Heartfelt Sad Shero Shayari (दुःखभरी शेरो शायरी) Collection

Friends when our loved one is not responding to any of our feelings. Then we feel so lonely. This loneliness we are going to show with Sad Shero Shayari. We hope that this दुःखभरी शेरो शायरी collection will represent your current sad emotions.

Listening to sad songs or Sad Shero Shayari in the Hindi language is sometimes needed because we can relate our sad feelings with this Shayari and can express the untold sorrow from our hearts.

Table of Content

  1. Sad Shero Shayari In Hindi – सैड शेरो शायरी इन हिंदी
  2. Shero Shayari Love Sad – शेरो शायरी लव सैड
  3. Sher O Shayari Sad Love – शेर ओ शायरी सैड लव
  4. Sad Shero Shayari Image – सैड शेरो शायरी इमेज
  5. Sad Shero Shayari – सैड शेरो शायरी
  6. Conclusion

Sad Shero Shayari In Hindi – सैड शेरो शायरी इन हिंदी

Sad Shero Shayari In Hindi की मदद से प्रेमिका अपनी जिंदगी में आने वाले गम के बारे में बताना चाहती है. और उन गमों की वजह से वह जैसे अपने जीने की ख्वाहिश खो देती हैं. और वह सोचती है कि फिर कोई इंसान उसकी जिंदगी में आने के बाद वो जीने के बारे में सोचती हैं. ताकि उसे जिंदगी फिर से सुंदर लगने लगती है. लेकिन कुछ अर्से बाद फिर उसकी जिंदगी में वही गम आ जाते हैं.


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏



तेरे आने से जीने की ख्वाइश मिली
तू आया तो लगा दुआ मेरी कुबूल हुई..

सोचती हुं जब मर मर के ही जीना था
तो खुदा ने दुआ मेरी कुबूल ही क्यों की..

-Vrushali

tere aane se jeene ki khwahish mili
tu aaya to laga dua meri qubool hui..
sochati hu jab ham mar mar ke hi jina tha
to khuda ne dua meri qubool hi kyon ki…

तेरी मोहब्बत ने मुझे गम से मिला दिया
तेरी नफ़रत ने जिंदगी से जुदा किया..

अब क्यों बहाते हो आंसू मेरी क ब्र पर
तेरे आंसुओं ने मेरी रूह को भीगा दिया..

-Vrushali

teri mohabbat ne mujhe gham se mila diya
teri nafrat ne zindagi se juda kiya..
ab kyon bahate ho aansu meri ka bar par
tere aansuon ne meri rooh ko bhiga diya..

Shero Shayari Love Sad – शेरो शायरी लव सैड

Shero Shayari Love Sad की मदद से प्रेमिका अपने प्यार की इंतेहा देखना चाहती है. लेकिन अगर उसे एक पल भी सुकून नसीब ना हो. तो उसे जिंदगी घुटन सी महसूस होती है. वह चाह कर भी अपने दिल से यह घुटन निकाल नहीं पाती. किसी इंसान से अगर वह बेइंतहा मोहब्बत करती हैं. तो उसे लगता है कि वह इंसान भी उनसे उतनी ही मोहब्बत करें. लेकिन यह मोहब्बत नहीं बल्कि सौदा ही होता है. क्योंकि सच्ची मोहब्बत में कभी लेन-देन नहीं होती.

Shero Shayari Love Sad शेरो शायरी लव सैड
Shero Shayari Love Sad
अब घुटन सी लगती हैं जिंदगी
पल भर का चैन नहीं मिलता..

हर अल्फाज़ तेरा याद दिलाता हैं
के तू मुझ से मोहब्बत नहीं करता..

-Vrushali

ab ghutan si lagti hai jindagi
pal bhar ka chain nahin milta..
har alfaaz tera yad dilata hai
ki tu mujhse mohabbat nahin karta..

लगा था मेरी मोहब्बत में बड़ी ताकत हैं
तुझे मुझसे दूरी बर्दाश्त ही नहीं होगी..

जब दिखा था उसका साया तेरे साथ
तो लगा था मोहब्बत दगा तो नहीं देगी..?

-Vrushali

laga tha meri mohabbat mein badi takat hai
tujhe mujhse duri bardasht hi nahin hogi..
jab dikha tha uska saya tere sath
to laga tha mohabbat daga to nahin degi..?

Sher O Shayari Sad Love – शेर ओ शायरी सैड लव

ये असर ज़रूर उसकी मौजूदगी का ही हैं
जो मेरे ना होने का अहसास नहीं होने देती..

तुम कहा रह पाते थे एक पल भी मुझ से दूर
अब तो मेरी जुदाई भी तुझे बैचेन नहीं करती..

-Vrushali

yah asar jarur uski maujoodgi ka hi hai
jo mere na hone ka ehsas nahin hone deti..
tum kahan rahte the ek pal bhi mujhse dur
ab to meri judaai bhi tujhe bechain nahin karti..

तेरी खुशी दूरी में हैं तो दूरी ही सही
पर कैसे सह पायेंगे हम तुमसे ये जुदाई..

फिर भी तेरी मोहब्बत की कसम खाते हैं
तेरे लिए अपनी हर ख्वाहिश रहने देंगे अधूरी..

-Vrushali

teri khushi duri mein hai to duri hi sahi
per kaise sah payenge ham tumse yah judaai..
fir bhi teri mohabbat ki kasam khate hain
tere liye apni har khwahish rahane denge adhuri..

Sher O Shayari Sad Love की मदद से प्रेमिका अपनी मोहब्बत की पुरानी यादों को याद करना चाहती है. जब दो लोग एक दूसरे से बहुत ज्यादा प्यार करते हैं. और उनके बीच अगर कोई तीसरा इंसान आ जाता है. तो कहीं ना कहीं उनके बीच दरार पैदा हो जाती है. अगर दोनों में सच्चा प्यार है तो वह अलग नहीं होंगे. लेकिन अगर दोनों में से किसी एक इंसान का प्यार कमजोर है तो वह दगा जरूर करेगा.

Sad Shero Shayari Image – सैड शेरो शायरी इमेज

Sad Shero Shayari Image की मदद से हम जान सकते हैं कि अक्सर इंसान बदल जाता है. लेकिन हमारे गम वही रहते हैं. जो गम हमें पहले किसी इंसान ने दिए थे वही गम हमें कोई और दे जाता है. लेकिन इस बार दर्द ज्यादा होता है. क्योंकि पहली बार भरोसा टूटता है तो हम दूसरी बार भरोसा रखने के लिए सोचते हैं. लेकिन दूसरी बार भरोसा टूट जाए तो हम बहुत ज्यादा घबरा जाते हैं. उस वक्त हमें ऐसा लगता है कि शायद हमने भरोसा नहीं किया होता तो अच्छा होता. हम अपने ही फैसले पर पछताते हैं.

जिंदगी में इस बात से भी गम मिले,
दूर थे, शायद इसीलिए भी हम कम मिले..

जब होना ही नहीं था एक दूसरे का
फिर पल भर के लिए भी क्यों हम मिले..?

zindagi mein is baat se bhi gam mile
dur the, shayad isliye bhi ham kam mile..
jab hona hi nahin tha ek dusre ka
fir pal bhar ke liye bhi kyon ham mile..?

महफिल में कोई तो पसंद करेगा हमें भी,

होगा कोई तो क़दरदान सादगी का भी..!

mahfil mein koi to pasand karega hamen bhi,
hoga koi to kadardan sadagi ka bhi..!

Sad Shero Shayari – सैड शेरो शायरी

Sad Shero Shayari सैड शेरो शायरी
Sad Shero Shayari
चाहत में उसकी और मेरी
फ़र्क बस इतना था..

उसे खाली वक्त गुजारना था
और मुझे पूरी जिंदगी...

chahat mein uski aur meri
fark bas itna tha..
use khali waqt gujar na tha
aur mujhe puri jindagi…

रिश्ते जरूर टूटा करते हैं साहब..

मगर उनसे तो इश्क़ है हमें..!

rishte jarur tuta karte hain sahab,
magar unse to ishq hai hamen..!

Sad Shero Shayari को सुनकर हर माशुका अपनी जिंदगी की पहली मोहब्बत को याद करना चाहेगी. मगर उसे पता है कि कई लोगों को मोहब्बत गम से मिला देती है. उनकी जिंदगी में दर्द ले आती है. किसी की नफरत उन्हें जिंदगी भर सताती है. म रने के बाद भी अगर कोई आंसू बहाए तो उन्हें और ज्यादा दर्द होता है.

1)

सौदागर नहीं हूं मैं, जो प्यार के
बदले प्यार का सौदा करूंगा..

सच्चा आशिक हूं मैं, नफरत के
बदले भी मोहब्बत ही दूंगा..

-Vrushali

saudagar nahin hun main, jo pyar ke
badle pyar ka sauda karunga..
saccha aashiq hun main, nafrat ke
badle bhi mohabbat hi dunga..

2)

प्यार का वादा करके
साथ मेरा छोड़ गई..

तुम तो बातों बातों में
मेरा दिल तोड़ गई..

-Santosh

pyar ka wada kar ke
sath mera chhod gayi..
tum to baton baton mein
mera dil tod gayi..

3)

मेरा प्यार इतना कम-ज़र्फ़ नहीं है
जो मौसम बदलने से हवा हो जाएगा..

रिश्ता हमारा है सागर से भी गहरा
ख़राब मौसम में भी ये अटूट रहेगा..

-Vrushali

mera pyar itna kam-zarf nahin hai
jo mausam badalne se hawa ho jayega..
rishta hamara hai sagar se bhi gehra
kharab mausam mein bhi ye atut rahega..

4)

जिंदगी में मेरे शायद फिर से
प्यार की बारिश कभी नहीं होगी..

दिल में है जो मोहब्बत की ख्वाहिश
शायद अब कभी पूरी नहीं होगी..

-Kavya

jindagi mein mere shayad fir se
pyar ki barish kabhi nahin hogi..
dil mein hai jo mohabbat ki khwahish
shayad ab kabhi puri nahin hogi..

5)

मुझसे दूर जाने की बात
तुमने बड़ी आसानी से कह दी..

मेरे दिल के टूटने की आवाज
तूने बातों में कहीं गुम कर दी..

-Vrushali

mujhse dur jane ki baat
tumne badi aasani se kah di..
mere dil ke tutane ki awaaz
tune baton mein kahin gum kar di..

6)

पछताता हूं दिल से तेरे
मैंने शरारत क्यों की..

खुद ही सोचता हूं कि
तुमसे मोहब्बत क्यों की..

-Gauri

pachatata hun dil se tere
maine shararat kyon ki..
khud hi sochta hun ki
tum se mohabbat kyon ki..

7)

दर्द मेरे दिल के
अब कम ही नहीं होते..

दिन मेरी जिंदगी के
ना जाने क्यों खत्म नहीं होते..

-Vrushali

dard mere dil ke
ab kam hi nahin hote..
din meri jindagi ke
na jaane kyon khatm nahin hote..

8)

पता नहीं था सनम के तू हरजाई है..

प्यार में तुझसे मिली मुझे बेवफाई है..

-Santosh

pata nahin tha sanam ke tu harjai hai..
pyar mein tujhse mili mujhe bewafai hai..

9)

महलों में रहने वाली शहजादी हो तुम
मेरी गरीब मोहब्बत तुम क्या समझोगी..

मिट्टी में पैदा होकर मैं वही मिट जाऊंगा
तुम इस गरीब की जिंदगी क्या बनोगी..

-Vrushali

mahlon mein rahane wali shehzadi ho tum
meri garib mohabbat tum kya samjhogi..
mitti mein paida hokar main vahi mit jaunga
tum is garib ki jindagi kya banogi..

10)

भटक रहा हूं दरबदर अब,
राज़ मोहब्बत के छुपाऊं मैं..

तोड़ा है जो दिल तूने अब
किसे हाल-ए-दिल बताऊं मैं..

-Gauri

bhatak raha hoon dar badar ab,
raaz mohabbat ke chhupaun main..
toda hai jo dil tune ab
kise hal-a-dil bataun main..

11)

चांद से खूबसूरत है तुम्हारा चेहरा
मगर दिल बहुत ही छोटा है..

पैसों से नापती हो इंसान का गुमान
लगता है गरीब तुम्हें खोटा है..

-Vrushali

chand se khubsurat hai tumhara chehra
magar dil bahut hi chhota hai..
paison se napti ho insan ka guman
lagta hai garib tumhen khota hai..

12)

पछतावा हो रहा है अब
किया जो मैंने पागलपन है..

मोहब्बत में मिली बेवफाई से
तो बेहतर ये अकेलापन है..

-Kavya

pachtawa ho raha hai ab
kiya jo maine pagalpan hai..
mohabbat mein mili bewafai se
to behtar ye akelapan hai..

13)

टूटे हुए इस दिल से
मेरे आह निकलेगी..

अब तो उम्र मेरी
तनहाई में ही गुजरेगी..

-Gauri

tute hue is dil se
mere aah nikalegi..
ab to umra meri
tanhai mein hi gujregi..

14)

दिल को अपने ना कभी
मोहब्बत की हवा लगाएंगे..

अब उस बेवफ़ा से हम
कभी दिल ना लगाएंगे..

-Santosh

dil ko apne na kabhi
mohabbat ki hawa lagayenge..
ab us bewafa se ham
kabhi dil na lagayenge..

15)

जान ना पाया बेवफाई
करने की नियत थी तेरी..

मोहब्बत की तुझसे मैंने
शायद यही गलती थी मेरी..

-Kavya

jaan na paya bewafai
karne ki niyat thi teri..
mohabbat ki tujhse maine
shayad yahi galti thi meri..

16)

दिल दिया था तुझे मगर
तूने मुझसे बेवफाई की..

सच्चे प्यार के बदले मुझसे
आखिर क्यों फरेबी की..

-Gauri

dil diya tha tujhe magar
tune mujhse bewafai ki..
sacche pyar ke badle mujhse
aakhir kyon farebi ki..

17)

तहे दिल से मैंने मोहब्बत का इजहार किया..

तूने मगर दिल तोड़ कर प्यार में धोखा दिया..

-Santosh

tahe dil se maine mohabbat ka izhaar kiya..
tune magar dil tod kar pyar mein dhokha diya..

18)

सच्ची चाहत की जान से
कीमत भर चुका है..

अब तेरा महबूब प्यार में
खुदकुशी कर चुका है..

-Kavya

sacchi chahat ki jaan se
kimat bhar chuka hai..
ab tera mehboob pyar mein
khudkhushi kar chuka hai..

19)

खुशकिस्मती से मांगा था प्यार
नसीब में रुसवाई आ गई..

मेरी जिंदगी पर तेरी बेवफाई
आफत बनकर छा गई..

-Gauri

khushkismati se manga tha pyar
naseeb mein ruswai aa gayi..
meri jindagi per teri bewafai
aafat bankar chha gayi..

20)

अपना था माना तुम्हें मगर
चाहत का ये सिला दिया..

मेरा दिल तोड़कर सनम
तूने मुझे जो भुला दिया..

-Santosh

apna tha mana tumhen magar
chahat ka ye sila diya..
mera dil tod kar sanam
tune mujhe jo bhula diya..

21)

हालात बताऊं किसे मेरे
जब मेरा वक्त ना रहा..

मेरी चाहत का उस पर
अब कोई हक ना रहा..

-Kavya

halat bataun kise mere
jab mera waqt na raha..
meri chahat ka us per
ab koi haq na raha..

22)

धोखे से मिली है जुदाई तो
उसे अपनी तकदीर मान ली है..

जुदा होकर तुमसे मैंने अब
दुनिया की सच्चाई जान ली है..

-Gauri

dhokhe se mili hai judai to
use apni takdeer maan li hai..
judaa hokar tumse maine ab
duniya ki sacchai jaan li hai..

23)

धोखा जो दिया तुमने,
मैं तुझसे जुदा हो गया..

प्यार से तुम्हें दिल में
बसाकर मैंने क्या पाया..

-Santosh

dhokha jo diya tumne,
main tujhse judaa ho gaya..
pyar se tumhe dil mein
basakar maine kya paya..

24)

ओ फरेबी, कैसे भुला दूं
अपने दिल का दर्द..

अपनों ने ही जो दिया है
मुझे मोहब्बत का दर्द..

-Kavya

o farebi, kaise bhula doon
apne dil ka dard..
apnon ne hi jo diya hai
mujhe mohabbat ka dard..

25)

हर किसी के लिए प्यार में
दिल आशना नहीं होता..

चाहत में हर किसी का
वक्त हमेशा नहीं होता..

-Gauri

har kisi ke liye pyar mein
dil aashana nahin hota..
chahat mein har kisi ka
waqt hamesha nahin hota..

26)

रुक गई है धड़कनें भी,
हो गया हूं गुमसुम..

समझ नहीं आ रहा है,
वक्त बदल गया या तुम..!

-Santosh

ruk gayi hai dhadkane bhi,
ho gaya hun gumsum..
samajh nahin aa raha hai,
waqt badal gaya ya tum..!

27)

धोखा देकर जब से तू
मुझे छोड़ चला गया..

जिंदगी में अब हंसने का
कोई बहाना ना रहा..

-Kavya

dhokha dekar jab se tu
mujhe chhod chala gaya..
jindagi mein ab hansne ka
koi bahana na raha..

28)

जुदा हो गया है तू फिर भी
मुझे क्यों तड़पाता है..

आज भी रातों में मुझे बस
तेरा ख्याल सताता है..

-Gauri

judaa ho gaya hai tu fir bhi
mujhe kyon tadpata hai..
aaj bhi raaton mein mujhe bus
tera khyal satata hai..

29)

क्या मेरे बिन अकेले में
अब नींद भी तुझे आती है..

बताओ बेवफा, क्या मेरी
यादें भी तुझे कभी रुलाती है..

-Santosh

kya mere bin akele mein
ab neend bhi tujhe aati hai..
batao bewafa, kya meri
yadein bhi tujhe kabhi rulati hai..

30)

दिल जो लगाया तुझसे तो
अब खुद पर बड़ा शर्मिंदा हूं मैं..

जुबान छीन गई है जुदाई तेरी
कैसे मुंह खोलूंगा, जिंदा कहां हूं मैं..

-Kavya

dil jo lagaya tujhse to
ab khud per bada sharminda hoon main..
zubaan chhin gai hai judaai teri
kaise munh kholunga, jinda kahan hun main..

31)

तकदीर से घने अंधेरे की
चादर कैसे हटेगी मेरी..

हैरान हूं अब ये जिंदगी
अकेले कैसे कटेगी मेरी..

-Gauri

takdeer se ghane andhere ki
chadar kaise hategi meri..
hairan hun ab ye jindagi
akele kaise kategi meri..

32)

जुदा होकर मुझसे अब
क्या वो रात जागती होगी..

उसे तो शायद मेरे दिल की
आह भी नहीं सुनाई देती होगी..

-Kavya

juda hokar mujhse ab
kya vo raat jaati hogi..
use to shayad mere dil ki
aah bhi nahin sunai deti hogi..

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Conclusion

दुःख भरी शेरो शायरियां को सुनकर आप भी जरूर अधूरी मोहब्बत की यादों में खो गए होंगे. दोस्तों यह प्यार ही ऐसी बात होती है जो चाहे कितनी भी क्यों ना मिले कम ही लगती है. इस बारे में आप क्या सोचते हैं दोस्तों? हमें comment area में comment करते हुए जरूर बताईये.

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.

Add Comment