saazish -1: बेगुनाह मोहब्बत में की गई साजिश पर Sad Shayari

saazish : आपने अपने महबूब से दिलों जान से मोहब्बत करते हो. लेकिन अगर वो आपको उतनी ही मोहब्बत नहीं करता जितना आप करते हो, तो ये उसकी saazish हो सकती है. क्योंकि ऐसी saazish भरी मोहब्बतों की वजह से आज तक की मोहब्बत की धोखाधड़ी को शुरुआत हुई थी.

और ये saazish कभी-कभी किसी प्रेमी की जान भी ले सकती है. क्योंकि प्यार में की गई saazish कब किसी के दिल पर बीत जाए पता नहीं चलता. अगर आप भी ऐसी ही saazish के शिकार हुए हैं, तो हमने आपके लिए ही ये शायरियां तैयार की है.

साजिश मतलब गुप्त चालबाजी से की गई क्रिया या किसी गुप्त विचार पर अमल करना. जब कोई भी इंसान किसी के खिलाफ saazish रचता है, तो उसका दिमाग कभी अच्छे विचारों से प्रेरित नहीं होता है. उस पर अच्छे विचारों के बजाय बुरे विचारों का ज्यादा प्रभाव दिखता है.

और ऐसे ही बुरे विचारों के लोग ही अक्सर हर किसी के बारे में बस बुरा ही सोचते रहते हैं. उनके मन में किसी के लिए भी कभी कोई अच्छाई भरी बात आने की संभावनाएं बहुत कम होती है. हमें ऐसे लोगों से बचकर ही रहने की जरूरत होती है.

लेकिन हमें ये भी तो पता नहीं चलता कि कौन अपने होते हैं और कौन पराएं!  क्योंकि आपने भी देखा होगा महसूस किया होगा कि अक्सर धोखा देने वाले या फिर अपनों के खिलाफ साजिश करने वाले आपके कोई अपने ही तो होते हैं. और यह बात हर किसी के लिए बहुत ही दुखदायक और हानिकारक होती है. 

साजिश भरे कामों की शुरुआत बुरे विचारों से ही होती है. और ये बुरे विचार अक्सर गलतफहमी के कारण ही आते हैं. इसलिए दोस्तों हम आप सभी से गुजारिश करेंगे कि आप जब भी किसी के बारे में कुछ बात सोचें, तो उसके बारे में आपके मन में जरा भी गलतफहमी को ना पलने दें.

अगर प्यार नहीं करना, तो कम से कम मास्क निकाल कर छींकने की साजिश (saazish) तो ना किया करो..

एक दुखियारा, हारा हुआ आशिक अपनी प्रेमिका से उसकी बेवफा होते हुए भी बहुत प्यार करता है. चाहे वो उसके खिलाफ कितनी भी साजिश क्यों न कर ले, लेकिन वो उस पर प्यार लुटाना थोड़ा भी कम नहीं करता. शायद वो इसेही अपने सच्चे मोहब्बत की निशानी और प्यार भरी दास्तान मानता है.

अगर आपकी माशूका भी आप पर प्यार ना करते हुए, अपनी मोहब्बत का इजहार ना करते हुए, प्यार करने की saazish कर रही है. तो आपका बेगुनाह और मासूम दिल उससे बस इसी बात की उम्मीद करता है कि वो आपके खिलाफ कोई जानलेवा साजिश ना करें. अगर उसे प्यार ना करना हो, तो वह खुल कर बताएं.

या फिर आपसे ये बात सीधी तरह जताएं. अगर वो आपसे प्यार नहीं करना चाहती. उसका दिल किसी और पर आया हुआ है. तो वो उसके साथ कभी बाइक पर घूमने गई या फिर किसी के साथ दिखी, तो भी आपको उसका कोई पछतावा नहीं होगा.

आपको उसके किसी दूसरे के साथ में जाने का गम नहीं सताएगा. लेकिन वो कोरोना के लिए लगाया हुआ मास्क निकालकर छींकने की साजिश आखिर क्यों कर रही है? उसे इस बात की खबर नहीं है कि इस साजिश को अंजाम देकर अपने यार के दिल को कितना तड़पा रही है, दर्द दे रही है.

इश्क करना है तो सच्चा करो, साजिश (saazish) की बात ना किया करो..

जब आपका दिलबर आपसे प्यार में कोई बड़ी साजिश करता हो, तो उसमें अक्सर वो अकेला शामिल नहीं होता. उसके साथ ऐसे ही बुरे विचारों वाले कई लोग भी शामिल हो सकते हैं. और वो मिलकर उस साजिश को अंजाम देने का सोच विचार करते हैं. ऐसी बाते किसी सच्चे इश्क पर हमेशा के लिए धब्बा लगा सकती है. दाग लगा सकती है. जो एक बार लग जाए तो उस आदमी के विश्वास को ही तोड़ देता है. और फिर कभी निकल नहीं सकता. और इसका परिणाम भी ऐसा होता है कि टूटे हुए दिल का इंसान कभी किसी को भरोसे लायक नहीं समझता. और दिल लगाने की बात सोचता भी नहीं.

किसी महबूब को अपने साथी के खिलाफ साजिश ही करनी है, तो वह खुलकर करें. ना कि किसी से छुपा कर करें. क्योंकि छुपाकर की गई बातों में और मोहब्बत में बेवफाई की या फिर किसी नीच कार्य की बू आती है. जब यह साजिश प्यार में रची जाती है, तो वो इस बेपनाह और बेगुनाह इश्क पर कलंक भी लगा सकती है.

इसीलिए सच्ची मोहब्बत करने वालों को हमारी यही गुजारिश है कि अगर करनी है मोहब्बत तो खुलकर करो, सच्ची करो और अच्छी करो. अगर हमारी शायरियां आपको पसंद आती है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी कमेंट भी दे सकते हैं. ताकि हम आप की गुजारिश पढ़कर किसी बेगुनाह के प्यार पर लगा हुआ दाग हटाने में उसकी मदद कर सकेंगे.

जब मेरे दोस्त मुझे ही मारने की साजिश कर रहे थे…

मैं जब अपने बेवफा साथी पर उसकी बेवफाई के इल्जाम लगाने के लिए पहुंचा, तो वो खुद ही मेरे खिलाफ बहोत बडी साजिश की तैयारी कर रहे थे. वो अपने चंद दोस्तों के साथ मिलकर मुझे मारने की एक नई साजिश रच रहे थे. अचानक से मैं वहां गया तो वो सभी लोग हड़बड़ा गए. और मुझसे हंसते हुए कोई दूसरी बात करने लगे. वो सब इतने घबरा गए कि अपनी साजिश पर उन्हें पछतावा होने लगा.

मेरे आने से उनकी साजिश को जैसे लगाम लग गया था. और वो मुझसे हंसकर बात करने लगी. यार तुम्हारी तो बड़ी लंबी उम्र है. हम तुम्हारे ही बारे में सोच रहे थे. लेकिन मुझे उनके बुरे काम की साजिश के बारे में पता चल चुका था. इसलिए मैं भी उनसे उस बारे में कुछ ना कहते हुए वहां से निकल गया. उनसे कभी ना मिलने के लिए..!


इन सैड शायरियों को सुनकर 🎧 आपको अपने चाहने वाले ने की हुई साजिश याद आ जाएगी !▶ PLAY NOW ▶

Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com


sazish par dard bhari shayari in hindi

क़त्ल ही करना है तो
किसी गैर के बाइक पर दिखो,

यु मास्क हटाके छींकने की
साजिश क्यों की…?

qatal hi karna hai to
kisi gair ke bike per dikho,
yu mask hata ke
chhinkne ki,
saazish kyon ki…?

saazish-1-begunah-mohabbat-sad-shayari-hindi-1

pyar me sajish par urdu shayari

साजिश जब प्यार में
शामिल होती है..

उसमे बेवफाई
बेशुमार होती है..

saazish jab pyar mein
shamil hoti hai..
usmein bewafai
beshumar hoti hai..


साजिश पर उर्दू हिंदी शायरी

मुझे मारने की साजिश
को अंजाम दिया जा रहा था,

मैं वहा गया, तो बोले
यार बड़ी लम्बी उम्र है तेरी…!

mujhe marne ki saazish
ko anjam diya ja raha tha,
main vahan gaya, to bole
yaar badi lambi
umar hai teri…!

saazish-1-begunah-mohabbat-sad-shayari-hindi-2

इन नादान और सैड शायरियों की मदद से हम आपसे यही गुज़ारिश करना चाहते हैं कि कभी किसी के साथ प्यार में कोई साजिश ना करें. अगर यह शायरी आपको पसंद आई हो तो नीचे comment box में comments जरूर करें!

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस 👉🏼शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.


अपने Telegram channel पर सारे अपडेट्स प्राप्त करने के लिए जल्दी से Telegram में शायरी सुकून ऐसे या @shayarisukun सर्च करे और चैनल को subscribe करें. आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.


अगर अभी आपका मूड कुछ और दर्द भरी शायरियां पढ़ने का है, तो आप यहाँ 👉🏼Sad Shayari 😔पर क्लिक कर सकते है.

1 thought on “saazish -1: बेगुनाह मोहब्बत में की गई साजिश पर Sad Shayari”

Leave a Comment