दर्द भरी 35+ ‘Dil dukhane wali Shayari’ का संग्रह

Dil dukhane wali Shayari is a form of Hindi poetry that describes the pain of the heart, especially when you are in a love relationship. If you scroll through this blog post then you will find a bunch of Shayari written on sad emotions.

Whenever you feel the pain in a broken relationship then you need to read this kind of दिल दुखने वाली शायरी स्टेटस, so that you can feel better. Irrespective of the situation you are in now. We as a Shayari-Sukun team, want you to take care of yourself.

Table of Content

  1. Dil Dukhane Wali Shayari Status – दिल दुखाने वाली शायरी स्टेटस
  2. Dil Dukhane Wali Shayari Image – दिल दुखाने वाली शायरी इमेज
  3. Dil Dukhane Wali Shayari Hindi Mein- दिल दुखाने वाली शायरी हिंदी में
  4. Dil Dukhane Wali Shayari In Hindi – दिल दुखाने वाली शायरी इन हिंदी
  5. Dil Dukhane Wali Shayari – दिल दुखाने वाली शायरी
  6. Conclusion

दोस्तों हमें यकीन है कि आज की हमारी प्यार में दिल टूटने वाली शायरी की पेशकश आपके दिल को जरूर पसंद आएगी. और साथ ही आप इस दिल तोड़ने वाली शायरी को अपने दोस्तों एवं चाहने वाले इंसानों के साथ भी जरूर शेयर करें.


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏




Listen to Dil Dukhane Wali Shayari | Voice-Over: Kalyani Shah


Dil Dukhane Wali Shayari Status – दिल दुखाने वाली शायरी स्टेटस

दिल दुखने वाली शायरी की मदद से माशूका अपने बेवफा यार के लिए हमेशा सलामती की ही दुआ करना चाहती है. क्योंकि किसी कारणवश हमें उस इंसान को किसी और के साथ विदा करना पड़ता है. मगर तहे दिल से प्यार होने की वजह से वह उस इंसान को खुद से दूर जाने देती हैं. लेकिन वह उससे इतना प्यार करती हैं कि जब वह वापस आना चाहे. तो उसे वापस आने के लिए अपना दरवाजा खुला रखते हैं.

तू सलामत रहे यहीं दुआ करते हैं
किसी और के साथ तुझे विदा करते है..

वापसी के लिए दर खुला रखेंगे अपना
मोहब्बत पर इतना हम भरोसा करते हैं..

-Vrushali

tu salamat rahe yahi dua karte hain
kisi aur ke sath tujhe vidaa karte hain..
wapasi ke liye dar khula rakhenge apna
mohabbat per itna ham bharosa karte hain..

तेरी महफील में वो चांद जरूर होगा
जिसे कभी तुमने मेरे साथ देखा था..

तूने कहा था मुझसे खूबसूरत नहीं हैं वो
तभी मैंने तुम्हारा झूट पकड़ लिया था..

-Vrushali

teri mahfil mein vo chand jarur hoga
jise kabhi tumne mere sath dekha tha..
tune kaha tha mujhse khubsurat nahin hai vah
tabhi main tumhara jhooth pakad liya tha..

Dil Dukhane Wali Shayari Image – दिल दुखाने वाली शायरी इमेज

Dil Dukhane Wali Shayari Image को सुनकर महबूबा को अपनी मोहब्बत पर यकीन हो जाएगा कि उसका यार उसके पास वापस जरूर आएगा. क्योंकि वह सोचती है कि बेवफाई की सजा यही होती है. चीजें पुरानी हो जाए तो उन्हें उस में कोई दिलचस्पी नहीं रहती. लेकिन इंसान कोई चीज नहीं है.

Dil Dukhane Wali Shayari Image दिल दुखाने वाली शायरी इमेज
Dil Dukhane Wali Shayari Image
अब नए लोगों का दौर आया है
मैं उन सबसे ज्यादा पुरानी हूं..

जानती हूं तुम्हें मोहब्बत हैं मुझसे
पर तेरी नई आदतों से वाकीफ हुं..!

-Vrushali

ab naye logon ka daur aaya hai
mein sabse jyada purani hoon..
janti hun tumhen mohabbat hai mujhse
per teri nai aadaton se waqif hoon..!

हर दर्द तूने आज मेरे हवाले कर दिया
खुदगर्जी का ऐसा इल्जाम लगा दिया..

जिस मोहब्बत पर था बस तेरा ही नाम
उस मोहब्बत को तूने आज ठुकरा दिया..

-Vrushali

har dard tune aaj mere hawale kar diya
khudgarji ka aisa ilzaam laga diya..
jis mohabbat per tha bus tera hi naam
use mohabbat ko tune aaj thukra diya..

इंसान जितना पुराना होता है हमें उससे उतना ही गहरा प्यार होता है. लेकिन कुछ लोगों को इंसान के पुराने हो जाने पर बदलाव जरूरी लगता है. ऐसे लोग हमेशा अपने आसपास के लोग बदलते रहते हैं. हर किसी से प्यार का वादा करते हैं और हर बार वह तोड़ भी देते हैं. किसी के साथ वह पुरी उम्र नहीं गुजार सकते.

Dil Dukhane Wali Shayari Hindi Mein- दिल दुखाने वाली शायरी हिंदी में

Dil Dukhane Wali Shayari Hindi Mein की मदद से प्रेमिका अपने यार के वादों को याद करना चाहती है . और कहती है कि जिस इंसान से वह एक पल भी दूर नहीं रह पाती थी. आज उसी इंसान से उसे खुद दूरी बनानी पड़ रही है. किसी और के आने से ऐसा होना जायज तो नहीं है. लेकिन थोड़ी देर के लिए सही कभी कभी ऐसा हो जाता है. अगर बात बस बहकने तक है तो शायद माफी मिल भी सकती है. लेकिन बात दगा करने तक चली जाए तो शायद उसकी माफी नहीं मिलती.

तूने तो अपनी पलकों पे बिठाया था मुझे
जमीन पर पांव रखने की इजाज़त न थी मुझे..

फिर भी हमेशा कमी ही रहीं जिंदगी में
क्योंकि एक तेरी बाहों की तलाश थी मुझे..

-Vrushali

tune to apni palko pe bithaya tha mujhe
zameen per pav rakhne ki ijaajat na thi mujhe..
fir bhi hamesha kami hi rahi jindagi mein
kyunki ek teri hi baho ki talash thi mujhe..

कुछ था हुनर खुद में और
कुछ मोहब्बत ने दिया..

बेवफाई ने तेरी कुछ यूं
हमें शायर बना दिया..!

kuchh tha hunar khud mein aur
kuchh mohabbat ne diya..
bewafai ne teri kuchh yun
hamen shayar banaa diya..!

Dil Dukhane Wali Shayari In Hindi – दिल दुखाने वाली शायरी इन हिंदी

Dil Dukhane Wali Shayari In Hindi की मदद से प्रेमी अपने बेगैरत हुए दिलबर की बेवफाई का बयान देना चाहता है. और यही सोचता है कि जो इंसान हमसे प्यार करता है, वह हमारी तुलना किसी और से नहीं करेगा. लेकिन जिस का प्यार सच्चा नहीं है वह इंसान यह गलती कर लेता है. हमसे खूबसूरत इंसान अच्छा लगने लगता है. उसके यही जज्बात हम उसकी आंखों में पढ़ लेते हैं.

अरसा हो गया नहीं मिले हम,
याद नहीं आती क्या..?

इठलाती ये जुल्फें, आंखों के
सामने नहीं आती क्या..?

arsa ho gaya nahin mile ham,
yad nahin aati kya..?
ithalati ye julfen, aankhon ke
samne nahin aati kya..?

जिंदगी ये मुझे अब आसान नहीं लगती
तेरे सिवा कोई चीज मुझे अब नहीं जचती..

मरता हूं पल पल तेरी याद में जानेमन,
तू है दूर, तो पास खुशियां भी नहीं रुकती...

jindagi ye mujhe ab aasan nahin lagti
tere siva koi chij mujhe ab nahin jachti..
marta hun pal pal teri yad mein janeman
tu hai dur to pass khushiyan bhi nahin rukti..

Dil Dukhane Wali Shayari – दिल दुखाने वाली शायरी

Dil Dukhane Wali Shayari दिल दुखाने वाली शायरी
Dil Dukhane Wali Shayari
निकाल फेंका है दिल से तुमने
एक दिन फिर वापस आऊंगी मैं..

गलतफहमी में जी रहे हो तुम
बेवफाई से तेरे बर्बाद हो जाऊंगी मैं..

nikal feka hai dil se tumne
ek din fir wapas aaungi main..
galatfahmi me ji rahe ho tum
bewafai se tere barbad ho jaaungi main..

सबसे करा के मेरा बैर..

वो क्यों हो गए मुझसे गैर..?

sabse kara ke mera bair..
vo kyon ho gaye mujhse gair..?

Dil Dukhane Wali Shayari को सुनकर की मदद से दिलरुबा अपने दिल का हाल बताना चाहती है. और हमेशा सोचती है कि जिसे अपने दिल में जगह दी थी. उसे ही वह अपने दिल से निकालना चाहती है. उसकी खुशी के लिए ही सही पर वह जब उस इंसान से दूर हो जाती हैं. तब जैसे वह अपने सभी ख्वाब अधूरे ही छोड़ देती हैं. बस उस इंसान की खुशी के लिए जिससे वह सबसे ज्यादा प्यार करती थी.

1)

मुबारक हो सनम तुम्हें
तुम्हारी यह आज़ादी..

दिल दुखाने वाली तुम
नहीं सह सकोगी मेरी बर्बादी..

-Vrushali

mubarak ho sanam tumhen
tumhari yah azadi..
dil dukhane wali tum
nahin sah sakogi meri barbadi..

2)

कश्ती थी वही मेरे जिंदगी की,
और समंदर का किनारा भी..

मेरा दिल दुखाया है जिसने
उसी का था मुझे सहारा भी..!

-Kavya

kashti thi vahi mere jindagi ki,
aur samander ka kinara bhi..
mera dil dukhaya hai jisne
usi ka tha mujhe sahara bhi..!

3)

राह पर एक अजनबी से
हमारी मुलाकात हो गई..

दिल दुखाने वाली कहानी की
बस वहीं से शुरुआत हो गई..

-Vrushali

raah per ek ajnabi se
hamari mulakat ho gai..
dil dukhane wali kahani ki
bus vahi se shuruaat ho gai..

4)

अब ना टूटेगा दिल ये
भरोसा कैसे दिलाऊं..

जिसने दिल दुखाया है
मेरा उसे कैसे भुलाऊं..

-Gauri

ab na tutega dil ye
bharosa kaise dilaun..
jisne dil dukhaya hai
mera use kaise bhulaaun..

5)

दिल दुखाने वाली हर बात
मैं हंसते हुए सुनता रहा..

शादी उसकी तय हो गई
और मैं बस देखता रहा..

-Vrushali

dil dukhane wali har baat
main hanste hue sunta raha..
shaadi uski tay ho gai
aur main bus dekhta raha..

6)

एक दिन तेरे प्यार की हैसियत
दुनिया को बताऊंगा..

मेरा दिल दुखाने की सजा
तुम्हें जरूर दिलाऊंगा..

-Santosh

ek din tere pyaar ki haisiyat
duniya ko bataunga..
mera dil dukhane ki saza
tumhen jarur dilaunga..

7)

सौदा किया उसने मेरे दिल का
पैसे वाले एक सौदागर के साथ..

दिल दुखाने वाली कहानी सुनाता हूं
कफ़न में लिपटे हुए जिस्म के साथ..

-Vrushali

sauda kiya usne mere dil ka
paise wale ek saudagar ke sath..
dil dukhane wali kahani sunata hun
kafan mein lipte hue jism ke sath..

8)

बेवफ़ाई का ये सिला दिया है तूने..

दिल मेरा जो दुखा दिया है तूने..

-Gauri

bewafai ka ye sila diya hai tune..
dil mera jo dukha diya hai tune..

9)

मौसम है बदला हुआ
हर चेहरा है मुरझा हुआ..

दिल दुखाने वाली हुई है बात
यह आशिक है मरा हुआ..

-Vrushali

mausam hai badla hua
har chehra hai murjha hua..
dil dukhane wali hui hai baat
yah aashiq hi mara hua..

10)

पता नहीं मोहब्बत में उसे मजबूरी क्या थी..

आखिर मेरा दिल दुखाने की वजह क्या थी?

-Kavya

pata nahin mohabbat mein use majburi kya thi..
aakhir mera dil dukhane ki vajah kya thi?

11)

हर राह पर साथ रहने की
तूने खाई थी मेरे साथ कसम..

फिर तोड़ कर कसम तुम क्यों
दिल मेरा दुखाकर गई सनम..

-Vrushali

har raah per sath rahane ki
tune khai thi mere sath kasam..
fir tod kar kasam tum kyon
dil mera dukha kar gai sanam..

12)

खुदा करे किसी के जिंदगी में
कभी ऐसा मकाम ना आएं..

दुखाया है जिसने दिल मेरा,
जुबां पर वो नाम ना आए..

-Santosh

khuda kare kisi ke jindagi mein
kabhi aisa makaam na aaye..
dukhaya hai jisne dil mera,
zubaan par vo naam na aaye..

13)

जिंदा रहने की हर आस खो बैठा हूं
दिल दुखाने वाली बात सुन बैठा हूं..

आजा सनम मेरे जनाजे को कंधा देने
आरजू दिल में लिए धड़कन गवा बैठा हूं..

-Vrushali

jinda rahane ki har aas kho baitha hun
dil dukhane wali baat sun baitha hun..
aaja sanam mere janaje ko kandha dene
aarzoo dil mein liye dhadkan gawa baitha hun..

14)

न जाने कब अपनी
जिंदगी से किनारा किया..

मेरा दिल दुखा कर
उसने मुझे बेसहारा किया..

-Gauri

na jaane kab apni
jindagi se kinara kiya..
mera dil dukha kar
usne mujhe besahara kiya..

15)

चाहत में भरोसा कर लिया उसका..

अब मैंने दिल दुखा लिया है खुद का..

-Santosh

chahat mein bharosa kar liya uska..
ab maine dil dukha liya hai khud ka..

16)

अपने दर्द की जाकिर
दुनिया से छिपानी है मुझे..

अब पूरी जिंदगी उसी की
याद में बितानी है मुझे..

-Kavya

apne dard ki jaakir
duniya se chhipani hai mujhe..
ab puri jindagi usi ki
yad mein bitani hai mujhe..

17)

बेवफा के लिए अब ये
कैसी तमन्ना जागी मुझमें..

दिल दुखा कर जाने की
इजाजत भी ना मांगी उसने..

-Gauri

bewafa ke liye ab ye
kaisi tamanna jagi mujhme..
dil dukha kar jaane ki
ijazat bhi na mangi usne..

18)

सनम तुमसे किए चाहत के
वादे अब भूल गए हैं हम..

दिल जो दुखाया है तूने
तो मजबूर हो गए हैं हम..

-Santosh

sanam tumse kiye chahat ke
vade ab bhul gaye hain ham..
dil jo dukhaya hai tune
to majbur ho gaye hain ham..

19)

गर बाकी हो कुछ सितम
तो हमें जरूर दे जाना..

दुखा ही दिया है दिल तो
अपनी यादें भी ले जाना..

-Kavya

gar baki ho kuchh sitam
to hamen jarur de jana..
dukha hi diya hai dil to
apni yaden bhi le jana..

20)

जान भी ले गई है साथ,
बाकी क्या रह गया मेरा..

दिल जो दुखा दिया है
अब उस जालिम ने मेरा..

-Gauri

jaan bhi le gai hai sath,
baki kya rah gaya mera..
dil jo dukha diya hai
ab us jalim ne mera..

21)

मोहब्बत के ग़मों से
सारी जिंदगी मेरी भर दी..

उस जालिम ने ऐसी दिल
दुखाने वाली बात कर दी..

-Santosh

mohabbat ke gamon se
sari jindagi meri bhar di..
us jalim ne aisi dil
dukhane wali baat kar di..

22)

आंसुओं से दामन मैंने
खुद का भर लिया..

दिल दुखा कर दर्द को
वो मेरे नाम कर गया..

-Kavya

aansuon se daman maine
khud ka bhar liya..
dil dukha kar dard ko
vo mere naam kar gaya..

23)

जिस्म से जान जुदा
करना भुला दिया उसने..

दिल तो ख़ैर दुखा ही
दिया है उस बेवफा ने..

-Gauri

jism se jaan juda
karna bhula diya usne..
dil to khair dukha hi
diya hai us bewafa ne..

24)

मुझसे झूठी मोहब्बत कर
उसने क्या साबित किया..

मेरा दिल दुखा कर न जाने
उसे क्या हासिल हुआ..

-Santosh

mujhse jhuthi mohabbat kar
usne kya sabit kiya..
mera dil dukha kar na jaane
use kya hasil hua..

25)

बेवफाई की सजा मिली मुझे बेमिसाल थी..

दिल दुखाने की अदा भी उसकी कमाल थी..

-Kavya

bewafai ki saja mili mujhe bemisaal thi..
dil dukhane ki ada bhi uski kamal thi..

26)

उस नादान की बेवफाई को
मैं समझा के मोहब्बत थी..

हर किसी का दिल दुखाने की
शायद उसे बुरी आदत थी..

-Gauri

us nadan ki bewafai ko
main samjha ke mohabbat thi..
har kisi ka dil dukhane ki
shayad use buri aadat thi..

27)

मोहब्बत के शहर में
आज ये आगाज होगा..

मेरा दिल दुखाने पर शायद
तुझे बड़ा नाज होगा..

-Santosh

mohabbat ke shahar mein
aaj ye aagaaz hoga..
mera dil dukhane per shayad
tujhe bada naaz hoga..

28)

ना कोई आस रखता हूं
ना मोहब्बत करता हूं..

दिल दुखाने वाली बातों से
मैं अक्सर दूर रहता हूं..

-Kavya

na koi aas rakhta hun
na mohabbat karta hun..
dil dukhane wali baton se
main aksar dur rahata hun..

29)

बेगैरत थे वो, चले गए
जो दिल दुखा कर..

हमारी जिंदगी में आए थे
वो आफत बनकर..

-Gauri

begairat the vo, chale gaye
jo dil dukha kar..
hamari jindagi mein aaye the
vo aafat bankar..

30)

दिल दुखा के वो बताता है
सबको ये किस्सा..

मेरी जिंदगी का आज भी
उदास है वो हिस्सा..

-Santosh

dil dukha ke vo batata hai
sabko ye kissa..
meri jindagi ka aaj bhi
udaas hai vo hissa..

31)

बेवफाई करने में जरा भी देरी ना की..

दिल दुखाकर उसने कोई गलती ना की..

-Kavya

bewafai karne mein jara bhi deri na ki..
dil dukha kar usne koi galti na ki..

32)

तकदीर तो जिंदगी के
साथ खेलनी ही थी..

दिल दुखाने की सजा तो
मुझे मिलनी ही थी..

-Gauri

takdir to jindagi ke
sath khelni hi thi..
dil dukhane ki saza to
mujhe milni hi thi..

33)

उसकी यादों में रो-रो कर
मेरे ख्वाब भी भीग गए..

ऐसा दिल दुखाया है मेरा
के आंसू भी सूख गए..

-Kavya

uski yadon mein ro-ro kar
mere khwab bhi bheeg gaye..
aisa dil dukhaya hai mera
ke aansu bhi sukh gaye..

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Conclusion

दर्द भरी दिल दुखने वाली शायरी का संग्रह को सुनकर महबूबा को अपने यार की यादों में जगाई रातें याद आ जाती है. और वह उसकी अधूरी छोड़ी गई कसमो को याद करते हुए अपने आंसू बहाती रहती है. क्या आपने भी कभी ऐसा दर्द महसूस किया है दोस्तों? हमें comment करते हुए जरूर बताईये.

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.

One Response

  1. Santosh March 11, 2022

Add Comment