Read and Listen to 20+ Galti Shayari गलती शायरी Collection

Galti Shayari: दोस्तों कभी कभी हम अपनी जिंदगी में कुछ ऐसी गलती कर देते हैं. जिसका हमें पूरी जिंदगी भर पछतावा होता रहता है. ऐसी गलतियां अगर प्यार में हो. तब तो वह गलती करने वाला इंसान और उससे प्यार करने वाला इंसान दोनों को तकलीफ होती है.

और दोनों भी हमेशा गम में ही डूबे हुए रहते हैं. हम मान सकते हैं कि गलतियां इंसान से ही होती है. लेकिन कई बार हम ऐसी गलतियों को होने से भी खुद को रोक सकते हैं. और उन गलतियों से होने वाली परेशानी से भी खुद को बचा सकते हैं.



हमारी इन दर्द भरी गलती शायरीयों को Kalyani Shah इनकी आवाज में सुनकर अपने गलती का एहसास करना चाहोगे

और आज Galti Shayari की मदद से यही बताना चाहते हैं. ताकि आपको अपने जीवन में कभी भी गलती करने से दुख ना हो. और उससे भी ज्यादा आपको कभी भी किसी गलती का कोई पछतावा ना करना पड़े. इसी वजह से हमें अपने जीवन में जितना हो सके कम ही गलतियां करनी चाहिए. और साथ ही गलती शायरी से जितना आप दूर रहो. उतना ही आपके दिल को भी सुकून मिलेगा.

Table of Content


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏



  1. Galti Shayari
  2. Galti Shayari In Hindi
  3. गलती शायरी
  4. Galti Shayari Status
  5. Conclusion

Galti Shayari

Galti Shayari 2 Lines
Galti Shayari 2 Lines
चेहरे बदलने का लोग यहाँ हुनर रखते हैं
पत्थर उछालने वाले काँच का घर रखते हैं..
फिर एक गलती से रूठा रहा वो उम्र भर
जिस की तसवीर हम जेब में अकसर रखते हैं..


-Moeen

chehre badalne ka log yahan hunar rakhte hain
patthar uchalne wali kaanch ka ghar rakhte hain..
fir ek galti se ruthaa raha umra bhar
jiski tasvir ham aksar jeb me aksar rakhte hain..

गलती तो हो गई तुझे भुला कर
याद रखते तो शायद और बरबाद होते..

-Vrushali

Galti to Ho Gai Tujhe Bhula kar
Yad rakhte to Shayad aur Barbad Hote

दोस्तों हम अपने महबूब को उसी गलती के लिए माफ तो कर सकते हैं. लेकिन अगर वह उसी गलती को बार-बार दोहराए. तो वह उसकी गलती नहीं बल्कि आदत बन सकती है. और इसी तरह की गलती आशिक अब नहीं करना चाहता है.

तुझ से मिला कर नज़र शबे सियाह चलती हैं
तेरे कदमों की आहट से, ये राह मचलती हैं..
तुझे अपना समझने की गलती कर बैठे हम
अब साँज ढले तेरे खयालों की शमा जलती हैं..

-Moeen

tujhse mila kar nazar shabe siyah chalti hai
tere kadmon ki aahat se yah rah machalti hai..
tujhe apna samajhne ki galti kar baithe ham
ab sanjh dhale tere khayalon ki shama jalti hai..

रुलाते हो बहुत मुझे अपनी याद में..
गलती हुई जो मांगा तुझे फरियाद में..

rulate ho bahut mujhe apni yad mein..
galti hui jo manga tujhe fariyad mein..

क्योंकि उसने अपने दिल पर के साथ सच्चा प्यार कर पहले ही गलती कर दी है. लेकिन अब उसे भुला कर उसने कोई गलती नहीं की है. बल्कि अगर वह उसे जिंदगी भर याद रखना. तो शायद उसका जीवन पूरी तरह से बर्बाद हो सकता था.

दिल ने तुझे आज फिर से याद किया..
बीते कल में की हुई गलती को फिर से दोहराया..

-Vrushali

Tujhe Aaj Fir se Yad Kiya
Beete kal mein ki Hui Galti ko fir se Dhora Ja

galti shayari in english 5 whatsapp status love
Galti Shayari in Urdu


इन गलती शायरियों को Vinita Khurana इनकी आवाज में सुनकर अपने दिल की गलतियां मान लेना चाहोगे!!

Galti Shayari की तरह कोई आशिक प्यार में कोई गलती कर दे. तो उसका यार उस गलती को नजरअंदाज जरूर करेगा. लेकिन यह गलती अगर धोखा देने वाली बात हो. तब वह आशिक भी इस गलती की सजा अपने महबूब को जरूर देना चाहता है.

तेरी बेरुखी पर खून रोती हैं वो दीवारें
जिस के साये तले हम अपना दिल हारे..
बनाना ईमान वफा को गलती मेरी थी
ज़िंदगी तेरी खातीर हम कहाँ तक रूप धारे..


-Moeen

teri berukhi per khoon roti hai vah deewarein
jiske saaye tale ham apna dil hare..
banana imaan wafa ko galti meri thi
jindagi teri khatir ham kahan tak roop dhare..

लेकिन जब आशिक खुद ही उसे मोहब्बत के लिए फिर से याद करता है. तब तो जैसे वह खुद ही उस गलती को दोबारा करने जा रहा होता है. उसे अपने इस गलती की सजा की बात भी पता होती है. लेकिन फिर भी वह उस गलती को दोहराना चाहता है.

Galti Shayari In Hindi

तेरी यादें भी अब राह में पत्थर सी लगती हैं..
शायद तुझे चाहना यह मेरी सब से बड़ी गलती है..

-Vrushali

Teri yaden Bhi ab Raah Mein Pathar Si Lagti Hai
Shayad Tujhe Chahana yah Meri Sabse Badi Galti Hai

बिन तेरे मुझ से कुछ सोचा ना जाए
खिलाफ तेरे कलम से लिखा ना जाए..
इश्क था तुम से गलती तो ना थी
तेरी गली से आगे मेरा रस्ता ना जाए..

-Moeen

bin tere mujhse kuchh socha na jaaye
khilaf tere karam se likha na jaaye..
ishq tha tumse galti to na thi
teri gali se aage mera rasta na jaaye..

Galti Shayari Hindi
Galti Shayari Hindi

अपने महबूब की चाहत में पूरी तरह से बर्बाद हुआ आशिक कुछ ऐसी ही बात कहता है. क्योंकि उसे अब अपने दिलबर की तरफ से धोखा मिल चुका है. और यह धोखा ही उसके जीवन को नए मकाम तक लाया है.

उजाड़ गया वो जो उन महफिलों की बात करो
वफा वालों से तुम कभी दिलों की बात करो..
गलतीया हिस्सा हैं इंसान के सफरे ज़िंदगी की
जो लूट चुके हैं उन दिलजलों की बात करो..


-Moeen

ujad gaya vah jo un mehfilon ki baat karo
wafa walon se tum kabhi dilon ki baat karo..
galtiyan hissa hai insan ke safar e jindagi ki
jo lut chuke hain unhone diljalo ki baat karo..

इसी वजह से शायद उसे अपने जीवन के पुराने सभी गम भरे दिन याद आ रहे हैं. और उन सभी दिनों को वह ना चाहते हुए भी याद कर रहा है. और अपने महबूब से प्यार करने की बात को लेकर गलती का रूप देना चाहता है.

कभी चाहा था तुझे बेइंतहा शराफत से
उस गलती का हमें आज भी पछतावा है…

-Vrushali

Kabhi Chaha Tha Tujhe BeInteha Sharafat se
use Galti ka Hamen Aaj Bhi pachtawa Hai

गुज़र जाता हुँ अब खुद से शरमा कर
खाया इश्क में धोका तुझ पर भरोसा कर..
मेरी गलती पर सितारों क्यों हैरान हो
मैं भी सो जाऊँगा दिल को ज़रा समझा कर..

-Moeen

gujar jata hun ab khud se sharma kar
khaya ishq mein dhokha tujh per bharosa kar..
meri galti per sitaron kyon hairan ho
main bhi so jaunga dil ko zara samjha kar..

galti shayari 2 lines facebook status image
गलती शायरी


हमारी इन गलतियों पर आधारित शायरियों को Kalyani Shah इनकी आवाज में सुनकर पुरानी गलतियों को दोहराना नहीं चाहोगे!!

आए थे आप की महफिल में
हम आपका दिल चुराने..
ऐसे लूट गए है की इस गलती
पर अब लिखते है तराने..

-Vrushali

aaye the aapki mehfil mein
ham aapka dil churane..
aise lut gaye hain ki is galti per
ab likhte hain tarane..

Galti Shayari In Hindi में अपनी महबूबा को आशिक जिस शिद्दत से चाहता है. वह भी उसे एक मुद्दत तक प्यार करती है. लेकिन जब उसे अपने दिलबर की किसी बात पर शक होता है. वह उसे धोखा देकर तुरंत चली जाती है. अपने दिलबर की इसी ना बताते हुए जाने का दुख होता है.

आपकी इनायत से ही 
आज हम इस मुकाम तक पहुंचे हैं..
कहीं आपको अपनी 
गलती का पछतावा तो नहीं है..?

-Vrushali

aapki inayat say hi aaj ham is
mukam tak pahunche hai..
kahin aapko apni galti ka
pachtawa to nahin hai..?

Galti Shayari In Hindi
Galti Shayari In Hindi
देकर दिल अपना दर्द हम ने पाया हैं
तन्हाई को सीने से लगाया अपना बनाया हैं..
बने थे नवाब गलती से जागीरे इश्क के
दर्द, हसरत, गम, तन्हाई अब अपना सरमाया हैं..


-Moeen

dekar dil apna dard humne paya hai
tanhai ko seene se lagaya apna banaya hai..
bane the navab galti se jagir e ishq ke
dard, hasrat, gam, tanhai ab apna sarmaya hai..

वह उसे यही सवाल करना चाहता है. आज तक उसने अपने यार पर जितनी बार दिल लुटाया है. इन सभी बातों के सामने उसे एक छोटी सी बात पर क्यों भरोसा हुआ? और अब इसी वजह से उसे अपनी शराफत पर भी बहुत ज्यादा पछतावा आ रहा है.

हमें छोड़कर आपने गलती तो जरूर की है
ये समझने की, कि आपके बिना हम बिखर जायेंगे…

-Vrushali

hamen chhodkar aapane galti jarur ki hai..
yah samajhne ki, ki aapke bina ham bikhar jaenge..!

इश्क में अमृत धारा लगता हैं ज़हर भी
टूटे दिल तो लगता हैं बेगाना अपना शहर भी..
मेरी गलतीयों की दी उस ने मुझे ये सज़ा
तोड़ा मुझ से ताल्लुक छोड़ा मेरा नगर भी..


-Moeen

ishq mein amrit dhara lagta hai jahar bhi
tute dil to lagta hai begana apna shahar bhi..
meri galtiyonki di usne mujhe yah saja
toda mujhse taluk chhoda mera nagar bhi..

हमारी तबाही की साजिश
आपने बड़े ही दिल से रची होगी..
तभी तो हम बर्बाद हो गए
और आप से कोई गलती भी नहीं हुई..

-Vrushali

hamari tabahi ki sajish
aapane bade hi dil se rachi hogi..
tabhi to ham barbad ho gaye
aur aap se koi galti bhi nahin hui..

गलती शायरी

galti shayari in hindi quotes on mistake in urdu
Galti Shayari | Shayari on Mistake in Hindi
सर झुकाए कहाँ अब चौखट मयस्सर नहीं कोई
किसे पुकारते हो सन्नाटों में, अब उधर नहीं कोई..
गलती से आ पहुँचे थे फिर तेरी गलीयों में
मुझे पनाह देता वहाँ ऐसा अब घर नहीं कोई..


-Moeen

sar jhukaye kahan ab chaukhat mayassar nahin koi
kise pukarte ho sanaton mein, ab udhar nahin koi..
galti se aa pahunche the fir teri galiyon mein
mujhe panaah deta vahan aisa ab ghar nahin koi..

हमें समझने में आपसे 
गलती तो जरूर हुई है..
हमें गड्ढे में गिराना चाहा 
और आप खुद ही गिर गए..

-Vrushali

hamen samajhne mein aapse
galti to jarur hui hai..
hamen gaddhe mein girana chaha
aur aap khud hi gir gaye..

बेकरारी चाहत में हमें इस कदर बर्बाद कर गई
गलतियों से हमारी नजदीकिया और बढ़ा कर गई..

-Vrushali

bekarari Chahat Mein Hamen Is Kadar Barbad Kar Gai
galtiyo se Hamari nazdeekiyon aur Bada Kar Gai

अपने दिलबर से छुप छुप कर मिलना आशिक को आज भी याद आता है. और अपने महबूब की चाहत में बिताए उन सभी सुनहरे पलों को वह हमेशा याद करता है. लेकिन साथ ही अब उसे इस बात का बड़ा पछतावा भी हो रहा है.

अंधीयारों में हैं रौशन दीप तेरे खयाल का
तुझ पर मरना आगाज़ था मेरे ज़वाल का..
मुझे चाहना गलती तेरी थी कहते हैं वो
ढूंढता फिरता हुँ अब जवाब इस सवाल का..


-Moeen

andhiyaro mein hai roshan deep tere khyal ka
tujh per marna agaaz tha mere jawal ka..
mujhe chahna galti thi teri kahate hain vah
dhundhta firta hun ab jawab is sawal ka..

जाकर कोई कह दो उनसे, 
सजा मेरी कुछ कम कर दे..
पेशे से मुजरिम नहीं हूं मैं, 
इश्क तो गलती से हुआ है..

jakar koi kah do unse
saja meri kuchh kam kar de..
peshe se mujrim nahin hun main,
ishq to galti se hua hai..

ना है कोई जिद और ना ही किसी बात का गुरूर है
तुम्हारे प्यार में जीने का सर पर चढ़ा सुरूर है..
है अगर गुनाह इश्क तो की है हमने गलती
दोगे जो भी सजा तहे दिल से हमें मंजूर है..

na hai koi jid aur na hi kisi baat ka guroor hai
tumhare pyar mein jeene ka sar per chadha suroor hai..
hai agar gunah hai ishq to ki hai humne galti
doge jo bhi saja tahe dil se hamen manjur hai..

उम्र भर हाथ पकड़ने का वादा किया था उन्होंने..
लेकिन हमारी एक गलती पकड़ कर वो चल दिए..

umra bhar hath pakdane ka vada kiya tha unhone..
lekin hamari ek galti pakad kar vo chal diye..

अपनी गलती का कसूरवार 
भला किसी और को क्यों ठहराये..
जब सौंप दी जिंदगी बेकदर को 
और प्यार लापरवाह से किया जाए..

apni galti ka kusurwar
bhala kisi aur ko kyon thehraye..
jab saunp di jindagi bekadar ko
aur pyar laparwah se kiya jaaye..

galti shayari pyar ke dard bhare status in hindi
Galti Shayari Status
किसी को अपना ना मानने वाले लोग,
गलती अपनी मानते नहीं..
खुद जोडना हाथ तुम, बगैर इसके अहमियत
रिश्ते की वो जानते नहीं..

kisi ko apna na manne wale log
galti apni mante nahin..
khud jodnaa hath tum, bagair iske ahmiyat
rishte ki vah jante nahin..

क्योंकि जिस महबूबा से उसने तहे दिल से प्यार किया था. वही उसे जिंदगी के हसीन मोड़ पर अकेला छोड़ चली गई है. और अब वह जैसे तैसे अपनी जिंदगी काटने के लिए तैयार हो चुका है.

ये आंखों के आंसू भी बड़े मासूम होते हैं..
बेकदर इंसानों के लिए ही बहते रहते हैं..

ye aankhon ke aansu bhi bade masoom hote hain..
bekadar insan ke liye hi bahte rahte hain..

ऐसी कौन सी बड़ी गलती कर दी
हमने कि तुम खफा हो गए..
वादा किया जिन्होंने निभाएंगे साथ
जिंदगी भर, वह बेवफा हो गए..

aisi kaun si badi galti kar di
humne ki tum khafa ho gaye..
vada kiya jinhone nibhaenge sath
jindagi bhar, vah bewafa ho gaye..

मुझसे मोहब्बत है तुम्हें इतनी की
मेरी कोई गलती तुम्हें दुख नहीं देती..
जानते हो मेरे वादा ए वफ़ा को,
मैं तुझसे खयानात नहीं कर सकती..

-Vrushali

mujhse mohabbat hai tumhen itni ki
meri koi galti tumhen dukh nahin deti..
jante ho mere vada e wafa ko,
main tujhse khayanat nahin kar sakti..

मोहब्बत में संग उनके हम से एक गलती क्या हुई..
हमें वह ऐसे भूल गए जैसे हम दुनिया छोड़ गए..

mohabbat mein sang unke humse ek galti kya hui..
hamen vah aise bhul gaye jaise ham duniya chhod gaye..

गलती शायरी मोहब्बत में तो हर किसी से कोई ना कोई गलती जरूर हो ही जाती है. लेकिन हमें उन सभी गलतियों को इंसान के कल की परीक्षा कहते हुए माफ करना चाहिए. तभी हम अपनी गलतियों को सुधार सकते हैं.

झुकाते थे खुद को हमेशा
सामने उनके खुशी के लिए..
हर बार समझते हैं अब
गलती हमारी प्यार के लिए..

jhukate the khud ko hamesha
samne unke khushi ke liye..
har bar samajhte hain ab
galti hamari pyar ke liye..

गलतियों का एहसास हमें
आपसे मिलने पर हुआ..
लेकिन कहते भी कैसे कि
हमें आप से प्यार हुआ..

galtiyo ka ehsas hamen
aapse milane per hua..
lekin kahate bhi kaise ki
hamen aapse pyar hua..

सच ही बताते है हम यारा,
तुमसे कुछ छुपा नहीं सकते..

गलती भले ही कर सकते हैं,
मगर धोखा नहीं दे सकते..

-Triveni

sach hi batate hain ham yara,
tumse kuchh chhupa nahin sakte..
galti bhale hi kar sakte hain,
magar dhokha nahin de sakte..

और किसी दूसरे की गलती को कुछ हद तक ही सही लेकिन दूर कर सकते हैं. लेकिन फिर भी वह अपने मन को पूरी तरह से सुकून नहीं दिला सकता है. क्योंकि उसे अपनी महबूब के साथ की हुई धोखेबाजी याद आती है. और वो उसे याद कर बहुत ज्यादा व्याकुल हो उठता है.

Galti Shayari 2 Lines
Galti Shayari 2 Lines


इन गलती शायरियों को Vrushali Suvarna Dnyandev इनकी आवाज में सुनकर अपनी गलतियों की सजा भुगतना चाहोगे!

गलती की सज़ा देने के लिए
तुम्हें भेजा गया था मेरे पास..

मगर तुम गलती में शामिल हो गए
और रहने लगे मेरे आस पास..

-Vrushali

galti ki saja dene ke liye
tumhen bheja gaya tha mere paas..
magar tum galti mein shamil ho gaye
aur rahane lage mere aas paas..

हुई है गलती माफ करना हमें
मगर ना होना खफा..
प्यार में इतनी बड़ी ना दो सजा
के हो जाओ तुम बेवफा..

hui hai galti maaf karna hamen
magar na hona khafa..
pyar mein itni badi na do saja
ki ho jao tum bewafa..

लगा लिया था दिल बेवफा से नादान हम थे
गलती ही थी हमारी जो उन्हें समझे ना थे..
नजरें उठाकर भी नहीं देखते वो आज
प्यार में कल तक जिनकी हम जान थे..

laga liya tha dil bewafa se nadan ham the
galti hi thi hamari jo unhen samjhe na the..
najre utha kar bhi nahin dekhte vo aaj
pyar mein kal tak jinki ham jaan the..

बड़ा पछतावा हो रहा है
मुझे इजहार करके..
गलती कर दी शायद मैंने
तुमसे प्यार करके..

-Pallavi

bada pachtawa ho raha hai
mujhe izhar karke..
galti kar di shayad maine
tumse pyaar karke..

गलती हुई हमारी पर तुम
खामोश ऐसे ना होना..
कुबूल है सजा, बस तुम
एक बार मुस्कुरा देना..

galti hui hamari per tum
khamosh aise na hona..
qubool hai saja, bus tum
ek bar muskura dena..

हो गई गलती मान लिया
हमने आपसे प्यार में..
दे दो माफी हमें, नहीं है
झूठ हमारे किरदार में..

ho gayi galti maan liya
humne aapse pyar mein..
de do maafi hamen nahin hai
jhuth hamare kirdar mein..

गलती कर दी मैंने
तुमसे मोहब्बत करके..

मगर गुनाह नहीं करूंगी
तुझसे बेवफ़ाई करके..

-Vrushali

galti kar di maine
tumse mohabbat karke..
magar gunah nahin karungi
tujhse bewafai karke..

Galti Shayari 2 Lines

उसकी एक बात ने दिल को 
मेरे गलती की सजा दिलाई..
छोड़ जाते हुए कहां, 
अगर थी ही नहीं मोहब्बत तो क्यों दिखाई..

uski ek baat ne dil ko
mere galti ki saja dilai..
chhod jaate hue kahan,
agar thi hi nahin mohabbat to kyon dikhaai..

मोहब्बत में ओ बेवफ़ा कभी
तनहाई तुझे भी महसूस हो..

दुआ करता हूं रब से की तुझे भी
अपनी गलती का एहसास हो..

-Santosh

mohabbat mein o bewafa kabhi
tanhai tujhe bhi mahsus ho..
dua karta hun rab se ki tujhe bhi
apni galti ka ehsas ho..

अपने यार को दी हुई कसम जैसे आशिक को अब गलती से लगने लगी है. क्योंकि हर वक्त अपने दिलबर को याद तो करता है. लेकिन उसके मन में अपने महबूब के लिए प्यार नहीं आता है. उसके दिल में अब प्यार की जगह पछतावे नहीं ले ली है.

गलती से आपसे मुलाकात हो गई..
और फिर इश्क़ की कहानी शुरू हो गई..

-Vrushali

galti se aapse mulakat ho gayi..
aur fir ishq ki kahani shuru ho gayi..

क्योंकि उसका यार उसे प्यार प्यार के बदले में बेवफाई दे चुका है. और इस बात का और महबूब को जरा भी कोई गिला नहीं है. लेकिन आशिक के दिल को जो गहरी ठेस पहुंची है. उसे वो लफ़्ज़ों में बयां नहीं कर पाता है. और तो और वो दिलबर उसे जाते हुए भी मोहब्बत करने की असली तमीज सिखा गया है.

8)

उनसे जब पूछा मैंने इश्क ना करने का सबब..
झट से बोल पड़ी वह, गलतियां बहुत की है तुमने..!

unse jab poochha maine
ishq na karne ka sabab..
zatt se bol padi vah,
galtiyan bahut ki hai tumne..!

Galti Shayari 2 Lines की तरह अगर किसी इंसान से बर्दाश्त ना करने वाली गलती हो जाए. तो उस पर हर कोई खफा हो सकता है. लेकिन अगर यह बात प्यार में होती है. तो उस पर उसका महबूब जब खफा होता है. तो जैसे उसे पूरी दुनिया ही खफा खफा सी और नाराज सी लगती है.

कितना भी कारनामा तुम छुपाओ,
दुनिया को सब कुछ दिखता है..
जो कोई गलतियां करता है,
वही तो असल में सीखता है..

-Pallavi

kitna bhi karnama tum chhupao,
duniya ko sab kuchh dikhta hai..
jo koi galtiyan karta hai,
vahi to asal mein sikhta hai..

कुछ ऐसा ही अब आशिक को अपने प्यार में लग रहा है. क्योंकि वो जब भी अपने दिलबर से खुद से प्यार ना करने की वजह पूछता है. तब उसकी महबूबा उसे अपने चाहत में की हुई सारी गलतियों को याद दिलाती है. और यही बात आशिक के दिल को ठेस पहुंचा जाती है.

Galti Shayari Status

तेरी नहीं है गलती जो तूने मुझे धोखा दिया..
गलती तो है मेरी ही, जो तुझे मैंने मौका दिया..

yah teri nahin hai galti jo tune mujhe dhoka diya..
galti tu hi meri hi jo tujhe maine mauka diya..

अपने दिलबर की गलती को आशिक अपनी गलती आता रहता है. क्योंकि उसे लगता है कि जिस बात की शुरुआत ही गलती से हो उसका अंजाम भी गलत ही होगा.

हर गलती की माफ़ी होती है
जहां मोहब्बत ज़िंदा हो..
वरना रिश्ता तो बस हल्का सा
धक्का लगने से ही टूट जाता है..

-Vrushali

har galti ki maafi hoti hai
jahan mohabbat jinda ho..
varna rishta to bus halka sa
dhakka lagne se hi tut jata hai..

और उससे बचने के लिए ही वह खुद अपने दिलबर से रिश्ता तोड़ने के लिए भी तैयार हो जाता है. कुछ इसी वजह से वह अपने यार की गलती को खुद की गलती मानता है. और उसके लिए वह खुद को ही अब जैसे कोसता रहता है. लेकिन अब इस बात के लिए वह खुद पर भी बहुत ज्यादा नाराज है.

10)

होकर जिंदा भी जिंदगी से बहुत दूर हूं
क्यों आज मैं इतना मजबूर हूं..
गलती किए बिना ही सजा मिली है मुझे
आखिर किससे कहूं कितना बेकसूर हूं..

hokar jinda bhi jindagi se bahut dur hun
kyon aaj main itna majbur hun..
galti kiye bina hi hi saja mili hai mujhe
aakhir kisse kahun kitna bakasur hun..

झूठी बातों से ना खुशी मिलती,
ना प्यार आबाद होता है..
एक गलती से मगर अक्सर
सच्चा रिश्ता बर्बाद होता है..

-Santosh

jhuthi baton se na khushi milti,
na pyar abad hota hai..
ek galti se magar aksar
saccha rishta barbad hota hai..

मेरी गलतियां तुम्हें कभी
नाराज़ नहीं करती..
क्योंकि तुम मेरी गलती से
ज्यादा नाराज़गी से डरते हो..

-Vrushali

meri galtiyan tumhen kabhi
naraj nahin karti..
kyunki tum meri galti se
jyada narazgi se darte ho..

Galti Shayari Status से अपनी जिंदगी से नाराज और तंग आया हुआ आशिक खुद को बहुत कोसता है. उसे अपनी जिंदगी पर बहुत ज्यादा नाराजगी होती है. और वह खुद को बहुत ही कमजोर और मजबूर समझने लगता है. क्योंकि जिस दिलरुबा से तहे दिल से प्यार करता था.

सच्चे दिल से चाहने वाले को
माफ़ करने वाला बड़ा होता है..
मोहब्बत में जो गलती ढूंढता है,
अक्सर वो अकेला रह जाता है..

-Triveni

sacche dil se chahane wale ko
maaf karne wala bada hota hai..
mohabbat mein jo galti dhundhta hai,
aksar vo akela rah jata hai..

आज वही उसे अकेला छोड़कर गुमशुदा हो चुका है. लेकिन इस बात में अपने प्यार की उससे कोई गलती नहीं है. वह बेकसूर है इस बात को वह खुद तो जानता है. लेकिन किसी दूसरे को वह बता नहीं पा रहा है.

समझ नहीं आता आखिर
वह मुझसे क्या चाहता है..
मेरा यार ही गलती करता है
और खुद ही खफा होता है..

-Pallavi

samajh nahin aata aakhir
vah mujhse kya chahta hai..
mera yaar hi galti karta hai
aur khud hi khafa hota hai..

हर रोज मेहनत करने वाला ही तो
अपने मन को नया आयाम देता है..
जिंदगी में रोजाना नई गलती
करने वाला ही यारों सफल होता है..

-Santosh

har roj mehnat karne wala hi to
apne man ko naya aayam deta hai..
jindagi mein rojana nai galti
karne wala hi yaaron safal hota hai..

मोहब्बत में यार, कशिश ही
जिंदगी की उम्मीद ले आती है..
गलतियां ही अक्सर हमें अपनी,
जिंदगी का तजुर्बा दे जाती है..

-Triveni

mohabbat mein yaar, kashish hi
jindagi ki ummid le aati hai..
galtiyan hi aksar hamen apni,
jindagi ka tajurba de jaati hai..

मोहब्बत में अपने यार को भी
भूल जाने की तैयारी होती है..
गलतियों को माफ कर देने में ही
सभी की समझदारी होती है..

-Pallavi

mohabbat mein apne yaar ko bhi
bhul jaane ki taiyari hoti hai..
galtiyo ko maaf kar dene mein hi
sabhi ki samajhdari hoti hai..

दिल से ना कर सको चाहत फिर भी,
हो सके तो माफ जरूर करना..
प्यार में दिलबर की गलतियों को
नजरअंदाज तुम जरूर करना..

-Santosh

dil se na kar sako chahat fir bhi,
ho sake to maaf jarur karna..
pyar mein dilbar ki galtiyo ko
najar andaaz tum jarur karna..

बिछड़ कर तुमसे उदास
अब ये जिंदगी हुई है..
शायद मुझसे ही प्यार में
कोई बड़ी गलती हुई है..

-Triveni

bichad kar tumse udaas
ab ye jindagi hui hai..
shayad mujhse hi pyar mein
koi badi galti hui hai..

galti 1 par sad hindi shayari let you make cry broken heart 1
Galtiyon par Shayari
मोहब्बत में गलती की
माफी यार जरूर देगा..
मगर महबूब को दोगे धोखा,
तो अंजाम बुरा होगा..

-Pallavi

mohabbat mein galti ki
maafi yaar jarur dega..
magar mhboob ko doge dhokha,
to anjam bura hoga..

धोखा दिया तब पता चला
तुम कितनी जालिम हो..
प्यार में की हुई गलती की
वजह तो हमें मालूम हो..

-Santosh

dhokha diya tab pata chala
tum kitni jalim ho..
pyar mein ki hui galti ki
vajah to hamen maloom ho..

औरों के भरोसे ना रहके अपनी
तकदीर तुझे खुद लिखनी होगी..
दिलबर की गलतियों पर पर्दा
डालने की तरकीब सीखनी होगी..

-Triveni

auron ke bharose na rahke apni
takdeer tujhe khud likhni hogi..
dilbar ki galtiyon per parda
dalne ki tarkeeb sikhani hogi..

तोड़ दे दिल तुम्हारा भी जो कभी,
चाहत का दीदार हो तुझे उसी से..
गलती का एहसास होगा तुझे भी,
जब तू करेगी मोहब्बत किसी से..

-Pallavi

tod de dil tumhara bhi jo kabhi,
chahat ka deedar ho tujhe usi se..
galti ka ehsaas hoga tujhe bhi,
jab tu karegi mohabbat kisi se..

सच्ची चाहत में ये कैसी
तनहाई मेरे नसीब आई है..
जो गलती कभी ना की मैंने
उसकी भी तो सजा पाई है..

-Santosh

sacchi chahat mein ye kaisi
tanhai mere naseeb aayi hai..
jo galti kabhi na ki maine
uski bhi to saja payi hai..

करो कितनी भी बुरी मन्नते,
मगर दूसरे का बुरा नहीं होता..
अपनी गलतियों को छिपाकर
हमें कोई फायदा नहीं होता..

-Triveni

karo kitni bhi buri mannaten,
magar dusre ka bura nahin hota..
apni galtiyo ko chhipa kar
hamen koi fayda nahin hota..

अपना सबकुछ भूल कर वो
चाहत की यादों में खो जाता..
मान लो तुम, छोटी सी गलती पर
कोई गुनहगार नहीं हो जाता..

-Pallavi

apna sab kuchh bhul kar vo
chahat ki yadon mein kho jata..
man lo tum, chhoti si galti per
koi gunehgar nahin ho jata..

जान गया हूं, हर किसी के
नसीब में तन्हाई नहीं होती..
प्यार में मगर हर गलती की
सजा बेवफाई नहीं होती..

-Santosh

jaan gaya hun, har kisi ke
naseeb mein tanhai nahin hoti..
pyar mein magar har galti ki
saja bewafai nahin hoti..

बेवफ़ा, पछता रहा हूं अब क्यों
तुम्हारी यादें दिल में भर दी हमने..
खामोश मोहब्बत कर ली तुमसे,
शायद यही गलती कर दी हमने..

-Triveni

bewafa, pachhata raha hun ab kyon
tumhari yaden dil mein bhar di humne..
khamosh mohabbat kar li tumse,
shayad yahi galti kar di humne..

भूल गए हैं खुद, मगर वो मुझे
अपनी यादों में उलझा रहे हैं..
खामोश रहकर ही वो आजकल
मुझे गलती की सजा दे रहे हैं..

-Pallavi

bhul gaye hain khud, magar vo mujhe
apni yaadon mein uljha rahe hain..
khamosh rehkar hi vo aajkal
mujhe galti ki saja de rahe hain..

आजकल वो मुझसे न जाने
किस बात का प्रतिशोध ले रही है..
छोटी सी गलती की वो मुझे
जानबूझकर बड़ी सजा दे रही है..

-Santosh

aajkal vo mujhse na jaane
kis baat ka pratishodh le rahi hai..
chhoti si galti ki vo mujhe
jaanbujh kar badi saja de rahi hai..

गलती की है तो सजा का
जहर पीना चाहता हूं मैं..
सर झुका कर ही सही
मगर जीना चाहता हूं मैं..

-Triveni

galti ki hai to saja ka
jahar pina chahta hun main..
sar jhuka kar hi sahi
magar jina chahta hun main..

दिल में झूठी मोहब्बत के लिए
उसकी अब तन्हाई भर दी मैंने..
मगर तुम रूठ जाओ मुझसे
इतनी बड़ी गलती क्या कर दी मैंने..

-Pallavi

dil mein jhuthi mohabbat ke liye
uski ab tanhai bhar di maine..
magar tum rooth jao mujhse
itni badi galti kya kar di maine..

बस एक बार दिल की
सफाई देना चाहता हूं..
अपनी ही गलती से मैं
सीख लेना चाहता हूं..

-Triveni

bus ek bar dil ki
safai dena chahta hun..
apni hi galti se main
sikh lena chahta hun..

कश्मकश में उलझा रहा मैं
दिलपर मेरे कैसी शामत आई..

इक़रार कर लिया आपका
उस गलती की सजा हमने खूब पाई…

kashmkash Me
Uljha raha mai
Dil per Mere yah
Kaisi shaamat Aayi..
iqrar kar liya aapka
us galti ki Saja bhi
Humne Khoob paayi…

तेरी याद में टूट कर बिखरना
अब आदतन सा लगता है

यूं टूट कर तुझे चाहने की गलती 
दोहराना अब अच्छा लगता है

Moeen

teri yaad me tut kar bikhrna
ab aadatan sa lagta hai
yu tutkar tujhe chahne ki galti
doharana ab accha lagta hai

मेरे महबूब इतनी बड़ी सजा
ना देना हमको गलती की

तुझ से रूबरू ना हो पाऊं
ऐसी हमने खता नहीं की

Neelam

mere mehbub itni badi saja
na dena humko galti ki
tujhse rubaru na ho pau
yesi humne khata nhi ki

गलती ये नहीं की,
बेइंतेहा इश्क़ हुआ..

मलाल ये है की,
बस तुमसे ही हुआ…!

galti ye nahin ki
beinteha ishq hua,
malaal ye hai ki,
bas tumse hi hua…!

ये किस गलती की सजा
तू हमेशा देती है,

धोखा भी देती है..
और प्यार भी करती है…

ye kis galti ki saja
tu hamesha deti hai,
dhokha bhi deti hai
aur pyar bhi karti hai…

मेरी नापसंद को,
उन्होंने कभी अपनाया नहीं,

बेहद मासूम है वो,
जो गलती ढूंढ़ रहे नापसंद में…

meri napasand ko
unhone kabhi apnaya nahi,
behad masoom hai vo,
jo galati dhundh rahe
napasand mein…

galti-1-par-sad-hindi-shayari-let-you-make-cry-broken-heart-2
Shayari on Galti | Galti Par Shayari


इन Galti Shayari को Santosh Salve इनकी आवाज़ में सुनकर आप अपनी गलतियां नहीं दोहराऐंगे!

Conclusion

दोस्तों एक गलती तो हर इंसान से होती ही रहती है. लेकिन अगर प्यार में हम बार-बार वही गलती करे. तो यह बात हमारे दिल के लिए मुनासिब नहीं होती है. और हमारा दिल उस गलती को शायद सह भी नहीं पाता है. और तब हम किसी दूसरे इंसान को ही अपनी गलती की वजह करार देते हैं. जो कि गलती शायरी के लिए गलत बात होती है.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.


You may like this


2 Comments

  1. Santosh July 28, 2021
  2. Vinita July 28, 2021

Add Comment