John Elia Shayari -2: Poetry and Poems in Hindi

John Elia Shayari : दोस्तों, आपको हमारी John Elia Shayari के ऊपर लिखी गयी पार्ट -१ पोस्ट पसंद आयी होगी. हमे काफी अच्छा रिस्पांस मिलने की वजह से आज हम आपके लिए John Elia Poems पर दूसरी पोस्ट लेकर आये है.

हमे आशा है की आपको इन John Elia Shayari Poetry in Hindi को सुनकर और पढ़कर आपको काफी अच्छा महसूस होगा. अगर आप ये पोस्ट पढ़ रहे हो तो इसमें कोई दो राय नहीं की आप भी जॉन एलीआ शायरी के कदरदान है.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


चुनिंदा जॉन एलीआ शायरी को Aishwarya Pewal इनकी आवाज़ में सुनकर आपको शायरी का नया अंदाज दिखेगा!

शायरी सुकून को ऐसे ही आप विजिट करते रहिये और आपका प्यार बाटते रहिये. हम आपको ऐसे ही चुनिंदा शायरियों को लेकर आपके सामने हाजिर होते रहेंगे, तो चलिए शुरू करते है आजका John Elia Poet शायरी का कारवां.

John Elia Poetry in Hindi Image Download

बिन तुम्हारे कभी नहीं आयी
क्या मेरी नींद भी तुम्हारी है

Bin tumhare kabhi nahin aai
Kya meri neend bhi tumhari hai

John Elia Shayari में यह बताया गया है की, अपना करीबी इंसान हमें छोड़ कर चला जाता है तो हमें नींद नहीं आती. जैसे वह खुद के साथ-साथ हमारी नींदे ले गया हो. वैसे भी हम जिस इंसान से प्यार करते हैं उसी को अपना सब कुछ मान लेते हैं. उसके होने से ही हमारी खुशियां होती है. जब वह हमारा सब कुछ ले जाता है तो हमारे पास कुछ नहीं रहता. क्योंकि हम उसे सब कुछ दे चुके होते हैं.

तू भी चुप है मैं भी चुप हूं ये कैसी तन्हाई है
तेरे साथ तेरी याद आयी क्या तू सचमुच आयी है

Tu bhi chup hai main bhi chup ho yah kaisi tanhai hai
Tere sath Teri yad aai kya tu sachmuch aai hai

जब दोस्तों कोई हमसे रूठ जाता है खासकर अपना कोई तो वह हम से बात नहीं करता. चुप हो जाता है. बिना कुछ कहे अपने अंदर ही घुटता रहता है. अकेला रहने लगता है. जिस के वजह से हम भी अकेले पड़ जाते हैं. John Elia Shayari की मदत से आप समझोगे की, जब उसकी यादें आती है तो ऐसा लगता है कहीं वह भी तो नहीं आ गया. पर यादों को तो हम ला सकते हैं उस इंसान को लाना हमारे बस में नहीं होता.

John Elia Shayari for Girlfriend

ख़ामोशी से अदा हो रस्मे-दूरी
कोई हंगामा बरपा क्यूं करें हम

Khamoshi se ada ho rasme – duri
Koi hangama barpa kyun kare ham

John Elia Shayari
John Elia Shayari

खामोशी कभी-कभी बहुत शोर मचाती है. खामोश रहना किसी को पसंद नहीं आता.लेकिन जब कोई इंसान खामोश रह जाता है तो उसके अंदर बहुत बड़ा तूफान मचा होता है. और ऐसी खामोशी जब सब कुछअदा कर रही हो तो हंगामा करने की क्या जरूरत…? खामोशी सब कुछ बयां कर दे तो लफ्जों के हंगामे की जरूरत नहीं होती.

मै ख़ुद नहीं हूं और कोई है मेरे अंदर
जो तुम को तरसता है, अब भी आ जाओ

Main khud nahin hun aur koi hai mere andar
Jo Tum Ko tarasta hai ab bhi aajao

दोस्तों कभी हमारा दिमाग कुछ और कहता है और दिल कुछ और कहता है. दिमाग हमें किसी इंसान से दूर रहने की सलाह देता है जिससे हम बेहद प्यार करते हैं. John Elia Shayari में कुछ इस प्रकार से बताया गया है की, लेकिन वह इंसान हमारे प्यार की कदर नहीं करता इसलिए दिमाग हमें उससे दूर रहने की सलाह देता है. लेकिन दिल हमारा उससे दूर रहने के लिए तैयार नहीं होता. जैसे हमारे अंदर कोई और इंसान हो जो अपने प्यार के लिए तरस रहा हो ऐसा लगता है. हम एक ही होते हुए भी खुद को बटा हुआ महसूस करते हैं.

John Elia Poet WhatsApp Status: John Elia Shayari Collection

क्या सितम है कि अब तेरी सूरत
गौर करने पर याद आती है

Kya Sitam hai ki ab Teri Surat
Gaur karne per yad aati hai

कुछ इंसान ऐसी भूल बन जाते हैं कि वक्त के साथ उन्हें भूलाया जाता है. जिनकी सूरत भी याद करने के लिए दिमाग पर जोर डालना पड़ता है. हम उन्हें भूल जाना चाहते हैं. भले ही हमें कुछ समय वह याद आते रहते हैं लेकिन वक्त के साथ हम उन्हें इस कदर भूल जाते हैं कि उन्हें याद करने के लिए वजह ढूंढनी पड़ती है.

नहीं दुनिया को जब परवाह हमारी
तो फिर दुनिया की परवाह क्यूँ करें हम

Nahin duniya Ko jab parvah hamari
To fir duniya ki parwah kyon Karen ham

दोस्तों दुनिया को कभी भी हमारी परवाह नहीं होती. इसलिए हमें पता हो हम सही है तो हमें दुनिया क्या सोचेगी इसकी परवाह नहीं करनी चाहिए. अक्सर प्यार के मामले में लोग दुनिया के बारे में सोचते हैं. John Elia Shayari को पढ़कर आपको महसूस होगा की, जिसकी कोई जरूरत नहीं होती. दुनिया हमसे प्यार नहीं करती. एक ही इंसान होता है जो हमसे बहुत प्यार करता है हमें उसकी परवाह करनी चाहिए.

John Elia Poetry for Love Relation

जो हालतों का दौर था, वो तो गुज़र गया
दिल को जला चुके है, सो अब घर जलाइए

Jo halatonka Daur tha, vah to Gujar Gaya
Dil Ko jala chuke hain, so ab Ghar jalaiye

दोस्तों कभी हम अपने हालातों की वजह से किसी का दिल दुखाते हैं. हालात तो गुजर जाते हैं मगर हमने दिया हुआ जख्म हमेशा रहता है. इसलिए हमें हालातों से मजबूर होकर किसी का दिल नहीं दुखाना चाहिए. हो सकता है उसका घर उजड़ जाए. शायर कह रहे हैं कि दिल तो जला चुके हो अब घर भी जला दो. इसमें कई ज्यादा दर्द है.

हमारे ज़ख़्म ए तमन्ना पुराने हो गए हैं
कि उस गली में गए अब ज़माने हो गए हैं

Hamare jakhm e Tamanna purane ho gaye hain
Ki us gali mein Gaye ab jamane ho gaye hain

जब जख्म पुरानी हो जाते हैं तो उनका दर्द भी कम हो जाता है. दिल के जख्मों का ऐसा नहीं होता वह जितने पुराने हो जाते हैं उतने ही गहरे भी हो जाते हैं. उन जगहों पर जाना हमें पसंद भी नहीं आता जहां हमें दर्द मिला हो. जहां की यादें हमें रुलाती हो. हम कभी उन जगहों पर उन गलियों में जाना पसंद नहीं करते जहां हमें दर्द मिलेगा.

John Elia Poems Facebook Status

यारों कुछ तो बताओ उसकी क़यामत बांहों का
वो जो सिमटते होंगे इन में वो तो मर जाते होंगे

Yaaron kuchh to batao uski kayamat bahon ka
Vah Jo simatate honge inmein vah to mar jaate honge

किसी की बाहों में बेहद सुकून होता है तो किसी की बाहों में घुटन. यह खासकर तब होता है जब बाहें अपनों की ना होकर गैरों की हो. उस समय हमें वह बाहें आकर्षित नहीं करती. बाहों में लेकर किसी ने बड़े प्यार से हमें धोखा दिया हो तब तो हमे वहा मौत से भी ज्यादा दर्द महसूस होता है.

कौन इस घर की देखभाल करें
रोज एक चीज टूट जाती है

Kaun is Ghar ki dekhbhal Karen
Roj ek cheez toot jati hai

दोस्तों दिल का हर कोना टूटा हुआ हो तो उस दिल में किसी को रहने का दिल नहीं करेगा. किसी को ऐसे घर की देखभाल करना भी पसंद नहीं आता जिस घर की हर चीज टूटी हुई हो. उन चीजों को जोड़ना बहुत मुश्किल होता है जो बहुत ही बुरी तरह से टूट चुकी होती है. दिल का हाल भी कुछ ऐसा ही होता है. यदि वह बेहद बुरी तरह टूट चुका हो तो उसे जोड़ना या उस व्यक्ति को समझाना बेहद ही कठिन काम है. ऐसे व्यक्ति के पास कोई रहना पसंद नहीं करेगा.

John Elia Shayari Image 3

John Elia Shayari Image
John Elia Shayari Image

जॉन एलीआ इनके शायरिओं के ऊपर लिखी गयी हमारी John Elia Shayari यह दूसरी पोस्ट से आपको उनकी शायरियों का लुफ्त उठाने में मदत मिली हो तो comment field में comments करते हुए हमें जरूर बताएं.

फेसबुक पर शायरी के अपडेट्स पाने के लिए इस शायरी सुकून पेज को Like जरूर करें.


John Elia -1: Love Poetry & Poem in Hindi Collection
Click above link to listen more


7 thoughts on “John Elia Shayari -2: Poetry and Poems in Hindi”

  1. बढिया पेशकष ऐश्वर्याजी 👌👌👌💐🎊

  2. John Elia, the great shayar was basically from Amroha, India.
    Well said. Aishwarya Madam.

  3. Perfect voice modulation..
    Soothing voice
    It was wonderful presentation, Aishwarya ji.. !!
    sounded like professional RJ-Show
    Beautiful Shayaries and wonderful script 👍👍👍
    Best wishes!!
    -Kalyani

Leave a Comment