Gam Bhari Shayari Photo -2: Ruthe Ishq Ki Kahani

Gam Bhari Shayari Photo : दोस्तों प्यार में मिले गम को आशिक चाहते हुए भी किसी और को बता नहीं सकता है. क्योंकि उसके दिल पर उसकी मोहब्बत का जो बोझ होता है. उसे वह खुद उतार नहीं पाता है. लेकिन उसके दिल का यह दर्द वो अपनी टूटे दिल की शायरी की मदद से जाहिर करना चाहता है. क्योंकि उसे लगता है कि शायद उसके यह को पढ़कर ही सही लेकिन उसका दिलबर इस गम को समझे.

और अगर वह उससे मिलकर उसके इन हालातों को समझ कर कम नहीं कर सकता है. तो कम से कम वह उसके लिए Gam Bhari Shayari Photo की मदद से दुआ तो जरूर कर सकेगा. और इसीलिए अब उसे इस बात का पता चल चुका है कि खुद ही दुख सहने से अब कुछ नहीं होगा.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


इन गम से भरपूर शायरियों को Ehsaas by Ketki इनकी आवाज में सुनकर अपने प्यार की निशानीयों को याद करोगे!

उसे अपनी दिल की बातों को किसी ना किसी से जरूर बांटना होगा. तभी शायद उसके दिल को जरा सी राहत पहुंच सकती है. और वह जिंदगी की राह को कुछ हद तक ही सही लेकिन समस्याओं से दूर और आसान बना सकता है.

अपनी जिंदगी में आने वाली सभी मुश्किलों से निजात पाने के लिए अब उसे खुद ही कदम उठाने होंगे. क्योंकि जिस दुनिया को वह अपना समझता था. उस दुनिया ने भी अब उसे किसी भी तरह का सहारा देना छोड़ दिया है. और अपने दिल के उजड़े गुलशन को लेकर वह अब Ruthe Ishq Ki Kahani की मदद से दर्द का मातम मना रहा है.

Table of Content

  1. Gam Bhari Shayari Image – गम भरी शायरी इमेज
  2. Gam Bhari Shayari Hindi Mai – गम भरी शायरी हिंदी में
  3. Gam Bhari Shayari Download – गम भरी शायरी डाउनलोड
  4. Gam Bhari Shayari – गम भरी शायरी
  5. Gam Bhari Shayari Photo – गम भरी शायरी फोटो
  6. Conclusion

Gam Bhari Shayari Image – गम भरी शायरी इमेज

1)

तन्हाई के काफिले मुबारक मुझे साथ तेरे खुदा हो
दिल मेरा तोड़ कर जाने वाले जा तेरा भला हो..

ज़िंदगी मेरी दगा दे मुझे तेरी चौखट पर हरजाई
दम जो टूटे मेरा सर तेरे दर पर रखा हो..

-Moeen

tanhai ke kafile mubarak mujhe saath tere khuda ho
dil mera tod kar jane wale ja tera bhala ho..

jindagi meri daga de mujhe teri chokhat per harjaee
dam jo tute mera sar tere dar per rakha ho..

2)

सदीयों पूजा तुम्हें फिर भी एक मुलाकात को तरसे
फकत तेरे लबों से सुनने, अपनी बात को तरसे..

ज़माने की भीड़ में खोया रहा मैं दिन भर
शाम ढले फिर हम विस्ल की रात को तरसे..

-Moeen

sadiyon puja tumhen fir bhi ek mulakat ko tarse
fakat tere labon se sunane apni baat ko tarse..

jamane ki bheed mein khoya raha main din bhar
sham dhale fir ham visl ki raat ko tarse..

Gam Bhari Shayari Image को याद कर आशिक अपने दिलबर से एक मुलाकात के लिए भी तड़पता रहता है. लेकिन उसका महबूब उसे किसी भी बात से अपने दिल के करीब नहीं मानता है. जिस महबूब को आशिक अपनी जिंदगी भर दिल में बसा था रहा है. उसी यार ने अब उसे अपने दिल से बाहर कर दिया है.

Gam Bhari Shayari Hindi Mai – गम भरी शायरी हिंदी में

3)

मैं तड़पा सहेरा सा वो बरसा बरसात की तरह
हमेशा तुम्हें चाहा तेरा इश्क पूजा ईबादत की तरह..

तेरे बाद खत्म हुई रौशनीयाँ सभी ज़िंदगी की
कटती हैं अब ज़िंदगी एक उदास रात की तरह..

-Moeen

main tadpa sahera sa vah barsa barsat ki tarah
hamesha tumhen chaha tera ishq pooja ibadat ki tarah..

tere bad khatm hui roshniya sabhi jindagi ki
katati hai ab jindagi ek udaas raat ki tarah..

4)

ख्वाब रहे अधूरे सारे ख़्वाबों की ताबीर ना मिली
नैन तो मिले तुझ से मगर हमारी तकदीर ना मिली..

जाते जाते वो साथ ले गया सारी मुस्कुराहटें अपने
तेरे बाद हमारी हँसती हुई कोई तसवीर ना मिली..

-Moeen

khwab rahe adhure sare khwabon ki tabir na mili
nain to mile tujhse magar hamari takdeer na mili..

jaate jaate vah sath le gaya sari muskurahate apne
tere bad hamari hasti hui koi tasvir na mili..

Gam Bhari Shayari Hindi Mai की मदद से आशिक अपनी जिंदगी के अंधेरों में ही महबूब को ढूंढता रहता है. लेकिन उसे अपने यार का कोई भी निशान अब तक नहीं मिला है. उसका यार जब से उसकी जिंदगी को तन्हा कर छोड़ चला गया है. आशिक तो अपने चेहरे पर मुस्कुराहट भी लाना भूल गया है.

Gam Bhari Shayari Download – गम भरी शायरी डाउनलोड

5)

ज़िंदगी ना करे बेवफाई तुझ से मुलाकात तक
खुद को रखा महेदूद फकत तेरी ज़ात तक..

अब जो डुबो तो आफताब मुझे भी ले डुबों
आँखें हार गई कौन करे इंतज़ार बरसात तक..

-Moeen

jindagi na kare bewafai tujhse mulakat tak
khud ko rakha mehdud fakat teri jaat tak..

ab jo dubo tu aaftaab mujhe bhi le doobo
aankhen har gai kaun karen intezar barsat tak..

6)

हर कोई दिल को अब नहीं भाता..
दर्द दिल का मैं नहीं बयां कर पाता..

गम इसी बात का है की बताना
चाहता हूं जिसे, वो ही इसे नहीं समझता..

har koi dil ko ab nahin bhata
dard dil ka main nahin baya kar pata..

Gam isi baat ka hai ki batana
chahta hun jise vah hi ise nahin samajhta..

Gam Bhari Shayari Download की मदद से आशिक अब अपनी जिंदगी से भी जैसे हार मान चुका है. क्योंकि उसके दिल को समझने वाला है यार ही जब उसके साथ नहीं है. तो वह अब अपनी जिंदगी जी कर भी क्या हासिल कर पाएगा? और इसी वजह से वह अपने जिंदगी के सूरज को भी खुद को लेकर डूबने की तमन्ना रखता है.

Gam Bhari Shayari – गम भरी शायरी

Gam Bhari Shayari
Gam Bhari Shayari
7)

समंदर के नसीब में भला
कहाँ है कतरा होना..

हर किसी को आता नहीं
रास इश्क़ में फ़ना होना..

-Moeen

samander ke naseeb mein
bhala kahan hai katra hona..

har kisi ko aata nahin
ras ishq mein fanaa hona..

8)

सब से जुदा अपनी
मोहब्बत का भ्रम रखा हैं..

ज़िक्र सिर्फ उसका हैं
मगर नाम छुपा रखा हैं..

-Moeen

sabse juda apni
mohabbat ka bhram rakha hai..

zikr sirf uska hai magar
naam chhupa rakha hai..

Gam Bhari Shayari की मदद से आशिक अपने दिल की बात को जुबा पर आने नहीं देना चाहता है. क्योंकि उसके दिल में अपने महबूब के लिए जो प्यार छुपा हुआ है. वह उसका जिक्र जमाने के सामने नहीं करना चाहता है. क्योंकि उसे लगता है कि यह बेमुरव्वत जमाना उसके यार को भी ताना लगाने से नहीं छोड़ेगा.

Gam Bhari Shayari Photo – गम भरी शायरी फोटो

Gam Bhari Shayari Photo
Gam Bhari Shayari Photo
9)

ऐ खुदा, ना देख मेरे
कर्मों का चिट्ठा यूँ..

इस में एक परदा नशीं
का नाम भी आता हैं..

-Moeen

aye khuda, na dekh
mere karmon ka chittha yun..

ismein ek pardanashi ka
naam bhi aata hai..

10)

अपनी मोहब्बत को हम
कभी रुसवा ना करेंगे..

महफिलों में हम कभी
उसकी चर्चा ना करेंगे..

-Moeen

apni mohabbat ko ham
kabhi ruswa na karenge..

mehfilon mein ham kabhi
uski charcha na karenge..

Gam Bhari Shayari Photo की बात आशिक भी अपने दिल में पूरी तरह से उतारना चाहता है. क्योंकि उसके दिलबर को वह रुसवा तो करना नहीं चाहता था. लेकिन अब वह अपने खुदा को भी उसके प्यार पर यकीन करने की गुजारिश करता है. क्योंकि आशिक गलती से भी प्यार की महफिल में अपने यार का नाम नहीं लेना चाहता है.

Conclusion

Ruthe Ishq Ki Kahani को सुनकर आशिक अपने यार की यादों में खो चुका है. उसे अपनी महबूबा की हर वह कसम याद आने लगी है. जिसे वह उसके सिर पर हाथ रख रख कर खाया करती थी. लेकिन आज उन सारी कसमों और वादों को जैसे वो महबूबा खुद भूल चुकी है.

हमारी इन Gam Bhari Shayari Photo -2 की मदद से अपने दिलबर की दी हुई कसमें याद आ गई हो. तो हमें comment area में comments कर जरूर बताएं.

गम भरी शायरी पर लिखी गयी हमारी ये पोस्ट भी आपको अच्छी लगेगी

  1. Gam Bhari Shayari -1: Dil Ki Dard Bhari Dastan

अगर आप चाहते है कि आपको सारी अपडेट्स अपने Whatsapp पर मिले तो, जल्दी से ‘START’ इस मेसेज को +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.

1 thought on “Gam Bhari Shayari Photo -2: Ruthe Ishq Ki Kahani”

  1. Hello Ketki ma’am,

    You’ve recorded this sad post with your soulful voice. You did exceptionally well.

    Thanks for this quality work!

Leave a Comment