Family

Maa Shayari : 50+ Beautiful माँ पर शायरी [New]

Maa Shayari : दोस्तों, मां से हमारा सबसे गहरा रिश्ता होता है. जिनके पास मां होती है वह सबसे नसीब वाले होते हैं. लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपनी मां को खो चुके होते हैं. आज हमारी Maa Shayari उन्हीं लोगों के जज्बात बयां करेगी. मां के बिना घर सुना हो जाता है. मां की याद हमारे दिल को तड़पाती है.

जब मा घर में होती है तो घर घर जैसा लगता है. जिस दिन मैं घर से चली जाती है उस दिन घर सिर्फ एक मकान बन कर रह जाता है. जहां हमारा दिल नहीं लगता. Maa Shayari हम सबको मां की याद दिलाती है. वैसे तो मां को याद करने के लिए किसी बहाने की जरूरत नहीं होती. हम अपनी मां की बनावट है.

Also Read >> Munawwar Rana Shayari Maa



Table of Content


💕 Listen Uninterrupted Shayari 💕
🙏After Small Advertisement🙏



  1. Maa Shayari
  2. Maa Shayari Urdu
  3. Maa Shayari in Hindi
  4. Shayari on Maa
  5. Summary

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


इन माँ पर लिखी गयी शायरिओं को Manpreet Kaur इनकी आवाज़ में सुनकर आप भावुक हो जाओगे!

माँ की ममता कैसे होती है?

माँ इस दुनिया में सबसे निस्वार्थ व्यक्ति है जो इस दुनिया में आने से पहले ही अपने बच्चों से प्यार करना शुरू कर देती है. इस दुनिया में मां के प्यार की तुलना किसी भी चीज से नहीं की जा सकती. क्योंकि यह प्यार का सबसे शुद्ध रूप है. माँ अपने बच्चे के लिए एक फरिश्ता की तरह होती है, जो हमेशा अपने बच्चे से प्यार करती है और उसका साथ देती है.



Maa Shayari
Maa Shayari

Also Read >> Maa Shayari

Maa Shayari | माँ शायरी

हम खुद की तरफ देखें तो भी हमें अपनी मां की याद आ जाती है. अपनी मां को हम कभी नहीं भूल पाते. हर इंसान को हम भूल सकते हैं लेकिन मां को भूलना किसी भी बच्चे के लिए मुमकिन नहीं है. मां ऐसा रिश्ता है जो हमारे पैदा होते ही हमारे साथ होता है.

1)

ममता के सागर से भरी हैं, 
वो मां की मूरत..

उसकी बनाई हर चीज़
होती हैं खूबसूरत..

-Vrushali

mamta ke sagar se bhari
hai, vo maa ki murat..
uski banai har chij
hoti hai khubsurat..

2)

मां ने जब-जब की है दुआ..

मुझे जन्नत का एहसास हुआ..

-Anamika

maa ne jab-jab ki hai dua..
mujhe jannat ka ehsaas hua..



3)

तुझपे क्या शायरी लिखूं मेरी मां..

लिखने के लिए कम पड़ेगा आसमां..

-Sagar

tujhpe kya shayari likhun meri maa..
likhane ke liye kam padega aasman..

4)

दर्द हो बच्चे को, दिल माँ का रोता है..

रिश्ता मां के साथ कुछ ऐसा होता है..

-Santosh

dard ho bacche ko, dil maa ka rota hai..
rishta maa ke sath kuchh aisa hota hai..

Maa Shayari Urdu
Maa Shayari Urdu

Also Read >> Family Shayari

5)

मां बिना रुके बस चलती रहती हैं
बच्चों के लिए हमेशा मौजूद रहती हैं..

कोई मुश्किल उसे रोक नहीं पाती
क्योंकि उसके सीने में ममता रहती हैं..

-Vrushali

maa bina ruke bas chalti rahti hai
bacchon ke liye hamesha maujud rahti hai..
koi mushkil use rok nahin pati
kyunki uske seene mein mamta rahti hai..



6)

जब भी दवा ना दिखाए असर..

माँ बच्चे की उतारती है नज़र..

-Sapna

jab bhi dava na dikhayen asar..
maa bacche ki utarti hai nazar..

7)

तेरे आगे सर झुकाता है परमात्मा..

ऐसी शख्सियत होती है एक मां..

-Sagar

tere aage sar jhukata hai parmatma..
aisi shakhsiyat hoti hai ek maa..

8)

जब हो जाती है सारी
बातें मन की फिज़ूल..

माँ की दुआ नज़र
आती है होते हुए क़ुबूल..

-Anamika

jab ho jaati hai sari
baaten man ki fizool..
maa ki dua najar
aati hai hote huye qubool..

Maa Shayari in Hindi
Maa Shayari in Hindi
9)

मां चूमकर हमारी आंखें
ख़ुदा से ये दुआ करती हैं..

सलामत रहे हम यही
खुदा से कहा करती हैं..

-Vrushali

maa chumkar hamari aankhen
khuda se ye dua karti hai..
salamat rahe ham yahi
khuda se kaha karti hai..



10)

मांगी हुई दुआओं से
लोग होते है अनजान..

नहीं जानते वो उनके लिए
माँ होती है वरदान..

-Santosh

mangi hui duaon se
log hote hain anjan..
nahin jante vo unke liye
maa hoti hai vardan..

तेरे हाथों का लगाया दरख्त खामोश खड़ा हैं
माँ बिन तेरे घर मेरा सुनसान पड़ा हैं

तेरे होते हुए आँधीया कुछ ना बिगाड़ पाई
तेरी औलादों के लिए अब वक्त कड़ा हैं

Moeen

Tere hathon ko lagaya darakht Khamosh khada hai
Maa bin tere Ghar Mera sunsan pada hai
Tere hote hue Aandhiya kuchh Na bigaad payi
Teri auladon ke liye ab waqt kada hai

Maa Shayari में यह बताया गया है की, मां के जाने के बाद घर सुनसान हो जाता है. उस की औलादों के लिए बुरा वक्त शुरू हो जाता है. उन्हें प्यार करने वाला उनसे छीन लिया जाता है. दोस्तों मां हमसे जिस कदर प्यार करती है उतना प्यार कोई भी हमसे नहीं कर पाता. दुनिया के कई लोग भले ही हम से जान से ज्यादा प्यार करने की बात करें लेकिन हकीकत में सिर्फ मां ही ऐसा कर पाती है.

Shayari on Maa
Shayari on Maa

Maa Shayari Urdu

11)

मां का सम्मान हमेशा करना..

उसको कभी रोने न देना..

-Sagar

maa ka samman hamesha karna..
usko kabhi rone na dena..



12)

इस जालिम दुनिया से कैसे लड़ना..

माँ ही तो सिखाती है हमें चलना..

-Sapna

is zalim duniya se kaise ladna..
maa hi to sikhati hai hamen chalna..

Maa Shayari Love
Maa Shayari Love
13)

शाम के साये देखकर
मां रसोई में चली जाती हैं..

हर फरमाइश हमारी
पूरी करने में जुट जाती हैं..

-Vrushali

shaam ke saaye dekhkar
maa rasoi me chali jaati hai..
har farmaish hamari
puri karne mein joot jaati hai..

14)

जिंदगी को माँ हमारी आकार देती है..

अधूरे सपनों को वो ही साकार करती है..

-Anamika

jindagi ko maa hamari aakar deti hai..
adhure sapnon ko vo hi sakar karti hai..

15)

जिंदगी मुक्कमल लगती है..

जब मेरी मां हँसने लगती है..

-Sagar

zindagi mukammal lagti hai..
jab meri maa hasne lagti hai..



Shayari on Maa Urdu
Shayari on Maa Urdu
16)

भले ही किसी रिश्ते में कड़वाहट आएगी..

माँ के रिश्ते में मगर कोई मिलावट ना होगी..

-Santosh

bhale hi kisi rishte mein kadwahat aaegi..
maa ke rishte mein magar koi milavat na hogi..

17)

मां की परवरिश कभी
गलत नहीं होती हैं..

मगर बदनसीब संतान
उसे समझ नहीं पाती हैं..

-Vrushali

maa ki parvarish kabhi
galat nahin hoti hai..
magar badnaseeb santan
use samajh nahin paati hai..

18)

माँ मुझे तुम्हारी लोरी है सुनना..

तेरे आँचल तले है अब मुझे रहना..

-Sapna

maa mujhe tumhari lori hai sunna..
teri aanchal tale hai ab mujhe rahana..

Shayari on Maa- Hindi
Shayari on Maa Hindi
19)

मां की दुआ का असर होता है..

इसलिए मेरा दर्द बेअसर होता है..

-Sagar

maa ki dua ka asar hota hai..
isliye mera dard beasar hota hai..

20)

जिंदगी मेरी बातें बनाने लगी है..

मां मुझे तेरी यादें सताने लगी है..

-Anamika

jindagi meri baaten banane lagi hai..
maa mujhe teri yaad satane lagi hai..

माँ की यादों में टुट कर बिखरती हैं
माँ के कपड़े पहन कर वो सँवरती हैं

अरसा हुआ उस की माँ को गुज़रे हुए
रोज़ माँ को अपनी वो याद करती हैं

Moeen

Man ki yadon mein Tut kar bikharti hai
Man ke kapde pehan kar vah samvarti hai
Arsa vah uski man Ko gujre hue
Roj man ko apni vah yad karti hai

Maa Shayari की मदत से आप समझोगे की, जब हमारी मां गुजरती है तो हम फूट-फूटकर रोते हैं. हमें उसकी बहुत याद आती है. लड़कियां अपनी मां के कपड़े पहनती है ताकि उसके एहसास को महसूस कर सके. उसकी तरह सजने सवरने की कोशिश करती है.

Maa Shayari Status
Maa Shayari Status

क्योंकि मां की याद उन्हें बहुत ज्यादा सताती है. मां की यादें हम बहुत संभाल कर रखते हैं. दिल के करीब रखी हुई किसी चीज की तरह हम अपनी मां की यादें दिल से लगाए रखते हैं.

मेरी माँ मेरे लिए सजदों में रोती हैं
मैं जागू तो भला वो कहाँ सोती हैं

अपनी औलाद के सुकून की खातीर माँ
दिन का चैन रात की नींदें खोती हैं

Moeen

Meri man mere liye sajdon mein roti hai
Main jaagu to bhala vo kaha soti hai
Apni aulad ke sukun ki khatir man
Din Ka chain Raat ki nindein khoti hain

Maa Shayari में कुछ इस प्रकार से बताया गया है की, दोस्तों एक मां ही होती है जो अपने बच्चों के लिए किसी के भी सामने झुकने के लिए तैयार हो जाती है. अपने बच्चों के सुकून के खातिर वह दिन रात काम करती है.

जब उसके बच्चे सुकून से सो नहीं पाते हैं तो वह भी बेचैन हो जाती है. अपने बच्चों से वह सबसे ज्यादा प्यार करती है. उसे अपने बच्चों की खुशियों के अलावा किसी भी चीज से कोई लगाव नहीं होता.

Maa Shayari Image -2

maa shayari image
maa shayari image

Maa Shayari in Shayari

21)

दहलीज पर खड़ी होकर
मां हमारा इंतज़ार करती हैं..

हर घड़ी उसके दिल में
हमारी ही बातें चलती हैं..

-Vrushali

dehleez par khadi hokar
maa hamara intezar karti hai..
har ghadi uske dil mein
hamari hi baaten chalti hai..

22)

चाहे उसे कितनी भी मजबूरियां सताती..

कोई मां कभी किसी को बद्दुआ नहीं देती..

-Santosh

chahe use kitni bhi majburiyan satati..
koi maa kabhi kisi ko baddua nahin deti…

23)

खाने में वो मज़ा ही नहीं आता..

जबतक वो मां का बनाया नहीं होता..

-Sagar

khane mein vo maja hi nahin aata..
jab tak vo maa ka banaya nahin hota..

Maa Shayari 2 Line
Maa Shayari 2 Line
24)

जोखिम पर संकट मोल ले सकती है..

बेटे के लिए मां जान भी दे सकती है..

-Sapna

jokhim per sankat mol le sakti hai..
bete ke liye maa jaan bhi de sakti hai..

25)

मां से बनती हमारी पहचान हैं
वहीं बुनती जो हमारे ख़्वाब हैं..

उसकी आदतें भी लगती हैं हमें
उसी के पास हमारे सारे जवाब हैं..

-Vrushali

maa se banti hamari pahchan hai
vahi bunti jo hamare khwab hai..
uski aadatein bhi lagti hai hamen
usi ke pass hamare sare jawab hai..

26)

बच्चों के गम सारे
अपने हिस्से ले लेती..

मां कभी बेटे पर
अन्याय नहीं होने देती..

-Anamika

bacchon ke gam sare
apne hisse le leti..
maa kabhi bete par
anyan nahin hone deti..

27)

सारा जहां खफा होता है..

जब किसी मां का दिल दुखता है..

-Sagar

sara jahan khafa hota hai..
jab kisi maa ka dil dukhta hai..

2 Line Maa Shayari
2 Line Maa Shayari
28)

उसके बिना एक
पल भी अधूरा लगता है..

खफा हो जब मां
तो मुझे बुरा लगता है..

-Santosh

uske bina ek
pal bhi adhura lagta hai..
khafa ho jab maa
to mujhe bura lagta hai..

29)

फरिश्तों की सोहबत ना
मांगो खुदा से दुआ में..

उससे ज्यादा सुकून
मिलता हैं मां की गोद में..

-Vrushali

farishton ki sohabat na
mango khuda se dua me..
usse jyada sukoon
milta hai maa ki god mein..

30)

उसके दिल की ख्वाहिश पूरी कर देना..

रूठ जाए मां तो उसे जल्द मना लेना..

-Sapna

uske dil ki khwahish puri kar dena..
ruth jaaye maa to use jald mana lena..

Maa Shayari Pic
Maa Shayari Pic

अपने भाईयों से भी अब हम कट गए
उसूल थे प्यारे अब रास्ते से हट गए

माँ का साया क्या उठा मेरे सर से
सिक्कों की तरह कई हिस्सों में बट गए

Moeen

Apne bhaiyon se bhi ab ham cut Gaye
Usool the pyare ab raste se hat Gaye
Man ka saya kya utha mere sar se
Sikkon ki tarah Kai Hisse mein bat Gaye

Maa Shayari को पढ़कर आपको महसूस होगा की, मां हमें एक साथ बांध कर रखती है. जिस दिन मां गुजर जाती है उस दिन सब कुछ बिखर जाता है. दो भाई आपस में लड़ने लगते हैं. जो एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं वह आज एक दूसरे से नफरत करने लगते हैं.

मां के जाने के बाद जैसे सब कुछ बदल जाता है. मां कभी अपने बच्चों को एक दूसरे से लड़ने झगड़ने नहीं देती. उसके जाने के बाद उन्हें रोकने वाला कोई नहीं होता. दुनिया तो बस तमाशा देखती रहती है.

माँ रोज़ मिलने आती हैं ख़्वाबों में
तुझ बिन ज़िंदगी कटती हैं अज़ाबों में

जो कभी उदास रहूँ तनहा शामों को
तेरी यादें होती हैं मेरे खयालों में

Moeen

Man roj milane aati hai khwabon mein
Tujh bin jindagi katati hain ajabon main
Jo kabhi udas rahu tanha shamon ko
Teri yaden Hoti hai mere khayalon mein

दोस्तों मां के जाने के बाद हम उसे अपने ख्वाबों में ही देखते हैं. हकीकत में भले ही वह हमारे साथ ना हो लेकिन उसके ख्वाब हमारे साथ होते हैं. हर शाम को हम उसकी याद से उदास हो जाते हैं. लेकिन फिर भी उसकी यादें हमारे ख्यालों में रहती है.हम उसे अपने ख्यालों से कभी दूर नहीं करना चाहते.

उसके ना होने से हम उदास जरूर होते हैं लेकिन उसके ख्वाब हमें सुकून पहुंचाते हैं. Maa Shayari यही बात आपको इस शायरी की मदत से समझने में आसानी होगी,

Shayari on Maa

31)

मां के अभाव से
परिवार सुनसान लगते है..

मां की मुस्कान से
घर आंगन खिलते है..

-Sagar

maa ke abhav se
parivar sunsan lagte hain..
maa ki muskan se
ghar aangan khilte hain..

32)

अपनी सारी खुशियां
उस पर वार देती..

मां ही बेटे को सबसे
ज्यादा प्यार देती..

-Anamika

apni sari khushiyan
us par war deti..
maa hi bete ko sabse
jyada pyar deti..

33)

मां से की हर ख्वाइश
पूरी हो जाती हैं..

खुदा के रूप में मां
हमेशा साथ होती हैं..

-Vrushali

maa se ki har khwahish
puri ho jaati hai..
khuda ke roop mein maa
hamesha sath hoti hai..

Maa Shayari Image
Maa Shayari Image
34)

मां के आशीर्वाद से
ही होती है तरक्की..

उसकी दुआ से सफल
होगी जिंदगी आपकी..

-Santosh

maa ke aashirwad se
hi hoti hai tarkki..
uski dua se safal
hogi jindagi aapki..

35)

कहां आ फंसे है इन शहरों में..

मां दिखती नहीं गलियारों में..

-Sagar

kahan aa fanse hai in shahron mein..
maa dikhti nahin galiyaaron main..

36)

मां का आशीर्वाद ही
हमें जन्नत दिला दे..

आजकल मगर क्यों
लोग मां को भुलाते..

-Sapna

maa ka aashirwad hi
hamen jannat dila de..
aajkal magar kyon
log maa ko bhulate..

Maa Shayari DP
Maa Shayari DP
37)

चूमना मां के कदम
तुझे वहां जन्नत मिलेगी..

आसान होगी राह
मंज़िल तेरा इंतज़ार करेगी..

-Vrushali

choomna maa ke kadam
tujhe vahan jannat milegi..
aasan hogi raah
manzil tera intezar karegi..

38)

जिंदगी खुद मेरे लिए बन गई मिसाल..

मां की दुआ ने कर दिया ये कमाल..

-Anamika

jindagi khud mere liye ban gayi misal..
maa ki dua ne kar diya ye kamal..

39)

अगाध होती है जिसकी महिमा..

वो होती है हमारी प्यारी मां..

-Sagar

agadh hoti hai jiski mahima..
vo hoti hai hamari pyari maa..

Maa Status
Maa Status
40)

बेटे के सुख को मन उसका तरसता है..

मां की दुआ से तो सावन भी बरसता है..!

-Santosh

bete ke sukh ko man uska tarasta hai..
maa ki dua se to sawan bhi barsata hai..!

खुदा भी खुश हैं तुझे पास बुला कर
माँ कहाँ चली गई मुझे सुला कर

माँ की जगहों पर सो कर वो लड़की
चेहरा अपना धोती हैं आँसू बहा कर

Moeen

Khuda bhi Khush hai tujhe paas bula kar
Man Kahi Chali gai Mujhe Sula kar
Man ki jagahon per sokar wo ladki
Chehra apna dhoti hai Aansu bahakar

बिना कुछ बताए मां हमें हमेशा के लिए छोड़ कर चली जाती है. तब हमारे पास बस उसकी यादें रह जाती है. हम हर जगह उसे ढूंढते हैं. जहां वह सोती थी वह हम सोते हैं. ताकि हमें उसके होने का एहसास हो जाए. उसे घर के हर कोने में ढूंढने की कोशिश करते हैं. उसके बिना हम मुस्कुरा भी नहीं पाते. हमारी आंखों से बस आंसू बहते रहते हैं.

मुझे खामोश देख कर उदास रहती हैं
माँ की नम आँखें कुछ कहती हैं

हसरतों के खून से पालती हैं औलादें
ख्वाहिशें माँ के सीने में दफन रहती हैं

Moeen

Mujhe Khamosh dekh kar udaas rehti Hain
Man ki Nam Aankhen kuchh kahati hai
Hasraton ke khoon se palati hai auladein
Khwahish man ke seene mein dafan rahti hai

जिस दिन कोई औरत मां बन जाती है तो उसकी ख्वाहिश खत्म हो जाती है. बच्चों की ख्वाहिशें मां की ख्वाहिशें बन जाती है. बच्चों के सामने वह अपनी हर खुशी का गला घोट देती है. जिस बात में बच्चों की खुशी उसी बात में मां की खुशी होती है. बच्चों की खुशी के लिए वह हर मुश्किल से लड़ पड़ती है. खुद के बारे में एक पल भी नहीं सोचती लेकिन बच्चों के बारे में हर पल सोचती रहती है.

Best Maa Shayari

41)

दर्द को मैं अपने दूर भगाता हूं..

जब मैं मां के गले लगता हूं..

-Sagar

dard ko main apne dur bhagata hun..
jab main maa ke gale lagta hun..

Maa par Shayari
Maa par Shayari
42)

भले ही दुनिया खिलाफ हो..

मगर मां से मेरा मिलाप हो..

-Sapna

bhale hi duniya khilaf ho..
magar maa se mera milap ho..

43)

हृदय से कोमल होती है..

मां सबकी अनमोल होती है..

-Sagar

hriday se komal hoti hai..
maa sabki anmol hoti hai..

44)

याद रखना, मां अगर रुठे
तो मुकद्दर भी रूठता..

बच्चों के लिए ही उसका
मन है हमेशा टूटता..

-Anamika

yaad rakhna, maa agar ruthe
to mukaddar bhi ruthta..
bacchon ke liye hi uska
man hai hamesha tutata..

45)

जिसे सबसे ज्यादा
आपकी फिक्र होती है..

सारे जहां में एक सिर्फ
अपनी मां ही होती है..

-Sagar

jise sabse jyada
aapki fikra hoti hai..
sare jahan mein ek sirf
apni maa hi hoti hai..

Maa ke upar Shayari
Maa ke upar Shayari
46)

उसके बिना जिंदगी में कोई कमाल नहीं..

मां के ममता की दुनिया में मिसाल नहीं..

-Santosh

uske bina zindagi me koi kamal nahin..
maa ke mamta ki duniya me misal nahin..

47)

चाहते हो जिंदगी को
अगर आसान बनाना..

दिन में एक बार सही
मां को जरूर हंसाना..

-Sagar

chahte ho jindagi ko
agar aasan banana..
din mein ek bar sahi
maa ko jarur hasana..

48)

मां के दीदार से ही सुकून मिलता है..

उसके होने से ही मुझे जुनून मिलता है..

-Sapna

maa ke didar se hi sukun milta hai..
uske hone se hi mujhe junoon milta hai..

माँ पर शायरी
माँ पर शायरी
49)

पैर छुने से जिसके
अपार शांति मिलती है..

हम सब के घर में
ऐसी मां ही होती है..

-Sagar

pair chhune se jiske
apaar shanti milati hai..
ham sab ke ghar mein
aisi maa hi hoti hai..

50)

भले ही मां से रहता हूं मैं दूर..

उसकी ममता नहीं होती कमजोर..

-Anamika

bhale hi maa se rahata hun main dur..
uski mamta nahin hoti kamjor..

51)

नसीब वाला हूं जो
पाया है मां का दुलार..

करता हूं दुआ यूं ही
मिलता रहे उसका प्यार..

-Santosh

naseeb wala hun jo
paya hai maa ka dular..
karta hun dua yun hi
milta rahe uska pyar..

उसे कभी कायनात तो कभी जन्नत लिखुँ
जो मुकम्मल हुई उसे ऐसी मन्नत लिखूँ

खुद रहे कर गुमनाम मुझे यहाँ तक पहुँचाया
अपनी माँ को मैं मेरी इज़्ज़त लिखुँ

Moeen

Use kabhi kaynat to kabhi Jannat likhun
Jo mukammal Hui use aisi Mannat likhun
Khud rahe kar Gumnaam Mujhe yahan Tak pahunchaya
Apni man ko meri ijjat likhun

दोस्तों मां हमारी बिना मांगे कुबूल हुई दुआ है. हर किसी के नसीब में यह नहीं होती. मां खुद गुमनाम रहकर अपने बच्चों को नाम देती है. दुनिया में उनके अलग पहचान बने इसलिए दिन और रात काम करती है. मां हमारी हर मन्नत पूरी करने की कोशिश करती है. मां के बिना हमारा हर सपना अधूरा है. मां कायनात भी है और जन्नत भी है.

माँ के लिए शायरी
माँ के लिए शायरी

ख्वाहिशें मार कर हमारी खातीर जीती हैं
अमृत बाँट कर खुद वो ज़हर पीती हैं

माँ ने मुझे सजाया नये कपड़े पहना कर
तन्हाई में वो अपने पुराने कपड़े सीती हैं

Moeen

Khwaishe markar hamari khatir jiti hai
Amrit bant kar khud jahar piti hai
Man ne Mujhe sajaya naye kapde pehna kar
Tanhai mein vo Apne purane kapde siti hai

दोस्तों हमारी मां कभी भी हमें दुख से रूबरू नहीं करवाती. खुद दर्द सह कर हमें खुशियां देती है. कभी उसके हाथ से रोटी जल जाए तो खुद जली रोटी खाकर हमें अच्छी रोटी खिलाती है. कभी खाना कम पड़ जाए तो खुद भूखा रहकर हमें भरपेट खाना खिलाती है. हमें कभी भी दर्द का एहसास नहीं होने देती. लेकिन खुद सारा दर्द सह लेती है.

Also Read >> Parivar Shayari

माँ सुनाती थी जो वो कहानी याद हैं
उस की सारी नसीहतें मुँह ज़बानी याद हैं

बचपन में खेलते हुए मुझे चोट लगने पर
वो तेरी आँखों में आया पानी याद हैं

Moeen

Man sunati thi Jo vah kahani yad hai
Uski sari nasihate munh jabani yad hai
Bachpan mein khelte hue Mujhe chot lagne per
Vah Teri aankhon mein aaya Pani yad hai

Maa Shayari Image

maa shayari status
maa shayari status

Summary

Maa Shayari : दोस्तों बचपन में हमें मां जो कहानियां सुनाती है वह सब याद रहती है. उसने दी हुई नसीहतें हम कभी नहीं भूलते. जिंदगी भर उसके दिखाए हुए मार्ग पर चलते हैं. हमें कभी चोट लगे तो हमारी मां रो पड़ती है. किसी कारण अगर हमें दर्द होता है तो उस दर्द को मां महसूस करती है. कभी दर्द हमें होता है लेकिन आंखें मां की नम होती है.

अपने Telegram channel पर सारे अपडेट्स प्राप्त करने के लिए जल्दी से Telegram में ‘शायरी सुकून’ ऐसे या @shayarisukun सर्च करे और चैनल को subscribe करें, आपकी सेवा २४ घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

हमारी आजकी ये Maa Shayari पोस्ट को सुनकर एवं पढ़कर अगर आप भावुक हो गए और आपको आपकी माँ का चेहरा सामने आया हो, तो हमे निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करना न भूलियेगा


फेसबुक पर अपडेट्स पाने के लिए इस शायरी सुकून पेज को Like जरूर करे.

9 Comments

  1. माँ की यादों में टुट कर बिखरती हैं
    माँ के कपड़े पहन कर वो सँवरती हैं

    अरसा हुआ उस की माँ को गुज़रे हुए
    रोज़ माँ को अपनी वो याद करती हैं

    वाह गजब शायरी!! बेहतरीन पेशकश!!

    अनेक शुभकामनाएन्!!
    – कल्याणी

  2. वाह वा मनप्रीत जी
    सच कहा आपने, दुनिया में सबसे खूबसूरत लफ़्ज “माँ” ही है..

    बहोत ही बढ़िया पेशकश👍👍💐

  3. Achchhi koshish. Manpreet madam, pronounciation par dhyan dijiye. Darakht sahi pronounce kijiye.

  4. Maa ki shayari ko aapne bahut achhe se pesh kiya Manpreet ji👌 Betiyan bilkul apni Maa ki parchai hoti hai😍

Leave a Reply

Your email address will not be published.