chai -1: Love Shayari सुनकर मीठी चाय की मांग ही कर दोगे..!

chai shayari :  चाय! यह शब्द सुनकर ही आपको कहीं chai की तलब ना लग जाए दोस्तों! हमारे जीवन में chai का महत्व ही उतना है, जितना किसी पेड़ को सूरज की आवश्यकता होती है. जैसे सूरज की किरणों के बिना पेड़ की पत्तियां मुरझा जाती है.

ठीक उसी तरह chai की लत लगे हुए इंसान को chai के बिना दिन भी अधूरा सा लगता है. और जब यह chai आपके महबूब के हाथों से बनी हुई हो, तो उसे तो आप बिना शक्कर की भी पी लोगे! सच कहा ना दोस्तों?

आपको अपने दिलबर के साथ, कहीं दूर जाते हुए, और बारिश में भीगते हुए, रास्ते के किनारे पी हुई चाय शायद याद आ रही होगी. उस चाय की मिठास आज तक आपके लबों पर बनी हुई है. क्योंकि वह चाय आपके लिए कुछ खास थी. उसी चाय के साथ आप का दिलबर आप पर फिदा हो गया था. उसी चाय के साथ आपने, अपने यार से प्यार भरी बातें की थी.

उसी चाय की बदौलत आपका मेहबूूूब आपके साथ समय बिताने के लिए तैयार हो गया था. और आज भी वही चाय आपको अपने महबूब के साथ कुछ प्यार भरे पल बिताने पर मजबूर करती है. कितने संजोग की बात है ना! चाय तो एक ही है. उसे पीते वक्त आपके दिल में आ रही भावनाएं भी वहीं हो सकती है. आपका यार भी वही होता है. बस वक्त बदल जाता है. शायद उस बदलते वक्त के साथ चाय का अंदाज बदल गया हो.

आपकी झूठी चाय पी कर ही, हमें अपने दिल की प्यास बुझानी है..

आपको अपने दिलबर पर कभी-कभी हद से ज्यादा प्यार आ जाता है. और आप उससे प्यार जताने के लिए बस एक कप चाय की भी मांग कर सकते हो. और जब वह अपने प्यारे हाथों से आपके लिए चाय बनवा भी दे, तो भी आपका दिल उससे नहीं भरता. और आप एक और नई मांग खड़ी कर देते हो.

और इस मांग से तो शायद आपका महबूब भी शर्म से चूर चूर हो जाएगा. क्योंकि आपकी तमन्ना ही कुछ ऐसी होती है. आप उन पर बेहद खुश होते हो और इस वजह से उन पर अपना प्यार बरसाना चाहते हो.  इसके लिए आप उनके साथ बिताया कोई भी पल, कोई भी मौका छोड़ना नहीं चाहते. और इसी वजह से आप उनके सामने एक इच्छा रखते हो.

भले ही उन्होंने चाय में अच्छी तरह से शक्कर मिलाकर मीठी चाय बनाई हो. लेकिन फिर भी आपका शरारती दिल उनकी हाथ से बनी मीठी चाय में और मिठास जोड़ना चाहता है. एक और शरारत करना चाहता है. इसलिए आप उनसे यह गुजारिश करते हो, कि इस चाय को और अधिक मीठा करने के लिए आप इस चाय के कप को अपने होठों से लगालो. और एक घूंट पीकर इसे झूठा कर दो. इसके बाद आप इस चाय के कप को मेरे हवाले कर दो. तब जाकर ही मेरे दिल की प्यास बुझेगी और मुझे मीठी चाय पीने का अनुभव आएगा!

इतनी मिठास ना भर दो, अपने हाथों से हमारी चाय में..

आपको चाय से भी उतना ही लगाव है, जितना किसी भंवरे को फूल से होता है. भंवरा भी अपनी पंख फड़फड़ाते हुए कमल के फूल में घुस जाता है. उसे पता होता है कि वह कमल का फूल उसकी जान ले सकता है. लेकिन फिर भी वो भंवरा उस फूल की तमन्ना, उसे पाने की कोशिश नहीं छोड़ता.

ठीक इसी तरह आपको चाय पीने की दुष्परिणाम पता होते हैं. लेकिन फिर भी आपकी चाय की लत, आपको चाय छोड़ने से मना करती है. और इस वजह से आप हमेशा अपने दिलबर से भी चाय की गुजारिश करते रहते हैं. और अब तो आप अपनी चाय से अपने दिलबर की भी तुलना करने लगे हो. आप उन्हें शक्कर से भी मीठा कहते हो. और उन पर आपको इतना प्यार आता है.

आप उनके हाथों से बनी हुई चाय में उन्हें शक्कर भी कम डालने के लिए ही कहते हो. क्योंकि जब भी वह उनके हाथ से चाय लेकर आती है, तो वह अपने आप मीठी हो जाती है. और इस वजह से अब आप उन्हें ताना भी मारने लगे हो, कि वह जब भी आपके लिए चाय लेकर आए. तो हाथ में ग्लब्ज पहन कर आएं. ताकि उनके हाथों की मिठास उस चाय के कप में घुल कर वह चाय और मीठी ना हो जाए!

एक ही प्याले में पी हुई चाय, कहीं आपके होश ना ले जाये…

आपको अपने महबूब के साथ पी हुई, हर एक चाय की याद है. जब आप पहली बार मिले थे. तो वह बारिश में भीगी हुई पहली रात की चाय और उसकी मिठास! आज भी जब आपका महबूब आपके लिए चाय बना कर लाती है, तो उसमें वही मिठास और वही स्वाद आपको नजर आता है.

आप जब भी अपने दिलबर से चाय की गुजारिश करते हो. तो आपकी बस एक ही तमन्ना होती है, कि आपके दिलबर के साथ आप एक ही चाय साझा कर सको. उसी की झूठी की हुई चाय आप पी सको. आज भी आपकी यही एक तमन्ना है कि बारिश के भीगे मौसम में आप अपने यार के साथ एक ही कप में, एक ही प्याले में चाय पियो, तो आप का दिन बन जाए. आपके दिल के सारे अरमां जैसे पूरे हो जाए. और तब आपको खुद का भी होश नहीं रहेगा. आपको खुद की भी सुध नहीं होगी. क्योंकि उस चाय का नशा ही आपके सर चढ़कर बोलेगा.

दोस्तों, हमें यकीन है कि हमारी यह रोमांटिक लव शायरियां सुनकर आपके दिल में भी आपके महबूब के हाथ की चाय पीने की तमन्ना जाग उठी होगी. क्योंकि ये चाय ही तो आपके प्यार में दुआ बन कर आई है. जब भी आप दुआ करोगे, तो आपका महबूब आपके लिए चाय के साथ उनका प्यार भी जरूर लाएगा!


इन हसीन लव शायरीयों को Mr. Sanket Mahindrakar इनकी आवाज़ में सुनकर 🎧 कहीं आपके मन में भी चाय पीने की तलब ना जाग उठे ! ▶ PLAY NOW ▶

Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com


chai  par love shayari in hindi  | whatsapp status on chai romantic shayari 

आज हमें चाय को
बेहद मीठा है पीना..

आप बस एक घुट पीकर,
चाय का कप बाजूमे रख देना..

aaj hamen chai ko 
behad meetha hai pina..
aap bus ek ghut pee kar 
chai ka cup baju
mein rakh dena..

chai-1-love-shayari-hindi-poetry-tea-1

shayari on chai in hindi urdu  | garam chai shayari  

कहां था न हमने की
जब भी चाय लाओ..

ग्लब्ज पहने आना
ज्यादा मीठापन ठीक नहीं..

kahan tha na humne
ki jab bhi chai lao..
gloves pahne aana jyada
meetha pan thik nahin..


chai shayari in english  | tea poetry in hindi

बारिश की रात में तुम्हारे
साथ एक ही कप में पी हुई चाय

समझो हमे अब..
कहीं हम बेहोश ना हो जाए..

barish ki raat mein
tumhare sath ek hi
cup mein pee hui chai..
samjho hamen ab..
kahin ham behosh na ho jaaye..

chai-1-love-shayari-hindi-poetry-tea-2

दोस्तों, हमारी रोमांटिक लव शायरियों की मदद से अगर आपका भी मूड अपने दिलबर के हाथ से बनी चाय पीने का हो गया हो, तो नीचे comment box   मेंं  comment  करते हुए हमें जरूर बताइएगा!

इसी तरह से आप हमारे Telegram channel को भी join कर सकते हैं, ताकि आपको रोज नायाब शायरियां मिल सकें. इसके लिए अपने Telegram में सर्च करें शायरी सुकून  या @shayarisukun और हमारे चैनल को तुरंत join करें. 24 घंटो के भीतर आपकी सेवा चालू होगी.

आपके Twitter पर हमारी हसीन शायरी अपडेट्स पाने के लिए हमारे 👉🏼शायरी सुकून केे अकाउन्ट को जरूर Follow करें.

बेहतरीन लव शायरियां देखने और सुनने की तमन्ना हैं? तो यहाँ 👉🏼Love Shayari 🥰 पर क्लिक करें.

2 thoughts on “chai -1: Love Shayari सुनकर मीठी चाय की मांग ही कर दोगे..!”

Leave a Comment