Ramzan Shayari -1 : Motivational Status In Hindi

Ramzan Shayari : दोस्तों, इस पाक रमजान महीने की हम आप सभी को तहे दिल से शुभकामनाएं देना चाहते हैं. और साथ ही हम आपकी जिंदगी को प्रेरणाओं से भर देने वाली रमजान शायरी भी लेकर आए हैं.

हमें यकीन है कि इन सभी Ramzan Shayari को सुनकर आप जिंदगी के पाक मंजर को महसूस कर पाएंगे. और साथ ही खुदा से सब की खुशहाली के लिए दुआएं भी जरूर मांगोगे. आप में से कई लोगों ने इस पवित्र रमजान महीने में रोजे भी रखे होंगे.

माना जाता है कि रमजान के समय में जन्नत के दरवाजे खुले रहते हैं. और इसी वजह से रमजान में जो भी इंसान दान यह किसी की मदद करता है. उस पर खुदा की मेहर नजर होती है. हम भी Shayari Sukun के मंच की मदद से आप सभी की खुशहाली की दुआ मांगना चाहते हैं.

और हमें यकीन है कि आज के Motivational Status In Hindi आपको बहुत पसंद आएंगे. और साथ ही आप हमारे Shayari Sukun के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल इसको भी जरूर लाइक करें.

Ramzan Shayari DP

रहमत की घटाएँ छाने लगी हैं
फिज़ाएं भी नूर बरसाने लगी हैं..

रमज़ान की बरकतों का हैं सिला
गुनाहों में कमी आने लगी हैं..

Moeen

rahmat ki ghataye chhane lagi hai
fijaaye bi noor barsaane lagi hai
ramjaan ki barkton ka hai sila
gunahon main kami aane lagi hai

Ramzan Shayari की मदद से आप अपनों को तहे दिल से शुभकामनाएं दे सकते हैं. और साथ ही अपनों पर खुदा की रहमत हो यही दुआएं मांग सकते हो. रमजान के पाक महीने में पूरी कायनात का जैसे नूर ही बदल जाता है.

रमजान महीने का यह पाक समय आपके जिंदगी में भी नई खुशियां लेकर आए. और आपने जो भी गुनाह किए थे वह अल्लाह ताला की रहमत से माफ हो जाए. यही हम सब की दुआएं हैं.

जो भूकों को खाना खिला देंगा
इस का सिला उसे खुदा देंगा..

रमज़ान की कदर करो गुनाहगारों
खुदा तुम्हारें सब गुनाह मिटा देंगा..

Moeen

jo bhukon ko khana khila denga
is ka sila use khuda denga
ramjaan ki kadar karo gunahgaro
khuda tumhare sab gunah mita denga

दोस्तों रमजान का महीना तो अपने आप में ही पाक होता है. इस महीने में हमें जितनी हो सके अच्छे काम ही करने चाहिए. ताकि खुदा कि हम पर रहमते यूं ही बनी रहे.

Ramzan Shayari in Urdu
Ramzan Shayari in Urdu

लेकिन देखा जाए तो हमें पूरी जिंदगी में ही सभी लोगों के लिए कुछ ना कुछ अच्छा करते रहना चाहिए. फिर चाहे वह किसी की मदद करना हो या फिर कोई दान करना हो. और रमजान में बड़े से बड़े गुनाहगारों की सजा को माफ हो सकती है. इसी वजह से जितना हो सके खुदा को याद करना चाहिए.

Ramzan Shayari For Girlfriend

बाद मरने के तेरे अपने तुझे भुला देंगे
दो गज़ ज़मीं के नीचे तुझे दफना देंगे..

रमज़ान को गनीमत जान इबादत कर
यहीं नेकियाँ तेरी कब्र में फुल खिला देंगे..

Moeen

baad marne ke tere apne tujhe bhula denge
do gaz jami ke niche dafna denge
ramjaan ko ganimat jaan ibadat kar
yahi nekiya teri kabr main phool khila denge

Ramzan Shayari In Hindi की मदद से हम आपको खुदा के रहमत की हिदायत देना चाहते हैं. आपने तो सुना ही होगा कि मौत हमारे जिंदगी की एक सच्चाई होती है. और इस सच्चाई को हम कभी टाल नहीं सकते हैं. इसी वजह से हमें अपनी जिंदगी में जितना हो सके उतने अच्छे कर्म ही करनी चाहिए.

क्योंकि मरने के बाद तो अपने ही लोग हमें दफना देते हैं. और उसके कुछ समय बाद में भुला भी देते हैं. लेकिन इस पाक रमजान के समय में आप जितने भी नेकी के काम करोगे. उन सभी कामों की वजह से आप को जन्नत जरूर नसीब होगी.

अपने गुनाहों से मौला मैं शरमिंदा हुँ
तेरा बागी हुँ, मगर फिर भी ज़िंदा हुँ..

तुझे रमज़ान का वास्ता, बख्श दे मुझे
लाख गुनाहगार सही मगर तेरा बंदा हुँ..

Moeen

apne gunahon se maula main sharminda hu
tera bagi hu magar fir bhi jinda hu
tujhe ramjaan ka vasta, bakhsh de mujhe
laakh gunahgar sahi magar tera banda hu

Ramzan Shayari को सुनकर आप अपने सभी गुनाहों की माफी अपने खुदा से जरूर मांगना चाहोगे. क्योंकि आज तक आपने जिंदगी में कई सारे ऐसे गुनाह किए हैं. जिनकी वजह से अब आपका दिल खुद शर्मिंदगी का अहसास कर रहा है.

शायद यही शर्मिंदगी का एहसास अब आपको खुदा के दरबार में खींच लाया है. और आप अल्लाह से जिंदगी के उन गुनाहों को माफ करने की रहमत मांग कर रहे हो. ताकि अल्लाह ताला आपको अपना बंदा समझ कर माफी दे दे.

Ramzan Shayari Urdu

रमज़ान के सब रंग मेरे देखे भाले हैं
इसी की बरकतों से ज़माने में उजाले हैं..

गुनाहगारों को भी कर देता हैं माफ़ वो
खुदा की रहमत के अंदाज़ बड़े निराले हैं..

Moeen

ramjaan ke sab rang merw dekhe bhale hai
isi ki barkton se jamane main ujale hai
gunahgaron ko bhi kar deta hai maf wo
khuda ki rahmat ke anddaz bade nirale hai

Ramzan Shayari For Girlfriend की मदद से आप अपने यार को यह बात बताना चाहते हो. चाहे आप जिंदगी में कई लाख गुनाह कर बैठे हो. लेकिन गुनाहों का पछतावा करते हुए अगर आप खुदा से माफी मांगोगे. तो खुदा भी यहां पर रहमत बरसाते हुए आपको जरूर माफ कर सकता है.

क्योंकि एक अल्लाह ताला ही है जो आपके दिल की आवाज सुनता है. और वह इतना दयालु है कि बड़े-बड़े गुनाहगारों को भी रहमत की बरकत देता है. इसी वजह से आपको खुदा की इस रहमत से कभी ना कभी रूबरू जरूर होना चाहिए.

रमज़ान की रौनकें दिलों को लुभाती हैं
फिज़ाएं भी रहमत के गीत गुनगुनाती हैं..

गुनाहगार चले आते हैं दीवानावार मस्जीद में
बहारे रमज़ान बख्शीश का पैगाम लाती हैं..

Moeen

ramjaan ki raunake dilon ko lubhati hai
fijaye bhi rahamat ke geet gungunati hai
gunahgar chale aate hai diwanawar masjid main
bahare ramjaan bakhshish ka paigam lati hai

Ramzan Shayari Urdu का एहसास ही कुछ निराला होता है. जिसकी मदद से आप अपने जिंदगी को गुनाहों के रास्ते से वापस ला सकते हो. और अच्छी जिंदगी जीने के लिए खुदा से दरख्वास्त कर सकते हो.

ताकि खुदा भी इस रमजान के पाक महीने में आप पर रहमत की बरसात कर दे. और आपकी जिंदगी को यूंही खुशहाल बनाए रखें. यह रमजान की रौनक ही होती है जो हर किसी के दिल को खींच लाती है. और खुदा के दरबार का हिस्सा बना देती है.

Ramzan Shayari In Hindi

किस की आमद की ये बहारें हैं
कैसी सुहानी आज ये फिज़ाएं हैं..

धूम हैं अर्श पर आमदे रमज़ान की
बड़ी मसरूर आज की ये हवाएँ हैं..

Moeen

kis ki aamad ki ye bahare hai
kaisi suhani aaj ye fijaaye hai
dhoom hai arsh par aamde ramjaan ki
badi masrur aaj ki ye hawaye hai

Ramzan Shayari DP की मदद से हम आपको इसी बात को समझाना चाहते हैं. जब भी आप अपनी जिंदगी में अकेलापन महसूस करो. तो आपको एक खुदा की पनाह के सिवा और कोई भरोसेमंद पनाह नहीं मिलेगी. और इसी वजह से आपको हमेशा अल्लाह ताला की रहमत की भीख मांगते रहनी चाहिए.

ताकि अल्लाह आपकी जिंदगी में हुए सभी गुनाहों को माफ कर सके. और आपको जीते जी ही जिंदगी में जन्नत बहाल कर सके. यह पूरी कायनात और यह फिजाएं भी तो अल्लाह ताला की मेहरबानी होती है. इसी वजह से उन पर भी अल्लाह की मेहर नजर होती है.

झुके हैं सब गुनाहगार आज सजदों में
अजीब रौनकें हैं शहर की मस्जीदों में..

खुदा की रहमतों का पैगाम लाया रमज़ान
हलचल सी हैं आज इमानी जज़बों में..

Moeen

jhuke hai sab gunahgar aaj sajdo main
ajeeb raunake hai shahar ki masjid main
khuda ki rahmaton ka paigam laya ramjaan
halchal si hai aaj imani jajabon main

Ramzan Shayari Urdu की मदद से आपको खुदा के दरबार में सजदा जरूर करना चाहिए. ताकि आप अपने सभी गुनाहों की सजा माफ करने की दरख्वास्त अपने मौला से कर सको. खुदा की पाक मेहर नजर को पाकर ये मस्जिदें भी तो हमें उजाला दे रही है.

और पूरी कायनात में ही जैसे एक नई ऊर्जा आ गई है. और यही ऊर्जा और उत्साह आपके जिंदगी में भी शिरकत हो जाए. इसलिए आपको खुदा के दरबार में जरूर नमाज अदा करनी चाहिए.

Ramzan Shayari

सहरी की बहारें भी खूब सजती हैं
इफ्तार की महफिलें भी खूब लगती हैं..

रमज़ान में ये मंज़र भी देखा हम ने
आँखों से झलकती इमां की मस्ती हैं..

Moeen

sahri ki bhare bhi khub sajati hai
iftar ki mahafile bhi khub lagti hai
ramjaan main ye manjar bhi dekha hum ne
aankho se jhalakti ima ki masti hai

Ramzan Shayari In Hindi की मदद से आप अपने दिल को फिर एक बार पाक बना सकते हो. ताकि परवरदिगार आपके जिंदगी में खुशहाली दे सके. और आप अपनी जिंदगी को जन्नत जैसी खुशियों का अनुभव कर सके.

रमजान की सहर का एक अपना ही अलग मजा होता है. और इफ्तार में तो हर कोई खुदा से रहमत की दुआ करता है. ताकि उस पर हमेशा अपनी बरकतों की मेहर नजर बनी रहे. और हर इंसान रमजान की इस पाक घड़ी को अपनी आंखों में हमेशा बसाएं रख सके. और कायनात के खुशियों का एक हिस्सा बन सके.

हुआ वक्ते इबादत मस्जीद की ओर चले
चेहरे खिले हैं रोज़ादारों के शाम ढले..

हमने ये दुआ हैं मांगी रमज़ान में
फिर कभी ना भटके, ऐसी हिदायत मिले..

Moeen

hua waqt e ibadat masjid ki aur chale
chehre khile hai rojadaron ke shaam dhale
hum ne ye dua hai mangi ramjaan main
fir kabhi na bhatke, aisi hidayat mile

Ramzan Shayari DP
Ramzan Shayari DP

रमजान महीने की शुभ घड़ी आप सभी के जीवन में नया उत्साह लेकर आएं. ताकि आप अपने सभी कर्मों को करते हुए अच्छा रास्ता ही चुन सके. और आपकी हाथों से गुनाह होने की कोई गुंजाइश न रहे. और अगर धोखे से कोई गुनाह हो भी जाए तो अल्लाह ताला आप पर रहमत बरसाए.

और रमजान का पाक महीना आपके जिंदगी में खुशियों की बरसात लेकर आए. ताकि आप अपनों के साथ भी इन सभी खुशियों को बांट सके. और रमजान की सीख यही होती है कि आप खुशियां बांटते चले.

हमारी इन Ramzan Shayari को सुनकर आप भी अल्लाह से मेहर नजर कि दरख्वास्त करो, तो हमें comment field में comment करते हुए बताना ना भूलें.

इसी तरह से आप हमारे Telegram channel को भी join कर सकते हैं, ताकि आपको रोज नायाब शायरियां मिल सकें. इसके लिए अपने Telegram में सर्च करें शायरी सुकून या @shayarisukun और हमारे चैनल को तुरंत join करें. 24 घंटो के भीतर आपकी सेवा चालू होगी.


Eid Shayari -1 : Eid Mubarak Wishes in Hindi Urdu
Click above link to listen more


आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

मोटिवेशनल शायरियोंके स्टेटस देखने के लिए यहाँ Motivational Shayari क्लिक करें.

Leave a Comment