rasam-1: sad shayari प्यार की सारी रस्में ही याद आ जाएगी!

rasam shayari : आज तक आपने जमाने की कोई भी rasam तोड़ी नहीं है. लोग जो भी rasam आपको पूरी करने के लिए कहते गए, उस rasam को आप बिना कुछ सोचे और बिना विरोध किए पूरा करते गए हैं. इन बातों से यही साबित होता है कि आपने दुनिया को झूठा विरोध करना छोड़ दिया है.

इन दर्द से भरी शायरियों को Shraddha Jain इनकी आवाज़ में सुनकर दुनिया की रस्मों को ठुकराना चाहोगे!

ऐसा नहीं है कि आपका खुद पर और अपने काम पर विश्वास नहीं है. लेकिन आपको अभी इस सत्य का ज्ञान भी जरूर हो चुका है कि चाहे जमाने को आप कितना भी भला बुरा कहो, जमाना आपको टोकना नहीं छोड़ता है. फिर वह टोकना अच्छी बात के लिए हो या फिर नहीं हो.

लोग हमेशा खुद की ही मनमानी करना चाहते हैं और उस बात का परिणाम आपको भुगतना पड़ता है. और दुनिया की यही रीत, rasam हमेशा से चलती आ रही है. और आपको आगे पता चल चुका है कि किसी को भी कुछ बोल कर या फिर सुना कर कोई फायदा नहीं है.

और इसी वजह से आप उस रस्म को चुपचाप सहन करते हुए निभाते रहते हैं. यहां हम रस्म को प्रथा; परंपरा; कोई पुराना चलन या फिर रीति रिवाज़ भी कह सकते हैं.

एक बार आप tomato rasam या फिर tomato rasam recipe कोशिश करते हुए इसे देखकर बनाने की कोशिश कीजिए. आपको यह इतनी पसंद आएगी कि आप इसे 12 बार बनाना और खाना चाहोगे. और आपने तो दुनिया के कई सारे रिवाजों को देखा ही होगा. उर्दू में उन्हें हम rasm e duniya कह सकते हैं.

दुनिया की सारी रस्मों को एक तरफ छोड़कर हम अपने रास्ते चल दिए हैं..

जब आप अपने यार को तहे दिल से चाहते थे तो आपको दुनिया के किसी भी रस्म की कोई परवाह नहीं थी. लोग आपको आपके सामने या फिर पीठ पीछे भी आपकी निंदा करते थे. आपको पुराने रीति-रिवाजों और रस्मों की याद दिला कर उन्हें पालने के लिए कहते थे.

लेकिन आपको अपने प्यार पर और खुद पर पूरा यकीन था. इसी वजह से आपने लोगों की एक भी नहीं सुनी थी. और अगर आप किसी की सुनते भी थे तो फिर भी आप उसे अपने मन से निकाल देते थे और अपनी ही दिल की सुनते हुए उस काम को अंजाम देते थे.

वह वक्त ही कुछ ऐसा था कि जब आपका साथी आपका पूरी तरह से साथ देने के लिए तैयार था. लेकिन आज वक्त और हालात बदल गए हैं. और कहते हैं ना कि वक्त के साथ-साथ जज्बात भी बदल जाते हैं. कुछ इसी तरह से अब आप दुनिया की सारी प्यार भरी रस्मों को तोड़ते हुए खुद अपने रास्ते पर चलना सीख गए हैं.

वह तो प्यार की सारी रस्में भुला कर आपको छोड़ कर चल दिए हैं..

आपको इस बात की पूरी तरह से जानकारी है कि प्यार अगर सच्चा हो तो वह पूरे दिल से होना चाहिए. और अगर प्यार दोनों तरफ से हो तो ही वह पूरा और सच्चा कहलाता है. आप तो अपने दिलबर पर अपनी जान हरदम लुटाते ही रहते हो. लेकिन आजकल आपकी दिलबर के खयालात कुछ बदल से गए हैं.

उनके रुखसार अब कुछ अलग ही नजर आते हैं. उनकी नजरों में एक तेवर की झलक दिखाई देती है. आपने उन्हें प्यार में जो भी कसम, रस्म और जो भी वादे दिए थे शायद उन्हें अब याद नहीं करना चाहते हैं. आपने प्यार की जो भी रस्म उन्हें निभाने के लिए कहां था कामा शायद वो उन्हें भी भूल चुके हैं.

और एक तरह से वह जाने अनजाने में आपको भुला कर किसी दूसरे के होने चल दिए हैं. और यही बात अब आपके दिल को खाए जा रहे हैं. आपका तो अपने प्यार पर पूरा भरोसा है लेकिन अब आपके साथी पर कोई भरोसा नहीं रहा है.

प्यार की रस्में को निभाते निभाते हमें खुद बेवफा करार दिया गया…

आपको अपने दिलबर से किए हुए सारे वादे आज तक याद है. और आप उन्हें अच्छी तरह से निभाना जानते भी थे और निभा भी रहे थे. आपको उनकी मोहब्बत भरी नजर ने अपना बना कर रख दिया था. उन्होंने उनके दिल में ही आपके लिए जगह बनाकर, बिना दुनिया के रस्म कि परवाह किए बगैर, उसमें आपको बसेरा दिया था.

आप उनके प्यार में जैसे पागल ही हो चुके थे और खुद को भी भूल चुके थे. लेकिन आपने यह महसूस किया होगा कि कभी-कभी आपके इरादे नेक होते हुए भी आप कोई भी काम अच्छा अच्छी तरीके से नहीं कर सकते हो. और यही बात आपको अब अपने साथ होते हुए दिखाई दे रही है.

आप तो सच्चे दिल से अपने प्यार को और उसकी सारी रस्मों को पूरा करने की कोशिश में लगे हुए हो. लेकिन यह जमाना है कि आपकी मोहब्बत को ही नजर लगाने पर तुला है. और आपकी यार को भी अब आप पर पूरी तरह से भरोसा नहीं आ रहा है. और इसी वजह से उसने भी आपको बेवफा करार देकर आपको अपने प्यार से बेदखल कर दिया है.


rasam sad shayari in hindi urdu english

दीवारें ये जमाने की
हम तोड़ चले हैं..

जब जख्म मिला दिल पर,
सारी रस्में भूल गए हैं..

deeware ye zamane ki 
ham tod chale hain..
jab zakhm mila dil par,
sari rasme bhul gaye hain…

rasam-1-sad-shayari-rite-hindi-quotes-1
rasam-1-sad-shayari-rite-hindi-quotes-1


beautiful sad shayari collection thoughts, lyrics

रस्म ए मोहब्बत को,
बेफिक्र होकर भूलते गए..

अनजाने में, जान मेरे
तुम अनजान बनते गए…

rasm e mohabbat ko 
befikr hokar bhul gaye..
anjane mein, jaan mere 
tum anjaan bante gaye…


rasam sad shayari thoughts, quotes, lyrics

वादे ये इश्क़ के हम
निभाते जा रहे थे..

कमबख्त जमाने की रस्मों ने
हमे बेवफा कर दिया…

waade ye ishq ke ham 
nibhate ja rahe the..
kambakht zamane ki rasmon ne
hamen bewafa kar diya…

rasam-1-sad-shayari-rite-hindi-quotes-2
rasam-1-sad-shayari-rite-hindi-quotes-2


हमारी इन सैड शायरीओं को सुनकर मोहब्बत में किये हुए सारे वादे और रस्में आपको याद आ गए हो, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए हमें जरूर बताइएगा.

 शायरी सुकून का Whatsapp चैनल ज्वॉइन करने के लिए ‘START’ यह मैसेज +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर चालू होगी.

फेसबुक पर शायरी के अपडेट्स पाने के लिए इस शायरी सुकून पेज को Like जरूर करें.

इसी तरह और गम भरी शायरियोंके स्टेटस देखने के लिए यहाँ Sad Shayari क्लिक करें.

10 thoughts on “rasam-1: sad shayari प्यार की सारी रस्में ही याद आ जाएगी!”

  1. वाह श्रद्धा जी,
    आपकी आवाज में रस्म पर लिखी इन शायरियों को सुनकर सचमुच पुरानी यादें ताज़ा हो गयी
    लाज़वाब

    Reply

Leave a Comment