qayamat -2: Love Shayari सुनकर आपके दिल पर क़यामत आ जायेगी!

qayamat par shayari : दोस्तों, सच्चे प्यार में ही इतनी ताकत होती है, कि बिन कुछ कहे भी अपने महबूब पर qayamat ला सकती है. आप तो बस इसी उलझन में पड़े होते हो कि आखिर आपके दिलबर ने ये कयामत भरी अदायेें आखिर कहाँसे सीखी होगी. वो आँखें झुकायें तो कयामत, वो बालों को सहलाये तो qayamat, उसने अपनी चूड़ियां खनकाई, तो भी आप पर एक तरह से कयामत ही तो आती है.

दोस्तों, वो अपनी आंखों से आपको कहीं इशारों में कुछ कह भी दे, तो भी न जाने आप पर दुनिया की बहुत बड़ी qayamat, बहुत बड़ी आफत आ सकती है, सच है ना? उनकी नजरों में जैसे मोहब्बत का एक अलग ही नशा दिखाई देता है. उनकी आंखों के नशे से, उनके बस एक बार देखने से ही आप जैसे घायल हो जाते हो. उनके प्यार में पागल हो जाते हो. वो जब भी आपकी तरफ उनकी नजरें उठाकर और बाद में उन्हें झुका कर देखते हैं, तो आप बार-बार उनकी ही प्यार में नई तरह से गिर जाना चाहते हो.

पहले ही नजरों से घायल है, आपके इकरार से कहीं qayamat ना आ जाए..

जब वह आपके सामने आ जाता है, तो आपके मानो अल्फाज ही खत्म से हो जाते हैं. आप की धड़कन जोरो से चलने लगती है. वक्त जैसे थम सा जाता है और आपको ये लम्हा बार-बार जीने की तमन्ना होती है. कई बार आपकी ये तमन्ना पूरी भी हो जाती है. आपके महबूब ने आपसे सिर्फ नजरे भी मिलाई या होठों से कुछ कहने के लिए लब हिलाए तो भी आपके दिल पर कयामत आ सकती है. सोचिए अगर उसने आपको कुबूल कर लिया आपके प्यार का इजहार कर लिया तो आपका हाल क्या होगा!

आपको इस बात की फिक्र जरूर करनी होगी कि कहीं खुशी के मारे आप पागल ना हो जाओ. उनकी आपके लिए हां सुनकर आपका दिल कहीं घायल ना हो जाए. आपको तो ऐसा लगता है जैसे आप उनकी नजरों के इशारों से, उनकी कातिलाना तीरों के वार से कहीं और घायल ना हो जाए. पहले ही आप पर क़यामत ओं का परबत टूट कर गिर चुका है. कहीं और qayamat ना आ जाए!

आपकी मासूम मुस्कुराहट कहीं हम पर कयामत ना बरसा दे..

 वैसे तो उसकी मासूमियत की कोई हद नहीं होती. उसका छोटी-छोटी बात को लेकर सोचना, आप से झगड़ना, रूठना, और फिर से आपसे मिलना यह सारी बातें आप पर उनका कहर बरसाने के लिए काफी होती है, है ना? उनकी बाल सुलझाने की, उनकी हंसने की उनकी रूठने की और न जाने ऐसी कितनी अदाएं देखकर आपकी दिल पर तो जैसे छुरिया ही चल जाती है. आपकी होठ जैसे सिल जाते हैं. आपके पास कहने के लिए कोई शब्द कोई अल्फाज नहीं होते. एक तरह से उनको देखते ही आप पर ना जाने कोई qayamat ही आ जाती है.

आपका महबूब आपके सामने आकर मुस्कुरा भी दे, तो आप पर जैसे आफत आ जाती है. उनकी मुस्कुराहट देखकर उन की हंसी को महसूस करते हुए, आप उन हसीन लाल गुलाबों को भी भूल जाते हो. जो आप उनको ही देने के लिए लाए हो. और अपने हाथ में लेकर खड़े हो. उनकी गालों की लाली देखकर आप तितलियों के पंखों पर गुलाबी रंग को भी भूल जाते हो. इस कदर आपके दिल पर आपके दिमाग पर उनका सुरूर छाया हुआ है. मानो आप पूरी दुनिया ही उनके सामने भुला देते हो.

 उन्होंने बस नजरें झुकाई और आपके दिल पर आफत आ गई..

आपकी दिलबरा जहां जहां जाती है. अपनी हर एक अदाओं से सबको घायल करती जाती है. उसकी खुशबू लेकर ही तो सवेरा होता है. उसकी मुस्कुराहट देखकर ही तो कलियां खिल जाती हैं. उसकी आंखों में एक ऐसा नशा है, जिसे देखकर मानो तितलियां भी अपने रंग भर लेती हैं. उसकी नजरों का नशा देखकर तो कई नशे में चूर होने वालों ने मयखाने में जाना ही बंद कर दिया है.

उनकी आंखों के काजल को देख कर ही तो रात ने भी अपनी काली चादर बना ली है. और मानो जैसे चांद ने उस चादर को अपने ऊपर ओढ़ लिया है. ऐसी नशीली और हसीन आंखें देखकर तो हर कोई उनका ही कायल हो चुका है. उनकी ऐसी हर अदा को देखकर ही तो सब लोग पागल हो चुके हैं. 

हर किसी पर एक क़यामत सी आ गयी है. तो उनके सामने आपकी क्या मिजाज. आप भी तो उनकी इन्हीं नजरों के, इन्हीं अदाओं के वार से घायल हो चुके हो. आप तो बस यही दुआ ही कर रहे हो, की आपका दिलबर आपसे नजरें तो मिलाएगा. लेकिन नजरें मिलाकर अगर झुका दे, तो रब करे आपका दिल खुशी के मारे कहीं रुक ना जाए! उनके झुके हुए नजरों के तीर कहीं आपके दिल के पार ना हो जाए.


Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com

इन लव शायरियों को Dr. Rupeshkumar Chandore इनके आवाज़ में सुनकर 🎧 कहीं आपके भी दिल पर महबूब की कयामत ना बरस जाए ! ▶ PLAY NOW ▶


qayamat shayari urdu

जरासे होंठ हिलने पर
क़यामत आ जाती है..

क्या हाल होगा मेरा
जब तू बोलेगी कुबूल है…

zara se hot hilne per
qayamat aa jaati hai,
kya hal hoga mera
jab tu bolegi qubool hai…

qayamat-2-romatic-love-shayari-hindi-1

kayamat shayari in hindi

तेरी मासूमियत देखकर
मेरे अल्फ़ाज़ खो जाते है..

जब मुस्कुराएगी मेरे सामने
तब सचमे कयामत आएगी…

teri masumiyat dekhkar
mere alfaz kho jate hain
jab muskurayegi
mere samne
tab sach mein
qayamat aayegi…


कयामत शायरी हिंदी उर्दू

सोचना जरा मेरी आंखो
में आंखे मिलाने से पहले..

अगर झुकाओगी नज़रे
तो क़यामत होगी…

soch na zara
meri aankhon
mein aankhen
milane se pahle
agar jhukaogi nazre
to qayamat hogi…

qayamat-2-romatic-love-shayari-hindi-2

अगर ये लव शायरियां आपपर भी कयामत बरसा दें, तो हमें कमेंट बॉक्स 💬 में कमेंट्स करके जरूर बताइयेगा दोस्तों!

इसी तरह से आप हमारे Telegram channel को भी join कर सकते हैं, ताकि आपको रोज नायाब शायरियां मिल सकें. इसके लिए अपने Telegram में सर्च करें शायरी सुकून या @shayarisukun और हमारे चैनल को तुरंत join करें. 24 घंटो के भीतर आपकी सेवा चालू होगी.

आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे 👉🏼शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

बेहतरीन लव शायरियां देखने और सुनने की तमन्ना हैं? तो यहाँ 👉🏼Love Shayari 🥰 पर क्लिक करें.

Leave a Comment