Baat Nahi Karne ki Shayari | 45+ Sad बात नहीं करने की शायरी

Baat Nahi Karne Ki Shayari is the best and the only way to fill a void in your life when you’re upset. Here’s the list of some sad poems. There is a pain in relationships that bring people together and into fights. These moments can be painful but also bring about a sense of happiness as well. Here is some heart-wrenching collection of sad 45+ Baat Na Karne ki Shayari.

इसी बात पर आधारित आज की बात नहीं करने की शायरी हिंदी को हम आपके लिए लेकर आए हैं. हमें यकीन है कि आपको आज की हमारी Baat Nahi Karne Ki Shayari बहुत पसंद आएगी. तो चलिए दोस्तों अब बिना वक्त गवाएं हम आपको आज की बहाना शायरी इन हिंदी की पेशकश सुनाते हैं. ताकि आप अपने रूठे महबूब की नाराजगी जरूर दूर कर सकें.



Listen to Baat Nahi Karne ki Shayari by Sagar [shayarisukun.com]

Table of Content

  1. Pyar Baat Nahi Karne Ki Shayari – प्यार बात नहीं करने की शायरी
  2. Baat Nahi Karne Ki Shayari Hindi – बात नहीं करने की शायरी हिंदी
  3. Sorrowful Baat Nahi Karne Ki Shayari – बात नहीं करने की शायरी
  4. Baat Nahi Karne Ki Shayari Image – बात नहीं करने की शायरी इमेज
  5. Baat Nahi Karne Ki Shayari – बात नहीं करने की शायरी
  6. Conclusion

When do we need Baat na Karne Ki Shayari?


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏



जब आशिक अपनी महबूबा की किसी भी बात को ज़वाब देना नहीं चाहता है. तब उस माशूका को अपने प्रेमी की रूठी हुई सूरत याद आ जाती है. और वो अपने आशिक से उसके बात ना करने की वजह जानना चाहती है. लेकिन आशिक अपने दिलरुबा से एक पल भी बात नहीं करना चाहता है.

Pyar Baat Nahi Karne Ki Shayari – प्यार बात नहीं करने की शायरी

When you don’t want to talk, read sorrowful Baat Na Karne Ki Shayari. A sad journey through the world of broken relationships. The hardships that love causes, the lows and the highs are beautifully captured in these verses.

1)

ये कैसी ज़िद हैं तुम्हारी
हमसे बात ना करने की..

क्यों हैं तुम्हें आरजू
हमें ख़ुद से दूर करने की..

-Vrushali

ye kaisi jid hai tumhari
humse baat na karne ki..
kyon hai tumhen arzoo
hamen khud se dur karne ki..

2)

मेरा दिल उसके बिना
एक पल भी नहीं लगता..

मगर वह न जाने क्यों
मुझसे बात नहीं करता..

-Santosh

mera dil uske bina
ek pal bhi nahin lagta..
magar vah na jaane kyon
mujhse baat nahin karta..

3)

क्या वज़ह है बताओ तो
हमसे बात ना करने की..

जुर्रत किस की हुई
हमें तुमसे दूर करने की..

-Vrushali

kya vajah hai batao to
humse baat na karne ki..
jurrat kis ki hui
hamen tumse dur karne ki..

4)

प्यार में मेरे दिल को तोड़ कर
जानम इस तरह क्यों सताते हो..

अगर मुझसे बात नहीं करनी
तो ख्वाबों में क्यों आते हो..

-Gauri

pyar mein mere dil ko tod kar
janam is tarah kyon satate ho..
agar mujhse baat nahin karni
to khwabon mein kyon aate ho..

5)

नाराज़ हो हमसे तो गुस्सा करो
ये कला कहा से सीखी बात ना करने की..

सजा में हमसे हमारा चैन छीन लो
मगर कोशिश न करना हमें दूर करने की..

-Vrushali

naraj ho humse to gussa karo
ye kala kaha se sikhi baat na karne ki..
saja mein humse hamara chain cheen lo
magar koshish na karna hamen dur karne ki..

6)

सुकून के लिए दिल में
कोई बेकरारी नहीं चाहिए..

प्यार की बात करने के लिए
कोई मजबूरी नहीं चाहिए..

-Kavya

sukoon ke liye dil mein
koi bekarari nahin chahiye..
pyar ki baat karne ke liye
koi majburi nahin chahiye..

7)

मान लिया तुमने कसम खा ली
हमसे कभी बात ना करने की..

मगर खत तो लिख लेते ना
या ठान ली हमें जिंदा दफ़नाने की..

-Vrushali

man liya tumne kasam kha li
humse kabhi baat na karne ki..
magar khat to likh lete na
ya thaan li hame zinda dafanaane ki..

8)

वक़्त के साथ बदलना, सीख लिया है हमने..

बिना बात किये हंसना, सीख लिया है हमने..

waqt ke sath badalna, sikh liya hai humne..
bina baat kiye hasna, sikh liya hai humne..

9)

पसंद नहीं आये मुझे कभी महंगे तोहफ़े..

तेरी ख़ामोशी से महंगा तोहफ़ा नहीं मिला..

pasand nahin aaye mujhe kabhi mahange tohfe..
teri khamoshi se mahanga tohfa nahin mila..

Pyar Baat Nahi Karne Ki Shayari की मदद से अब आशिक को अपनी मोहब्बत का दर्द उठाना पड़ रहा है. और वह इस बात का एहसास अपने दिलबर को भी कराना चाहता है. क्योंकि उसे लगता है कि कुछ बदनसीब लोग ऐसे भी होते हैं. जो इतना दर्द सहने के बाद भी किसी मंजिल का इरादा नहीं रखते. ना ही उसे पाने के लिए किसी कश्ती में सवार होते हैं.

Baat Nahi Karne Ki Shayari Hindi – बात नहीं करने की शायरी हिंदी

Is love getting your heart crushed? Can’t figure out why things keep going wrong? Here are a few sad and heartbreaking Shayari to help you out.

10)

अजीब है मामला दोस्त
प्यार में इजहार करने का..

मुझे समझ नहीं आता तरीका
तुम्हारे बात ना करने का..

-Santosh

ajeeb hai mamla dost
pyar mein izhaar karne ka..
mujhe samajh nahin aata tarika
tumhare baat na karne ka..

11)

हज़ार कोशिशें कर लो तुम
हमसे बात ना करने की..

हम एक ही कोशिश करेंगे
तुमसे बातें शुरू करने की..

-Vrushali

hajar koshishen kar lo tum
humse baat na karne ki..
ham ek hi koshish karenge
tumse baatein shuru karne ki..

12)

चाहत में मेरे नसीब आई
अपने यार की बेख्याली है..

बात ना करने की बहुत
बड़ी सजा मुझे मिली है..

-Kavya

chahat mein mere naseeb aayi
apne yaar ki bekhayali hai..
baat na karne ki bahut
badi saja mujhe mili hai..

13)

बात ना करने की हमसे
ये कैसी ज़िद पकड़ी हैं आपने..

मनाने के लिए आपको
कायनात सर पे उठा ली हमने..

-Vrushali

baat na karne ki humse
ye kaisi jid pakdi hai aapne..
manane ke liye aapko
kaynat sar pe utha li humne..

14)

अगर मोहब्बत हो तो ही
हमें तुम पसंद कर लेना..

नफरत हो तो बात करना
हमसे जरूर बंद कर देना..

-Santosh

agar mohabbat ho to hi
hamen tum pasand kar lena..
nafrat ho to baat karna
humse jarur band kar dena..

15)

तुम्हारी ये बेहुदा कसम
जान हमारी ले जायेगी..

बात ना करने की ज़िद
जीते जी हमें मार डालेगी..

-Vrushali

tumhari ye behuda kasam
jaan hamari le jaayegi..
baat na karne ki jid
jite ji hamen maar dalegi..

16)

मेरे दिल की धड़कनें
सिर्फ तुझ पर मरती..

मगर तुम तो मुझसे
बात भी नहीं करती..

-Gauri

mere dil ki dhadkane
sirf tujh per marti..
magar tum to mujhse
baat bhi nahin karti..

Baat Nahi Karne Ki Shayari Hindi
Baat Nahi Karne Ki Shayari Hindi
17)

मर्यादा से बढ़ जाएं
बातें तो ग़म मिलते हैं..

इसी वजह से हम लोगों से
बहुत कम मिलते हैं..

maryada se badh jaaye
baaten to gam milte hain..
isi vajah se ham logon se
bahut kam milte hain..

18)

आखरी मुलाकात है गर बता देते हमें..

तो देख लेते सनम जी भर के तुम्हें..

aakhri mulaqat hai gar bata deke hamen..
to dekh lete sanam jee bhar ke tumhe..

Baat Nahi Karne Ki Shayari Hindi को सुनकर आशिक को अपनी मोहब्बत पर रोना आ रहा है. और पानी से भरी उसकी आंखें फिर धुंधली सुबह देखने के लिए तैयार हो जाती हैं. अगर वह इन सारी बातों का हिसाब रखने लगा.

तो ये राते देने वाला गर वापस आए और वापस भेजने के लिए पक्का इरादा करने में काम आएगा. वो हर दर्द याद रखना होगा जो जाने वाले ने दिया हैं. ताकि उसका यार इस बात को आसानी से माफ़ कर सकेगा लेकिन कभी अपना ना सकेगा.

Baat Nahi Karne Ki Shayari In English – बात नहीं करने की शायरी इन इंग्लिश

19)

आरजू हैं हमारी के जान ले वज़ह
आपकी हमसे बात ना करने की..

खता हुई हैं तो हर सज़ा सह लेंगे हम
मगर ख्वाइश नहीं तुमसे दूरी सहने की..

-Vrushali

aarzoo hai hamari ke jaan le vajah
aapki humse baat na karne ki..
khata hui hai to har saja sah lenge ham
magar khwahish nahin tumse duri sahne ki..

20)

लगता है अब हमारे प्यार का
काफिला यहीं थम जाएगा..

बात ना करोगे तो चाहत का
सिलसिला ख त्म हो जाएगा..

-Kavya

lagta hai ab hamare pyar ka
kafila yahi tham jayega..
baat na karoge to chahat ka
silsila kha tm ho jayega..

21)

वज़ह क्या हैं हमसे बात ना करने की..

या बस ख्वाइश हैं हमें तड़पाने की..

-Vrushali

vajah kya hai humse baat na karne ki..
ya bus khwahish hai hamen tadpane ki..

22)

नफरत हो गई है शायद उसे
चाहत का इजहार नहीं चाहता..

आज क्यों तुम्हारा दिल
मुझसे बात करना नहीं चाहता..

-Gauri

nafrat ho gayi hai shayad use
chahat ka izhaar nahin chahta..
aaj kyon tumhara dil
mujhse baat karna nahin chahta..

23)

हर आरजू आपकी यहां पूरी होगी
बस आप ज़िद छोड़ दो बात ना करने की..

खिदमत में आपकी पेश करेंगे सबकुछ
बस आप आदत छोड़ दो दिल तोड़ने की..

-Vrushali

har aarzoo aapki yahan puri hogi
bas aap jid chhod do baat na karne ki..
khidmat mein aapki pesh karenge sabkuch
bas aap aadat chhod do dil todne ki..

24)

लगता है तेरी बेवफाई
आज मेरा दिल तोड़ जाएगी..

अगर मैं नफरत करूंगा
तो बात और बिगड़ जाएगी..

-Kavya

lagta hai teri bewafai
aaj mera dil tod jayegi..
agar main nafrat karunga
to baat aur bigad jayegi..

25)

दिल में है चाहत की प्यास,
तेरे ही मिलन की आस है..

तू बात नहीं करता मुझसे
तो यह दिल बड़ा उदास है..!

-Santosh

dil mein hai chahat ki pyas,
tere hi milan ki aas hai..
tu baat nahin karta mujhse
to yah dil bada udas hai..!

26)

हमें भी अब तन्हाईयों में
जीने की आदत हो गई..

सुना है सभी को लंबे
समय तक साथ दे गई..

hamen bhi ab tanhaiyon me
jeene ki aadat ho gayi..
suna hai sabhi ko lambe
samay tak sath de gayi..

27)

तनहा गुजरी हुई हर रात का
हिसाब रखना मेरे दोस्त..

नाशुक्री करने वाले ने दिए
जख्मों का अहसास दिलाएगा..

-Vrushali

tanha gujari hui har raat ka
hisab rakhna mere dost..
na shukri karne wale ne diye
zakhmon ka ehsas dilayega..

Baat Nahi Karne Ki Shayari In English की मदद से जो एक बार दिल में शिरकत कर जाए. तो वहा से उसके अक्स मिटाना बड़ा मुश्किल जो जाता हैं. फिर तो हर रात और दिन उसके ही खयालों में गुजरने लगते हैं.

ना जमाने का खौफ होता हैं और ना ही खुद का खयाल. बस आंखें हमेशा नम और दिल खयालों में डूबा रहता हैं. इसमें किसी के आने का इंतजार नहीं होता. किसी खुशी की कोई ख्वाइश भी नहीं होती.

Baat Nahi Karne Ki Shayari Image – बात नहीं करने की शायरी इमेज

28)

तेरी बेवफाई में ये दिल
शायद रात दिन जागेगा..

तू अगर बात ना करेगा
तो मेरा दिल कैसे लगेगा?

-Kavya

teri bewafai mein ye dil
shayad raat din jagega..
tu agar baat na karega
to mera dil kaise lagega?

29)

दिल में दबी होगी मोहब्बत उसके
मगर कभी इजहार नहीं करता..

औरों से करता है वह चाहत
मगर मुझसे बात नहीं करता..

-Gauri

dil mein dabi hogi mohabbat uske
magar kabhi izhaar nahin karta..
auron se karta hai vah chahat
magar mujhse baat nahin karta..

30)

मेरे दिल पर चलती है छुरियां
अब उसकी ऐसी बेवफाई से..

दिल का सुकून छीन गया है
उसके बात ना करने से..

-Santosh

mere dil par chalti hai chhuriyan
ab uski aisi bewafai se..
dil ka sukun chhin gaya hai
uske baat na karne se..

31)

दीदार ना होने से चाहत का
कारवां यूं थम नहीं जाता..

कोई उसे समझा दो बात ना
करने से प्यार ख त्म नहीं होता..

-Kavya

didar na hone se chahat ka
kaarva yu tham nahin jata..
koi use samjha do baat na
karne se pyar kha tm nahin hota..

32)

अपनी चाहत का खुलेआम
वो हमेशा इजहार करती थी..

सुकून मिलता था जब
वो मुझसे बात करती थी..

-Gauri

apni chahat ka khuleaam
vo hamesha izhaar karti thi..
sukun milta tha jab
vo mujhse baat karti thi..

33)

कभी तो प्यार से उसे
बाहों में भर लिया करो..

अपने आशिक से दिल की
बात कर लिया करो..

-Santosh

kabhi to pyar se use
bahon mein bhar liya karo..
apne aashiq se dil ki
baat kar liya karo..

34)

वो बेवफा न जाने क्यों
मेरी चाहत पर अकड़ती है..

मैं जब बात ना करूं तो
न जाने क्यों गुस्सा होती है..

-Gauri

wo bewafa na jaane kyon
meri chahat par akdati hai..
main jab baat na karun to
na jaane kyon gussa hoti hai..

35)

तू खुश हैं अपनी
महफिल में जानती हूं..

तभी तो मेरे बिना इतनी
खिलखिलाहट होती हैं..

-Vrushali

tu khush hai apni
mahfil mein janti hun..
tabhi to mere bina itni
khil khailaahat hoti hai..

36)

यादें ही तो अब हमारा सहारा बनी हैं..

लगता हैं उनके सहारे जिंदगी गुजर जायेगी..

-Vrushali

yaden hi to ab hamara sahara bani hai..
lagta hai unke sahare jindagi gujar jayegi..

Baat Nahi Karne Ki Shayari Image को सुनकर आशिक जब अपने महबूब कि किसी और के साथ मौजूदगी पसंद करने लगे. तो जाहिर हैं की वह उसे छोड़कर वहा से जरूर निकल आया होगा. फिर कितनी ही हसीन शाम क्यों ना हो. उसे लगता है कि उस जिल्लत से अच्छी तन्हाई ही हैं.

किसी की यादें बड़ा अच्छा सहारा होती हैं. जिसमें हम जैसे चाहे वैसे रंग भर सकते हैं. उन्हीं यादों को संभाल के रख सकते हैं जो अच्छी हो. और बुरी हो तो तन्हा जीने का सहारा बनती हैं. हमारा हौसला ही बढ़ात
हैं.

Baat Nahi Karne Ki Shayari – बात नहीं करने की शायरी

Baat Nahi Karne Ki Shayari
Baat Nahi Karne Ki Shayari
37)

मालूम नहीं था के इतने कम-नज़र होंगे आप..

के हमारी आंखों से बहता दर्द देख न सकोगे..

-Vrushali

maloom nahin tha ki itne kam-najar honge aap..
ke hamari aankhon se behta dard dekh na sakoge..

38)

गुनहगार तो हैं हम जो
आपसे बेवफ़ाई कर बैठे..

वरना आप तो हर किसी से
वफ़ा करना जानते हैं..

-Vrushali

gunehgaar to hai ham jo
aap se bewafai kar baithe..
varna aap to har kisi se
wafa karna jante hain..

Baat Nahi Karne Ki Shayari की मदद से महबूबा अपने दिल के दर्द आशिक को बताना तो चाहती है. लेकिन जब आशिक उसकी और नजरअंदाज कर देता है. तो वह उसे कम नजर कहते हुए उसकी बेइज्जती कर देना चाहती है. पर जिसे अपने महबूब को आंखों में मोहब्बत या दर्द ना समझ आए वो किसी का आशिक कैसे हो सकता हैं..?

39)

तुम ही बताओ अपने दिल के
जज्बातों का इजहार कैसे करें..

आशिक अगर यार से कुछ भी
बात ना करें तो प्यार कैसे करें?

-Santosh

tum hi batao apne dil ke
jazbaaton ka izhaar kaise karen..
aashiq agar yaar se kuchh bhi
baat na karen to pyar kaise karen?

40)

दिल में प्यार ना हो
तो क्यों इकरार करना..

अगर तुम चाहो तो ही
मुझसे जरूर बात करना..

-Kavya

dil mein pyar na ho
to kyon iqrar karna..
agar tum chaho to hi
mujhse jarur baat karna..

41)

बुलाता हूं मैं हमेशा उन्हें मगर वो
प्यार की गलियों से नहीं गुजरते..

टूट चुकी है तमन्ना क्योंकि
वो हमसे बात नहीं करते..

-Kavya

bulata hoon main hamesha unhen magar wo
pyar ki galiyon se nahin gujarte..
tut chuki hai tamanna kyunki
vo humse baat nahin karte..

42)

बात नहीं करते मुझसे
उनका दिल भर गया है..

शायद मुझसे अच्छा कोई
दिलदार उन्हें मिल गया है..

-Gauri

baat nahin karte mujhse
unka dil bhar gaya hai..
shayad mujhse achcha koi
dildar unhen mil gaya hai..

43)

मेरा दिल तोड़ने की
उन्होंने गुस्ताखी क्यों की..

मुझसे बात ना करने की
कोई तो वजह जरूर होगी..

-Santosh

mera dil todne ki
unhone gustakhi kyon ki..
mujhse baat na karne ki
koi to vajah jarur hogi..

44)

उसके दीदार बिना दिल
मेरा चैन नहीं पाता..

बात किए बिना मगर
मुझसे रहा नहीं जाता..

-Kavya

uske didar bina dil
mera chain nahin pata..
baat kiye bina magar
mujhse raha nahin jata..

45)

मेरी चाहत को खेल
समझ कर मजा ले रही है..

बात ना करने की वो
मुझे ऐसी सजा दे रही है..

-Gauri

meri chahat ko khel
samajh kar maja le rahi hai..
baat na karne ki vo
mujhe aisi saja de rahi hai..

46)

चाहत छोड़कर शायद उसे
बेवफाई पसंद आ गई है..

उसके बात ना करने से
जिंदगी बेरंग हो गई है..

-Kavya

chaahat chhodkar shayad use
bewafai pasand aa gai hai..
uske baat na karne se
jindagi berang ho gai hai..

ऐसे लोगों से वफा करना भी एक गुनाह हैं जो लोग उसके काबिल ही नहीं. खुदा के गुनहगार होते हैं ऐसे लोग जो खुदको दर्द का हिस्सेदार खुद ही बना लेते हैं. यूं अपना दिल ऐसे इंसान के हाथ में देते जिसे उसकी कीमत का कोई अंदाजा ही नहीं होती. ना वो उसकी मासूमियत समझता हैं और ना ही उसकी नजाकत. ऐसे गुनाह मत करो यारों जिंदगी खेल नहीं हैं कोई.

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Conclusion

बात नहीं करने की शायरी को सुनकर आशिक को अपने यार की याद सताने लगती है. इसी वजह से अब अपनी महबूब तन्हाइयों में ही वो उसे याद करता रहता है. लेकिन उसके दिलबर ने तो उससे जैसे चुप्पी साध ली है. Baat Nahi Karne Ki Shayari को सुनकर अगर आप भी अपनी महबूबा से मौन रखना चाहो. तो हमें comment करते हुए जरूर बताईये.

आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

Add Comment