम…

jashn saja denge
aaj bewafaon ka..
sahi samay per aana
khaas mehman ho tum…

Shayari on Bewafa Image
Shayari on Bewafa Image
चाहत का अच्छा सिला दिया मुझे
बना कर अपना दगा दिया मुझे..

मेरे काँपते लब फरियाद करते हैं
क्यों बेवफाई का किस्सा दिया मुझे..

-Moeen

chaahat ka achha sila diya mujhe
banakar apna daga diya mujhe..
mere kapte lab fariyad karte hain
kyon bewafai ka kissa diya mujhe..

सुना रहे थे महफ़िल में
वफाओ के किस्से..

उनकी शिरकत से
हम खामोश हो गए…

suna rahe the mehfil me
wafaon ke kisse..
unki shirkat se
hum khamosh ho gaye…

अपने दिल को फिर एक बार
झूठी तसल्ली दिलाना चाहता हूं..

उस बेवफा की यादें अपने
दिल से मिटाना चाहता हूं..

-Santosh

apne dil ko fir ek bar
jhuthi tasalli dilana chahta hun..
us bewafa ki yaadein apne
dil se mitana chahta hun..

Dard bhari Bewafa Shayari
Dard bhari Bewafa Shayari

आप दुनिया का चाहे जो भी दर्द सह सकते हैं. लेकिन बेवफाई का दर्द कुछ ऐसा होता है कि जो ना किसी से सहा जाता है और ना किसी को कहा जाता है. आप तो हमेशा बस एक ही बात सोचते रहते हो कि आखिर ऐसी क्या वजह थी जो वह आप से रूठ गया. आपसे बेवफा हो गया.

करार माँगा था दो घड़ी को
तरसते रहे तमाम उम्र खुशी को..

तेरे बिछड़ने के बाद ओ बेवफा
अनकरीब अलविदा कहे देंगे ज़िंदगी को..

-Moeen

karar manga tha do ghadi ko
taraste rahe tamam umra khushi ko..
tere bichad ne ke bad vah bewafa
anqareeb alvida kah denge jindagi ko..

Bewafa Shayari Photo
Bewafa Shayari Photo
मैं ठीक से रह नहीं पाता
उनसे बात बिना किये..

उनका भी यही हाल है
लेकिन बेवफाई के लिए…

mai thik se rah nahi pata
unse baat bina kiye..
unka bhi yahi haal hai
lekin bewafai ke liye…

अक्सर तड़प कर बद्दुआ निकलती हैं
तू भी तड़पे चाँदनी रातों में..

बेवफा क्या तुझे याद हैं अब भी
वो रातों का गुज़रना बातों में..

-Moeen

aksar tadap kar baddua nikalti hai
tu bhi tadpe chandni raaton mein..
bewafa kya tujhe yad hai ab bhi
vo raaton ka guzarna baton mein..

Bewafa Shayari in Hindi for Girlfriend
Bewafa Shayari in Hindi for Girlfriend
बेदर्दी से जुल्म और
सितम सहते गए..

और आप बड़े आराम से
बेवफा बनते गए…!

bedardi se julm aur
sitam sahate gaye..
aur aap bade aaram se
bewafa bante gaye…!

तुझे कभी हम बहोत याद आएगे
जब कभी कोई तेरा दिल दुखाएगा..

बेवफा अब कौन तुझे मेरी तरह
तेरे रूठ जाने के बाद मनाएगा..

-Moeen

tujhe kabhi ham bahut yad aayenge
jab kabhi koi tera dil dukhayega..
bewafa ab kaun tujhe meri tarah
tere rooth jane ke bad manayega..

बंजारों की तरह भटकते हैं अब
अजनबीयों से पुछते हैं तेरा पता..

नैनों से ढलते अश्क पूछते हैं अक्सर
मुझ से तेरी बेवफाई की वजह..

-Moeen

banjaro ki tarah bhatakte hain ab
ajnabiyo se puchte hain tera pata..
naino se dhalte ashq puchte hain aksar
mujhse teri bewafai ki vajah..

Tute dil ka dard sunaye with Bewafa Shayari
Tute dil ka dard sunaye with Bewafa Shayari
जब से टूटा दिल मेरा
बुझ गई मेरी जिंदादिली..

आखिर गुनाह क्या था मेरा
बनके वो मुझे बेवफा मिली..

-Santosh

jabse toota dil mera
bujh gai meri jinda dili..
aakhir gunah kya tha mera
banke vo mujhe bewafa mili..

तमन्ना मेरी अधूरी रहेगी
ऐसा मैंने सोचा ना था..

यार मुझे ऐसा बेवफा
मिलेगा, मैंने सोचा ना था..

-Santosh

tamanna meri adhuri rahegi
aisa maine socha na tha..
yaar mujhe aisa bewafa
milega, maine socha na tha..

Shayari Bewafa Image
Shayari Bewafa Image

बेवफाई में लोग अपने ही साथी की अच्छाइयों को छोड़ कर उसकी बुराइयों को याद करते रहते हैं. और न जाने किस-किसको उसके बारे में भला-बुरा, बेवफा कहते जाते हैं. जिसे वो कभी अपनी जान से भी ज्यादा चाहते थे, कल वो ही उसकी बेवफाई के किस्से लोगों में आम कर देते हैं.


Listen to Shayari on Bewafa | Voice-Over: Nilesh Saraf


बहुत शोर मचाकर
रखा था इस दिलने..

जैसे ही बेवफ़ाई दिखी
ख़ामोशी बिखर गई..

bahut shor macha kar
rakha tha is dil ne..
jaise hi bewafai dikhi
khamoshi bikhar gayi…

Dhoka Bewafa Shayari
Dhoka Bewafa Shayari
धोखे की बेवफ़ाई जब
सामने आती गई..

अल्फाजों को हमारे
ख़ामोशी अच्छी लगती गई..

dhokhe ki bewafai jab 
samne aati gai..
alfazon ko hamare 
khamoshi acchi lagti gai…



जज्बातों को मेरी
आसानी से रौंदा उसने..

जैसे कि ये धोखे जरूरी
उस बेवफ़ा के लिए..

jazbaton ko meri
aasani se raunda usne..
jaise ki dhokhe jaruri 
us bewafa ke liye..

Shayari Bewafa Hindi
Shayari Bewafa Hindi

Ultimate Collection of Sad Bewafa Shayari in Hindi/Urdu

दिखावे के लिए बहाना अच्छा है
बेवफाई करना भी किसी का शौक है

मोहब्बत हो नहीं पा रही है तो
खफा हो जाना किसी की आदत है

dikhave ke liye bahana accha hai
bewafai karna bhi kisi ka showk hai
mohbbat ho nhi pa rhi hai to
khafa ho jana kisi ki aadat hai



इन Bewafai Shayari को Aditi Kshirsagar इनकी आवाज़ में सुनकर उनकी बेवफाई पर तरस खाना चाहोगे!


ऐ दुनियां वालों तुम क्यों
हो इश्क वालों से रूसवाह

तुम्हें मिली है बेवफाई तो
इस में इश्क़ का क्या गुनाह

e duniya walo tum kyo
ho ishq walo se rusvah
tumhe mili hai bewafai to
is me ishq ka kya gunah

हमें यूं तड़पता देख वो हमसे
हमारा हाल ना पूछ सकी

उसे किसी के साथ खुशहाल देखा
तो मेरी ज़बान कुछ बयां ना कर सकी

hume yun tadpata dekh wo humse
humara haal na puch saki
use kisi ke sath khushhal dekha
to meri jaban kuch baya na kar saki

Shayari on Bewafai Image
Shayari on Bewafai Image
दोस्तों तुम क्या जानो
बेवफाई की हद कहा तक है

हम उन्हें इश्क सिखाते गए
और वो किसी और पे आजमा गई

dosto tum kya jaano
bewafai ki had kaha tak hai
hum unhe ishq sikhate gye
aur wo kisi aur pe aajma gyi

किसी ने पूछा है आज हमसे
क्या सजा दूं उसे में बेवफाई की

दिल से मेरे यह दुआ निकली
हकदार हो वह मेरी बाकि उम्र की

kisi ne pucha hai aaj humse
kya saja du use mai bewafai ki
dil se meri yeh dua nikli
hakdar hai wo meri baki umra ki

ख़ुदा ने दी है सजा मुझे
जो गुनाह मैंने किया नहीं

इश्क़ में बेवफाई ऐसी मिली
जहां से लौट आना मुमकिन नहीं

khuda ne di hai saja mujhe
jo gunah maine kiya nhi
ishq me bewafai aise mili
jaha se laut aana mumkin nhi

काश प्यार में वफ़ा की
रस्म दिल से निभाई जाती..

तो जमाने में सदियों से 
जुदाई की ये रित ना होती..

kash pyar mein wafa ki 
rasm dil se nibhai jaati..
to jamane me sadiyon se 
judaai ki ye reet na hoti…

Bewafai Shayari Image
Bewafai Shayari Image
लोग अक्सर मोहब्बत के
किस्से बड़े नाज से सुनाते हैं..

पर एक मैं हूं जिसे तेरी
बेवफ़ाई पर भी गुरूर है...

log aksar mohabbat ke
kisse bade naj se sunate hain..
per ek mein hun jise teri 
bewafaai per bhi gurur hai…

दिल दिया हमने आपको
आपकी मोहब्बत इस क़दर थी..

जान ले ली आपने हमारी
आपकी बेवफाई उम्दा थी...

dil diya humne aapko 
aap ki mohabbat is kadar thi..
jaan le li aapane hamari 
aapki bewafai umdaa thi…

नैनो से बह रहा मेरे
यह बेफिकिर अश्क

पूछ रहा है बेवफाई की
क्या थीं ऐसी वजह

naino se beh rha mere
yeh bifikar ashq
puch rha hai bewafai ki
kya thi aisi wajah

Bewafai Shayari
Bewafai Shayari


YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Summary

Shayari Sukun team wishes you a faithful partner in love relationship. We do not wish you to have an unfaithful experience in your love life. But in case you are in such a difficult condition, then we hope these Bewafa Shayari helped you to express your sad emotions.

Want more? Follow us on Facebook: Shayari Sukun

Leave a Reply

Your email address will not be published.