Love

Read and Listen, Best 65+ Radha Krishna Shayari with Images!

We have the best ever collection of Radha Krishna Shayari loved by our readers and followers. These best 35+ राधा कृष्णा शायरी collection is compiled for your kind convenience. This blog post including images will be a perfect addition to your devotional time.

Table of Content

  1. Read The Best Radha Krishna Shayari
  2. Radha Krishna Shayari In Hindi
  3. Radha Krishna Shayari With Sad and Love Feelings
  4. Ultimated Collection of Krishna Radha Shayari
  5. Conclusion

दोस्तों राधा कृष्णा के प्यार की दास्तान सारी दुनिया में प्रसिद्ध है. और लोग राधा और कृष्ण के प्रेम को इसलिए भी मानते हैं. उनका प्रेम सच्चे ह्रदय से किए गए प्रेम की कहानियों में से एक है. हमें भी उनके इस प्रेम भाव से यही सीख लेनी चाहिए कि एक दूसरे से सह्रदय रहे. कभी भी किसी के प्रति हमारे मन में द्वेष भाव बिल्कुल भी ना आए. ताकि दुनिया से हम सिर्फ प्यार ही ले सके. और खुद भी अपने मन का प्यार ही बांट सके.


Listen Radha Krishna Shayari by Vanshika Navlani


लेकिन ऐसे बहुत कम उदाहरण है. जिनमें सच्चे ह्रदय से की गई मोहब्बत का जिक्र है. क्योंकि कई बार हम सच्ची मोहब्बत को समझ ही नहीं पाते हैं. अगर आप किसी इंसान की अच्छे और बुरे दोनों गुणों के सहित उसे स्वीकार कर लेते हो. और उसके जिंदगी को ही अपनी जिंदगी मान लेते हो. तभी वह सच्ची मोहब्बत की कहानी हो सकती है. और आज की Radha Krishna Shayari In Hindi यही बताने की कोशिश है.

Read The Best Radha Krishna Shayari

Radha Krishna Shayari In Hindi
Radha Krishna Shayari In Hindi

Those who believe in Radha Krishna, always find themselves on a path of suffering. But those who don’t, never find the watchful eye of their Lord’s omnipresent love.

1)

जिसने उंगली पर गोवर्धन को उठाया
उसकी उगलियों ने मधुर धुन को बजाया..

राधा के साथ करता हैं रासलीला
उस मुरलीधर ने हमें प्रेम का पाठ पढ़ाया..

-Vrushali

jisne ungli par govardhan ko uthaya
uski ungaliyon ne madhur dhun ko bajaya..
radha ke sath karta hai raasleela
use muralidhar ne hamen prem ka paath padhaayaa..

दोस्तों सभी जानते हैं कि कृष्णा बचपन में बहुत शरारती थे. लेकिन वे उतने ही समझदार हो और लोगों की मदद करने वाले भी थे. इसी वजह से जब पूरे गोकुल वासियों पर बड़ी बारिश का महा संकट आया था.

2)

प्यार का कोई रंग नहीं होता
ना ही करनेवाला उसे देखता है..

इसलिए तो सांवले कृष्ण से
राधा को सच्चा प्रेम होता हैं..

-Vrushali

pyar ka koi rang nahin hota
na hi karne wala use dekhta hai..
isiliye to sawle krishna se
radha ko saccha prem hota hai..

तब उन्होंने ही उन सभी गोकुल वासियों को बचाया था. कहा जाता है कि उन्होंने अपनी सिर्फ एक उंगली पर पूरे गोवर्धन पर्वत को उठा लिया था. और अपनी शक्ति के प्रदर्शन से सभी लोगों की जान बचाई थी. हमें भी अपने जीवन में दूसरों की मदद करने का सबक उनसे लेना चाहिए.

2 Lines Radha Krishna Shayari Status Hindi
2 Lines Radha Krishna Shayari Status Hindi


3)

राधा के मन को चाह है
सांवले कृष्ण कन्हैया की..

चरणों में रखें मस्तिष्क अपना
कृष्ण ने तो उसे दिल में जगह दी..

-Vrushali

radha ke man ko chah hai
sanvale krishna kanhaiya ki..
charanon mein rakhe mastishk apna
krishna ne to use dil mein jagah di..

Radha Krishna Shayari में जैसे राधा अपने सबसे प्रिय कृष्ण से प्यार करती थी. उसके मन में सिर्फ कृष्ण का ही वास था. वह हर वक्त ध्यान भी करती थी तो सिर्फ कृष्ण का ही करती थी. और उसी के चरणों में अपने सर को हमेशा झुकाना चाहती थी.

4)

प्यार का ना कोई रंग है
ना कोई रूप हैं ना ढंग है..

जहां के हर कोने में बस
राधा ही कृष्ण के संग है..

pyar ka na koi rang hai
na koi roop hai na dhang hai..
jahan ke har kone mein bus
radha hi krishna ke sang hai..

उसके मन में हमेशा ही कृष्ण के बारे में ही चाहत थी. उसे पता था कि सभी गोपियां भी कृष्ण पर जान छिड़कती है. लेकिन फिर भी उसे अपने कृष्ण पर बहुत ज्यादा भरोसा था. और इसी भरोसे की वजह से कृष्ण ने भी राधा को अपने मन में बसा लिया था.

Radha Krishna Shayari In Hindi
Radha Krishna Shayari In Hindi

Radha Krishna Shayari In Hindi

Worships Radha Krishna by giving best Radha Krishna Shayari Collection. Discover surprising love and life lessons from this poem of Radha & Krishna.

5)

जमुना किनारे कृष्ण कन्हैया
सूरीली मधुर बजाए बांसुरिया..

दौड़ी चली आई राधिका
व्याकुल हो उठीं सारी सखियां..

-Vrushali

jamuna kinare krishna kanhaiya
surili madhur bajaye basuriya..
daudi chali aayi radhika
vyakul ho uthi sari sakhiya..

अपनी बांसुरी के साथ जब भी कृष्ण कन्हैया यमुना किनारे जाते थे. और वहां पर गाय चराते थे. तब वे अपनी मुरली बजा कर सभी के मन को आकर्षित कर लेते थे. और यही उनका सबसे पसंदीदा काम था. लेकिन वे जब भी अपनी मुरली से मधुर स्वर निकालते थे.

6)

दिल ही दिल में है समाई
कृष्णा तेरी सूरत भोली..

धड़कनों को उलझा रही अब
मुरली की झनकार तेरी..

dil hi dil mein hai samayi
krishna teri surat bholi..
dhadkanon ko uljha rahi ab
murli ki jhankar teri..

तब सभी लोग भी अपने काम छोड़ कर उनकी मुरली सुनने में ही तल्लीन हो जाते थे. और कुछ ऐसा ही असर राधा और उसकी सारी सखी सहेलियों पर भी होता था. मुरली की मधुर स्वर सुनकर उनका भी मन कृष्ण की ओर दौड़ लेता था.

7)

ग्वाल–बाल के संग कान्हा
मधुर माखन मिश्री खाए..

वृंदावन में रास रचा कर
गोपियों के मन को भाए..

-Vrushali

gwal-bal ke sang kanha
madhur makhan mishri khaye..
vrindavan mein raas rachakar
gopiyon ke man ko bhaye..

krishna radha shayari
Krishna Radha Shayari Love

Radha Krishna Shayari In Hindi में कृष्ण को यमुना किनारे अपनी गाय चराते हुए बांसुरी बजाने में बहुत आनंद आता था. और साथ ही वह अपने सभी दोस्तों के साथ बाजार जाती हुई माखन एवं दूध बेचने वाली गोपियों को भी सताते थे. उन्हें इसमें भी बहुत ज्यादा आनंद आता था.

8)

प्रेम जीवन का आधार है
प्रेम नहीं तो जीवन व्यर्थ हैं..

प्रेम के नाम से जहर भी अमृत है
मीरा की यही जीवन गाथा है..

prem jeevan ka aadhar hai
prem nahin to jivan vyarth hai..|
prem ke naam se jahar bhi amrit hai
mira ki yahi jeevan gatha hai..

और साथ ही वे उनके रास्ते खड़े होकर माखन और दूध चुराते थे. और उन्हें अपने दोस्तों के साथ पी जाते थे. साथ ही कई गोपियों के संघवी रास भी रचाते थे. और जब यह सारी ग्वाल की बेटियां यशोदा मैया से उनकी शिकायत करने जाती थी. तो वे घर में कहीं छुप जाते थे.

Radha Krishna Shayari With Sad and Love Feelings

Check the Latest Shayari of Radha Krishna With Pictures and Share it with your friends on Facebook.

9)

मधुबन में मुरली बजा कर
गोपियों को कान्हा नचाए..

हर युग में हर जनम में
बस राधा ही कृष्ण को भाए..

-Vrushali

madhuban mein murli baja kar
gopiyon ko kanha nachaye..
har yug mein har janm mein
bus radha hi krishna ko bhaye..

अपने गोकुल और मथुरा के सारे नगर वासियों को तो कृष्ण प्रिय ही थे. लेकिन साथ ही उन्होंने बरसाने में रहने वाली राधा का भी दिल चुराया था. और वे सारी गोपियों के साथ भी अपनी रास रचाते थे. उनके सिर पर रखे हुए माखन की डेरों को फ़ोड़कर उसमें माखन चुरा कर खाते थे.

10)

मधुबन का कृष्ण कन्हैया
गोपियों के दिल का सितारा..

मन ही मन जले राधा
कन्हैया तो है सबका सहारा..

madhuban ka krishna kanhaiya
gopiyon ke dil ka sitara..
man hi man jale radha
kanhaiya to hai sabka sahara..

वे जब भी अपने दोस्तों के साथ बांसुरी बजा कर उनके साथ नाचते थे. तब सारी गोकुल नगरी ही उनके संग होती थी. और इसी वजह से वह राधा के लिए सबसे प्रिय थे. और उसके दिल में भी बस कृष्ण के सिवा और कोई नहीं था.

Sad Radha Krishna Shayari
Sad Radha Krishna Shayari
11)

हर किसी की शाम सुहानी नहीं होती
हर चाहत की कोई कहानी नहीं होती..

असर होता है शायद आत्मा के मिलन का
यूं ही गोरी राधा सांवले कृष्ण की दीवानी नहीं होती..

har kisi ki sham suhani nahin hoti
har chahat ki koi kahani nahin hoti..
asar hota hai shayad aatma ke milan ka
yun hi gori radha sawle krishna ki deewani nahin hoti..

Radha Krishna Shayari में हर कोई अपने चहेते इंसान से तहे दिल से तू प्यार करता है. लेकिन हर किसी के नसीब में अपने यार की मोहब्बत हो. यह मुनासिब नहीं होता है. और इसी वजह से हर किसी के प्यार की कहानी ही जैसी नहीं होती है.

12)

राधा के प्यार में कान्हा ने ना जाने क्या-क्या छोड़ा है..
लेकिन राधा कहती उसे कन्हैया तू बड़ा रंगरसिया है..

radha ke pyar mein kanha ne na jaane kya kya chhoda hai..
lekin radha kahati use kanhaiya tu bada rang rasiya hai..

और साथ ही हमें बात को भी हमेशा याद रखना चाहिए कि हर कोई राधा के जैसा ही पवित्र प्रेम करे यह भी मुमकिन नहीं है. लेकिन हर किसी के प्यार का संबंध उसकी आत्मा से जरुर होता है. इसी वजह से शायद गोरी राधा को सावले कान्हा से सच्चा प्यार हुआ है.

13)

कान्हा की प्यारी मुरली सुनकर
राधा हुई प्रेम दीवानी..

जब भी कन्हैया मुरली बजाए,
दौड़ी चली आये राधा रानी..

kanha ki pyari murli sunkar
radha hui prem deewani..
jab bhi kanhaiya murli bajai
daudi chali aaye radha rani..

Radha Krishna Shayari Image

Radha Krishna Shayari Image
Radha Krishna Shayari Image
14)

सांवरे, अब मोहब्बत को तेरी
अंजाम देने की मैंने की तैयारी है..

कल तक थी मीरा दीवानी
लेकिन अब मेरी बारी है..

sanware, ab mohabbat ko teri
anjaam dene ki mane ki taiyari hai..
kal tak thi meera deewani
lekin ab meri bari hai..

सिर्फ अकेली राधा ही कान्हा के प्यार में दीवानी है ऐसा नहीं है. कुछ ऐसी ही प्यार की पूजारन और कान्हा की चाहने वाली उससे दरख्वास्त करती है. और अपने प्यार का पैगाम कन्हैया को देना चाहती है. भले ही है राधा का सच्चा प्रेम कन्हैया को पसंद होगा.

15)

दिल से की हुई सच्ची मोहब्बत का 
विवाह ही अंजाम होता..

तो राधा का स्थान जरुर 
रुक्मणी की जगह ही होता..

dil se ki hui sacchi mohabbat ka
vivah hi anjam hota..
to radha ka sthan jarur
rukmani ki jagah hi hota..

और मीरा भी पूरी तरह से कान्हा की दीवानी होगी. लेकिन अब उनके बाद इस प्रेम पूजारन की ही बारी है. वह भी अपने कान्हा को सच्चे दिल से याद करती है. और अपने जिंदगी में है हमेशा बस कान्हा की पूजा करती है.

16)

रूठते हुए राधा बोली
कन्हैया, वृंदावन की हर गोपी अब तुम्हारी हो ली..

हंसते हुए कान्हा बोले
नहीं है तुमको पता, तुम सब से हो निराली..

ruthte hue radha boli
kanhaiya vrindavan ki har gopi ab tumhari ho li..
hanste hue kanha bole
nahin hai tumko pata, tum sabse ho nirali..

Radha Krishna Shayari Image में राधा को कन्हैया से तहे दिल से प्यार तो होता है. और कान्हा भी हमेशा बस राधा राधा का ही नाम लेता रहता है. लेकिन फिर भी राधा के मन में कान्हा के लिए सवाल होते हैं. वह उससे हमेशा पूछना चाहती है कि आखिर उसके दिल में किसके लिए स्थान है?

Radha Krishna Image Shayari
Radha Krishna Image Shayari
17)

राधा और कृष्ण के प्यार का 
मिलन तो सिर्फ एक बहाना था..

सच्चे प्यार का मतलब 
जमाने को जो समझाना था..

radha aur krishna ke pyar ka
milan to sirf ek bahana tha..
sacche pyar ka matlab
jamane ko jo samjhana tha..

Radha Krishna Prem Shayari
Radha Krishna Prem Shayari

क्योंकि अब सारी गोपीकाएं बस कान्हा के लिए ही तो अपना दिल देती है. लेकिन इस पर कान्हा भी हंसकर राधा को जवाब देता है. वह उसे कहता है कि जो बात राधा में होती है. वह बात किसी और गोपीका में बिल्कुल भी नहीं है.

2 Line Radha Krishna Status Hindi | Two Lines Radha Krishna Quotes in Hindi

18)

होती है प्यार में न जाने कितनी बाधा..
फिर भी कृष्ण के साथ दिखती हमेशा राधा..

hoti hai pyar mein na jaane kitni badha
fir bhi krishna ke sath dikhti hamesha radha..

Ultimated Collection of Krishna Radha Shayari

19)

कर लो सुमिरन कृष्ण प्रिया महारानी का
भरोसा कहां इस जिंदगानी का..

कड़वे होते हैं झूठे बोल दुनिया के
मीठा होता है एक नाम राधा रानी का..

kar lo sumiran krishna priya maharani ka
bharosa kahan is jindgani ka..
kadve hote hain jhuthe bol duniya ke
meetha hota hai ek naam radha rani ka..

जिस तरह से राधा हमेशा कन्हैया का गुणगान करती रहती है. और हमेशा उसके लिए ही जीती है. सिर्फ एक कन्हैया की ही पूजा करते हुए वह उसका सुमिरन करती है. कुछ उसी प्रकार से हमें भी अपने जिंदगी में सिर्फ राधा कृष्ण का ही गुणगान करना चाहिए.

20)

कन्हैया प्रेम का सागर है
तो राधा उसका पानी है..

मुरली धुन की साथी है
तो राधा प्रेम की मूर्ति है..

-Vrushali

kanhaiya prem ka sagar hai
to radha uska pani hai..
murali dhun ki sathi hai
to radha prem ki murti hai..

क्योंकि राधा नाम लेने से ही हमारे जीवन के सारे दुख हर जाते हैं. और हम अपने जीवन में जो चाहते हैं उसकी हमें प्राप्ति हो जाती है. इसलिए हमें अपने जीवन में हमेशा ही राधा के मीठे नाम का सुमिरन करते रहना चाहिए.

21)

चाहे लाख दौड़ो, फिर भी नहीं
मिटती दुनिया की तृष्णा है..

सच्ची श्रद्धा और प्रेम से मिल जाए
वो बस राधा का कृष्णा है..

chahe lakh daudo, fir bhi nahin
mitati duniya ki trishna hai..
sacchi shradha aur prem se mil jaaye
vah bas radha ka krishna hai..

Radha Krishna Shayari Facebook हम अपने जीवन में जिस चीज को भी चाहते हैं. अक्सर हमें वह जल्द से मिल नहीं पाती है. और इसी वजह से हमारे मन में उस चीज के प्रति तृष्णा बढ़ती जाती है. तृष्णा यानी कि किसी भी चीज के लिए हमारे मन की भूख होती है. लेकिन हमें हर प्रकार की तृष्णा पर नियंत्रण रखना चाहिए.

22)

श्याम की बांसुरी पुकारे
राधा राधा का ही नाम..

मीरा तो हैं श्याम दीवानी
उसकी हर धड़कन में है श्याम..

-Vrushali

shyam ki bansuri pukare
radha radha ka hi naam..
meera to hai shyam deewani
uski har dhadkan mein hai shyam..

क्योंकि जीवन में तृष्णा का कभी भी अंत नहीं होता है. लेकिन बांसुरी वाले कृष्ण ही ऐसे हैं जिनका सिर्फ नाम लेते ही भी हमें प्राप्त हो जाते हैं. इसी वजह से हमें तृष्णा को छोड़कर कृष्ण का सुमिरन करना चाहिए.

23)

छोड़कर सारी सखियां
राधा हो गई है बावरिया..

जब मधुबन में कान्हा
बजाए मधुर बांसुरिया..

-Vrushali

chhodkar sari sakhiyan
radha ho gai hai bavariya..
jab madhuban mein kanha
bajaye madhur bansuriya..

24)

कान्हा की बांसुरी पुकारे
राधा राधा बस तेरा ही नाम..

इसीलिए दुनिया कहती हैं
राधे श्याम राधे श्याम..

-Vrushali

kanha ki bansuri pukare
radha radha bas tera hi naam
isiliye duniya kahati hai
radhe shyam radhe shyam

25)

संसार में फैलाने प्रेम की माया
आए हैं कृष्ण बनकर कन्हैया..

मुरली है बस मोह का जरिया
राधा है उनकी प्रीत का साया..

-Vrushali

sansar mein failane prem ki maya
aaye hain krishna bankar kanhaiya
murali hai bus more ka jariya
radha hai unki preet ka saya

26)

नैना है बहुत सुंदर तेरे ओ राधा प्यारी..
इन नैनों में डूब गए हमारे बांके बिहारी..

naina hai bahut sundar tere o radha pyari..
inn naino mein doob gaye hamare banke bihari..

27)

जपने से राधा राधा नाम हमेशा, हो जाएगा उद्धार..
इसी सुंदर नाम से तो है मुरली वाले को प्यार..

japane se radha radha naam hamesha, ho jaega uddhar..
isi sundar naam se to hai murli wale ko pyar..

28)

कृष्ण ने पूछा राधा से 
ऐसी जगह बताओ जहां नहीं हूं मैं..

हंस कर बोली राधा भी 
बस तुम नहीं हो नसीब में..

krishna ne pucha radha se
aisi jagah batao jahan nahin hun main..
hans kar boli radha bhi
bus tum nahin ho naseeb mein..

29)

प्रेम में खो दिया सुध बुध राधा रानी ने
थोड़ा भी इंतजार अब सहा ना जाए..

कह देना कोई कृष्ण कन्हैया से
दौड़ कर वो उसके पास चला जाए..

prem me kho diya sudh budh radha rani ne
thoda bhi intezar ab saha na jaaye..
kah dena koi krishna kanhaiya se
daur kar vo uske pass chala jaaye..

30)

राधा ने कन्हैया को पैगाम प्यार का लिखा..
खत में पूरे बस कान्हा कान्हा ही नाम लिखा..

radha ne kanhaiya ko paigam pyar ka likha..
khat mein pure bus kanha kanha hi naam likha..

31)

राधा को समझा ना मीरा को
ना समझा गोपियों को..

ना मीरा ने पाया शाम को
ना कृष्ण मिले राधा को..

-Vrushali

radha ko samjha na meera ko
na samjha gopiyon ko..
na meera ne paya sham ko
na krishna mi radha ko..

32)

श्याम सुंदर सांवले मुरारी
प्रेम की तूने गाथा सुनाई..

मीरा हुई कृष्ण की बावरी
राधा को मिली तुम्हारी बासूरी..

-Vrushali

shyam sunder sanvale murari
prem ki tune gatha sunayee..
meera hui krishna ki bawri
radha ko mili tumhari bansuri..

33)

मीरा ने आंसू की धारा लगाई
राधा ने भी उनसे प्रीत निभाई..

हे नटखट कृष्णमुरारी क्या
यह भी थी तेरी कलाकारी..!

-Vrushali

meera ne aansu ki dhara lagayi
radha ne bhi unse prit nibhai..
he natkhat krishna murari kya
yah bhi thi teri kalakari…

34)

गोपियां नाचती है तेरे साथ
मीरा लेती है आज भी तेरा नाम..

रुक्मिणी ने किया अर्पण सब तुझे
फिर भी लोग कहते हैं राधा का श्याम..

-Vrushali

gopi naachti hai tere sath
meera leti hai aaj bhi tera naam..
rukmani ne kiya arpan sab tujhe
fir bhi log kahate hain radha ka shyam..

Radha Krishna Love Shayari
Radha Krishna Love Shayari
35)

तेरी और मेरी प्रीत कभी
राधा जितनी काबिल हुई नही..

श्याम की दीवानी मीरा
दुनिया को कभी समझी नहीं..

-Vrushali

teri aur meri prit kabhi
radha jitni kabil hui nahi..
shyam ki deewani meera
duniya ko kabhi samajhi nahin..

36)

मन में जिसके भी थी ख्वाहिश
श्याम से मिलने की..

हर मुराद उसके पवित्र मन की
राधा रानी ने पूरी की..

man mein jiske bhi thi khwahish
shyam se milane ki..
har murad uske pavitra man ki
radha rani ne puri ki..

37)

चोर तो गजब के हो गोकुल के नटखट कान्हा,
करते चोरी दिलों की और बसते भी उन्हीं दिलों में हो..

chor to gajab ke ho gokul ke natkhat kanha
karte chhori dilon ki aur baste bhi unhi dilon mein ho..

38)

बांसुरी के स्वर तेरे जब भी मुझे बुलाते हैं..
कदम मेरे तुम्हारी ओर खींचे चले आते हैं..

bansuri ke swar tere jab bhi mujhe bulate hain..
kadam mere tumhari or khinche chale aate hain..

39)

प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता..
तो हर ह्रदय में राधा कृष्ण नाम ना होता..

prem ka matlab sirf paa lena hota..
to har hriday mein radha krishna naam na hota..

40)

एक तरफ कृष्ण सांवले
एक तरफ है राधा गोरी..

एक दूसरे से मिल गए हो
जैसे चांद और चकोरी..

ek taraf krishna savale
ek taraf hai radha gori..
ek dusre se mil gaye ho
jaise chand aur chakori..

Romantic Radha Krishna Shayari
Romantic Radha Krishna Shayari

1)

राधा ने सिखाई सच्ची प्रीत
तो कृष्ण ने उस प्रीत को निभाया..

पूरे संसार को उन्होंने ही
प्रेम का ये गहरा पाठ पढ़ाया..

-Vrushali

radha ne sikhai sachhi prit
to krishna ne us prit ko nibhaya..
pure sansar ko unhone hi
prem ka ye gehra paath padhaya..

2)

सुनी है मैंने जब से
तुम्हारी ये बांसुरिया..

मेरे दिल की चोरी की,
तूने ओ कृष्ण कन्हैया..

-Santosh

suni hai maine jab se
tumhari ye bansuriya..
mere dil ki chori ki,
tune o krishna kanhaiya..

3)

राधा के बिना कृष्ण
नहीं हो सकता पूरा..

मोहब्बत का पाठ उनके
बिना होता है अधूरा..

-Vrushali

radha ke bina krishna
nahin ho sakta pura..
mohabbat ka paath unke
bina hota hai adhura..

4)

बैठी हूं यहां पर मैं
बिन तुम्हारे बड़ी तन्हा..

अब अपने ही रंग में
रंग दो मुझे ओ कान्हा..

-Rasika

baithi hun yahan per main
bin tumhare badi tanha..
ab apne hi rang mein
rang do mujhe o kanha..

5)

लगता है राधे तेरे बिना
ये संसार वीरान सा..

जैसे कोई दरिया बह
रहा हो सूखा सा..

-Vrushali

lagta hai radhe tere bina
ye sansar viran sa..
jaise koi dariya beh
raha ho sukha sa..

6)

सांवले कृष्ण का ही
नाम है दिल में समाता..

राधा के बिना तो
कान्हा भी होता है आधा..

-Krutika

saanvale krishna ka hi
naam hai dil mein samata..
radha ke bina to
kanha bhi hota hai aadha..

7)

तुम हो मेरी राधा और
मैं ही तुम्हारा कृष्ण..

जनम जनम बने रहे
हम यूंही राधा कृष्ण..

-Vrushali

tum ho meri radha aur
main hi tumhara krishna..
janam janam bane rahe
ham yun hi radha krishna..

8)

पार लगा दी है नैय्या
उस प्यारे खिवय्या ने..

मन मोह लिया नटखट
कृष्ण कन्हैया ने..

-Santosh

paar laga di hai naiyya
us pyare khivayya ne..
man moh liya natkhat
krishna kanhaiya ne..

9)

राधा-कृष्ण से बड़ा
प्रेम का कोई पाठ नहीं है..

जो ना समझ सका उनको
वो प्रेम के काबिल नहीं है..

-Vrushali

radha-krishna se bada
prem ka koi paath nahin hai..
jo na samajh saka unko
vo prem ke kabil nahin hai..

10)

मेरे दिल पर न जाने कैसा
जादू कर दिया तूने..

बड़ी खूबसूरत ख्यालों की
दुनिया बसाई मन में..

-Rasika

mere dil per na jaane kaisa
jadu kar diya tune..
badi khubsurat khyalon ki
duniya basai man mein..

11)

राधा का कृष्ण के लिए प्रेम था अनमोल
मगर उनके साथ का नहीं था कोई मोल..

दूर हो गए वो एक दुसरे से एक दिन
मगर उनका प्रेम फिर रह गया बेमोल..

-Vrushali

radha ka krishna ke liye prem tha anmol
magar unke sath ka nahin tha koi mol..
dur ho gaye vo ek dusre se ek din
magar unka prem fir rah gaya bemol..

12)

राधे राधे जपो तो भटकी हुई
नाव को किनारा मिल जाता है..

कृष्ण का नाम लेते ही अकेले
दिल को सहारा मिल जाता है..

-Krutika

radhe radhe japo to bhatki hui
naav ko kinara mil jata hai..
krishna ka naam lete hi akele
dil ko sahara mil jata hai..

13)

प्यार का मतलब
दुनिया की आवाम से है..

जीवन का सत्य बस
कृष्ण के नाम से है..

-Rasika

pyar ka matlab
duniya ki aawam se hai..
jivan ka satya bus
krishna ke naam se hai..

14)

गांव की गोपियों को छेड़ने से
कभी ना वो बाज आता..

माखन चुरा कर कान्हा यशोदा
मैया के पीछे छुप जाता..

-Santosh

gaon ki gopiyon ko chhedne se
kabhi na vo baaj aata..
makhan chura kar kanha yashoda
maiya ke pichhe chhup jata..

15)

हर गोपी उसके प्रेम में
जैसे पागल हो जाए..

नटखट कान्हा हमेशा
ऐसी मुरलिया बजाएं..

-Krutika

har gopi uske prem mein
jaise pagal ho jaaye..
natkhat kanha hamesha
aisi murliya bajaye..

16)

हर पल राधा के मन में
प्रेम के गीत सजाती है..

कन्हैया की याद में राधा
जैसे पागल हो जाती है..

-Rasika

har pal radha ke man mein
prem ke geet sajati hai..
kanhaiya ki yad mein radha
jaise pagal ho jaati hai..

17)

प्रेम की बांसुरिया सुनकर
पागल हो गई है हर ब्रजबाला..

सांवले कान्हा ने राधा पर भी
कुछ ऐसा जादू है कर डाला..

-Santosh

prem ki bansuriya sunkar
pagal ho gai hai har brijbala..
saanvale kanha ne radha per bhi
kuchh aisa jadu hai kar dala..

18)

रूप से कोई चंदा की है जैसे चकोरी..

सबकी प्यारी है बिटिया राधा गोरी..

-Krutika

roop se koi chanda ki hai jaise chakori..
sabki pyari hai bitiya radha gori..

19)

मन में गोपियों के चलती है
कृष्ण की ही पूजा अर्चाएं..

पूरे वृंदावन में कृष्ण और
राधा के प्रेम की है चर्चाएं..

-Rasika

man mein gopiyon ke chalti hai
krishna ki hi puja archaaye..
pure vrindavan mein krishna aur
radha ke prem ki hai charchayen..

20)

कोई भी ना समझाएं
बात ये उसके दिल को..

प्रेम बाधा जो हो गई है
राधा के भी भोले मन को..

-Santosh

koi bhi na samjhaye
baat ye uske dil ko..
prem badha jo ho gai hai
radha ke bhi bhole man ko..

21)

बिना पूछे उसकी आंखें सिर्फ
कान्हा का नाम लेने लगी है..

कृष्ण की चाहत में अब तो
राधा गुमसुम रहने लगी है..

-Krutika

bina puchhe uski aankhen sirf
kanha ka naam lene lagi hai..
krishna ki chahat mein ab to
radha gumsum rahne lagi hai..

22)

लिख दिया है नाम अपना ही
कान्हा ने राधा के मन पर..

न जाने क्या असर कर दिया है
कान्हा ने राधा के जीवन पर..

-Rasika

likh diya hai naam apna hi
kanha ne radha ke man per..
na jaane kya asar kar diya hai
kanha ne radha ke jivan per..

23)

एक राधा ही कन्हैया को लगती है खास..

गोकुल में हमेशा कान्हा करता है निवास..

-Santosh

ek radha hi kanhaiya ko lagati hai khas..
gokul mein hamesha kanha karta hai nivaas..

24)

चाहत का नया पाठ ही
अब है सिखा दिया..

देवकीनंदन ने राधा का
मन है मोह लिया..

-Krutika

chahat ka naya paath hi
ab hai sikha diya..
devkinandan ne radha ka
man hai moh liya..

25)

हर गोपीका को होता है
कृष्ण कन्हैया पर गुमान..

राधा के मन में मगर है
हमेशा कान्हा विराजमान..

-Rasika

har gopika ko hota hai
krishna kanhaiya per guman..
radha ke man mein magar hai
hamesha kanha virajman..

26)

रात दिन करते रहो तुम
कृष्ण कन्हैया का भजन..

आओ मिलकर करें हम
राधा रानी का सुमिरन..

-Santosh

raat din karte raho tum
krishna kanhaiya ka bhajan..
aao milkar karen ham
radha rani ka sumiran..

27)

सांवला रंग मेरे कृष्ण
कन्हैया पर बड़ा सजता है..

राधा के सिवा कोई नाम ना
अब उन्हें मीठा लगता है..

-Krutika

sanwla rang mere krishna
kanhaiya par bada sajata hai..
radha ke siva koi naam na
ab unhe meetha lagta hai..

28)

प्रेम की अब ये अजब
उलझन छाई है..

राधा के संग मीरा भी
तो दीवानी हुई है..

-Rasika

prem ki ab ye ajab
ulajhan chhai hai..
radha ke sang meera bhi
to deewani hui hai..

29)

उससे मिलन की आस
ये बारंबार कहती है..

कान्हा को ही हमेशा अब
राधा पुकारती रहती है..

-Santosh

usse milane ki aas
ye barambar kahti hai..
kanha ko hi hamesha ab
radha pukarti rahti hai..

30)

सुबह शाम राधा के सपनों में
कृष्ण कन्हैया ही दिखा है..

जीवन की हर किताब में बस
कान्हा का ही नाम लिखा है..

-Krutika

subah sham radha ke sapnon mein
krishna kanhaiya hi dikha hai..
jivan ki har kitab mein bus
kanha ka hi naam likha hai..

31)

रात दिन खोई रहती है
वो कान्हा की यादों में..

अजीब सा नशा छाया है
राधा की बातों में..

-Rasika

raat din khoi rahti hai
vo kanha ki yadon mein..
ajab sa nasha chhaya hai
radha ki baton mein..

32)

तरसती रहती है वो
कान्हा के मिलन को..

प्रीत कैसी हो गई है
ये राधा के मन को..

-Krutika

tarsati rahti hai vo
kanha ke milan ko..
prit kaisi ho gai hai
ye radha ke man ko..

YOU MAY LIKE THESE POSTS:

Conclusion

दोस्तों हर कोई अपने चहेते इंसान से तहे दिल से प्यार करता है. लेकिन राधा कृष्ण के प्यार की जैसी बात हर किसी के प्यार में शायद ही होती है. जिस तरह से उन्होंने एक दूसरे की भावनाएं समझ ली थी. इसी वजह से अगर किसी से प्यार करना हो तो उसके मन से, उसके स्वभाव से ही करना चाहिए. हमें यकीन है की आपको अपनी यह राधा कृष्णा पर शायरियां पसंद आयी होगी, अगर ऐसा है तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है, राधे राधे! जय श्री कृष्णा!

आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

7 Comments

  1. वाह वा वंशिका मॅम,

    राधा कृष्ण की शायरीओं को आपकी आवाज़ में सुनकर मज़ा आ गया
    Keep it up ma’am.. 😊👌👌

  2. बेहद खूबसुरत पेशकश ..
    शायरी और script भी बढिया..
    राधे-राधे..!!
    कल्याणी

Leave a Reply

Your email address will not be published.