Maut Ki Shayari -5: Dard Bhare Sad Death SMS

Maut Ki Shayari : दोस्तों, आज तक मौ त से भला कौन बच सका है. यह बात हम सभी लोग जानते हैं कि एक ना एक दिन सभी को इस जहां को छोड़कर जाना ही है. लेकिन जब तक हमें जिंदगी में सांसे मिली है. क्यों ना हम इस जिंदगी को कुछ इस तरीके से जिए. जिसे जीते हुए हमें खुद पर नाज़ हो. और हमारे जाने के बाद दूसरों को हम पर फक्र महसूस हो.

तो आइए दोस्तों, इसी मौत की सच्चाई पर लिखी हुई चंद कफ़न शायरी, मौत की शायरी, मय्यत शायरी को सुनें. और साथ ही आप इन्हें अपने दोस्तों एवं चहेते इंसानों के साथ भी जरूर साझा करें.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


Ehsaas by Ketki इनकी आवाज में इन मौत पर लिखी शायरियों को सुनकर आशिक के दिल के हालात समझ जाओगे!

Friends, we have lot of best Mayyat shayari Kafan shayari Janaza shayari collection in Hindi. We wish you will like our Maut Ki Shayari in hindi. As you know no one is Immortal in this world. And so you have to one has to live his life with joy. And so we hope you will like our death shayari collection, Maut shayari in Hindi, Marne ki shayari.

तो चलिए दोस्तों, बिना देर किए आज के हमारे सबसे बेहतरीन मरने की शायरी, मौत पर शायरी को पढ़ते हैं. और साथ ही साथ हमारे होनहार वॉइस ओवर आर्टिस्ट की आवाज में सुनने का भी लुत्फ़ उठाते हैं. हमें यकीन है कि आज के हमारे Dard Bhare Sad Death SMS को सुनकर आप जिंदगी और मौ त के सच को जरूर अच्छी तरह से जान पाओगे.

Table of Content

  1. Meri Maut Shayari In Hindi – मेरी मौत शायरी इन हिंदी
  2. Maut Shayari Images – मौत शायरी इमेजेस
  3. Shayari On Maut – शायरी ऑन मौत
  4. Maut Shayari – मौत शायरी
  5. Maut Ki Shayari – मौत की शायरी
  6. Conclusion

Meri Maut Shayari In Hindi – मेरी मौत शायरी इन हिंदी

Meri Maut Shayari In Hindi
Meri Maut Shayari In Hindi
1)

इस दिवाने का हौसला देख
आज मौ त भी ख़ौफ़ज़दा है..

मेहबूब के सिवा ज़िंदगी का
हर इक पल ग़मज़दा हैं..

-Vrushali

is deewane ka hosla dekh
aaj maut bhi khofjyada hai..

mehboob ke siwa zindagi ka
har ek pal gamjada hai..

2)

मसला जिंदगी का कहा है साहब
वो तो गमगीन आशिकी का है..

रूठ गई जब से हमारी रूह हमसे
तब से हमें इंतज़ार बस मौत का है..

-Vrushali

masala jindagi ka kahan hai sahab
vah to gamgin aashiqui ka hai..

rooth gayi jab se hamari ruh humse
tab se hamen intezar bus mau t ka hai..

Meri Maut Shayari In Hindi की मदद से आशिक रूठी जिंदगी को मनाना चाहता है. लेकिन वह अपने मौ त का इंतजार भी करने के लिए अब तैयार नहीं है. क्योंकि उसे लगता है कि आशिकी का मसला शायद अभी ख त्म नहीं हुआ है.

Maut Shayari Images – मौत शायरी इमेजेस

3)

ख़ुश कहा थे तुम से दूर होकर
वो तो तुम्हारी गुस्ताखी थी..

हमारी मौ त का खेल भी रचा
और हमसे छुपा भी ना सकी..

-Vrushali

khush kahan the tum se dur hokar
vo to tumhari gustakhi thi..

hamari mau t ka khel bhi racha
aur humse chhupa bhi na saki..

4)

मोहब्बत के रास्ते पर
बेवफ़ा से मुलाकात हुई..

दिल्लगी की उम्र में हमें
वो सज़ा-ए-मौत दे गई..

-Vrushali

mohabbat ke raste per
bewafa se mulakat hui..

dillagi ki umra mein hamen
vah saja a maut de gai..

Maut Shayari Images की मदद से आशिक दिलरुबा से प्यार की गुस्ताखी की बात करना चाहता है. क्योंकि वह बेवफा उसे कम उम्र में ही जिंदगी की सबसे बड़ी सजा ही देकर गई है. जिसे आशिक को अकेले ही भुगतना होगा.

Shayari On Maut – शायरी ऑन मौत

5)

उनकी रूह से ऐसी चाहत हुई
किसी और की अब क्या चाहत होगी..

वो मिले ना मिले हमें ज़िंदगी में
मौ त के लिए अच्छी वजह क्या होगी..

-Vrushali

unki rooh se aisi chahat hui
kisi aur ki ab kya chahat hogi..

vah mile na mile hamen jindagi mein
mau t ke liye acchi vajah kya hogi..

6)

टूट चुका हूं पूरी तरह,
अब ना किसी का सहारा है..

अनजान इश्के समंदर में,
बस मौ त ही दिखता किनारा है..

tut chuka hun puri tarah
ab na kisi ka sahara hai..

anjan ishqe samander mein,
bus mau t hi dikhata kinara hai..

Shayari On Maut की मदद से आशिक अपने गम अकेले ही याद कर रहा है. और बस एक अपने जिंदगी के ख त्म होने का इंतजार कर रहा है. क्योंकि महबूब की बेवफाई में अब उसे कोई दूसरा रास्ता नहीं मिल रहा है.

Maut Shayari – मौत शायरी

7)

छुपा ना सके आप हमें
जिंदगी की बाहों में..

मौ त ने दी पनाह हमें, खो गए
उसकी निगाहों में..

chupa na sake aap hamen
jindagi ki bahon mein..

maut ne di panah hamen, kho gaye
uski nigahon mein..

8)

जिंदगी को मेरी, सांसों का
दिया कर्ज ना समझना..

कफन ओढ़ कर लेटा रहूं,
तो खुदगर्ज ना समझना..

jindagi ko meri saanson ka
diya karj na samajhna..

kafan odh kar leta rahu
to khudgarz na samajhna..

Maut Shayari की मदद से आशिक अपने महबूब को उसकी बात का बुरा ना मानने की नसीहत देना चाहता है. क्योंकि वह जब कब्रि स्तान में लिटा रहेगा. शायद उसके दिलबर को उसकी यह अदा कोई खुदगर्जी ना लगे.

Maut Ki Shayari – मौत की शायरी

Maut Ki Shayari
Maut Ki Shayari
9)

बेवफा निकला शैदाई,
जिंदगी भी निगाहे चुराए..

दरख्वास्त है खुदा से,
मौत तो हमसे वफा निभाए..

bewafa nikala shaidaai,
jindagi bhi nigahen churaye..

darkhast hai khuda se,
mau t to humse wafa nibhaye..

10)

वफादार है मौ त, उसने
आने का वादा तो निभाया..

आखिर प्यार में बेवफा तूने
मुझे जिंदा क्यों जलाया..?

wafadaar hai moth, usne
aane ka vada to nibhaya..

aakhir pyar mein bewafa tune
mujhe jinda kyon jalaya..

Maut Ki Shayari की मदद से आशिक अपने जिंदगी से तंग आई बात को बताना चाहता है. क्योंकि अब उसे सिर्फ अपनी मौ त पर ही भरोसा आ रहा है. उसे लगता है बस अब कफन ही आखिर तक उसका साथ निभाएगा.

Conclusion

दोस्तों, कफ़न शायरी का दर्द तो सिर्फ प्यार में बेवफाई सहने वाला आशिक ही समझ सकता है. क्योंकि Dard Bhare Sad Death SMS की बात में जो सच्चाई होती है. उससे हर कोई वाकिफ नहीं होता है. क्या आपको भी कभी ऐसा एहसास हुआ है दोस्तों? हमें जरूर लिखकर भेजें.

हमारी इन Maut Ki Shayari -5 को सुनकर अगर अपने झूठे प्यार की याद आए. तो हमें comments area में comment करते हुए जरूर बताईये.

मौ त शायरी पर लिखी गयी हमारी ये पोस्ट भी आपको अच्छी लगेगी

  1. Maut Shayari -1: Death Quotes In Hindi With Images
  2. Shayari On Maut -2: Kisi Ke Chale Jane Ka Gam
  3. Maut Shayari In English -3: Life Is Too Short
  4. Maut Shayari In Hindi -4: Zindagi Ka Sabaq Quotes

अगर आप चाहते है कि आपको सारी अपडेट्स अपने Whatsapp पर मिले तो, जल्दी से ‘START’ इस मेसेज को +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.

2 thoughts on “Maut Ki Shayari -5: Dard Bhare Sad Death SMS”

  1. वाह केतकी मॅम
    सच कहा आपने अगर कोई हमारी जिंदगी में ज्यादा दखलंदाज़ी दे, तो उसका हमारे जीवन में ना होना ही बेहतर लगता है..👌👌

  2. वाह!! बहुत खूब पेशकश केतकी जी..
    सभी शायरीयां बेहतरीन तरीके से बयां की है आप ने बहुत खुब..
    उनकी रूह से ऐसी चाहत हुई
    किसी और की अब क्या चाहत होगी..
    वो मिले ना मिले हमें ज़िंदगी में
    मौ त के लिए अच्छी वजह क्या होगी..
    वृषाली मॅम यह शायरी तो बहुत कमाल लिखी है आप ने !!! Script भी उमदा!!
    शुभेच्छा!
    – कल्याणी

Leave a Comment