Gulab Shayari -1: Rose Quotes 2 Line Love Status In Hindi

Gulab Shayari : दोस्तों अपनी गुलाब जैसे खूबसूरत महबूब के लिए हर आशिक बेताब होता है. और वह उस सुंदरता की मूरत को कुछ खास तोहफा भी देना चाहता है. लेकिन अपने मन में वह इस बात को भी सोचता है. आखिर गुलाब से भी सुंदर ऐसे दिलबर को वह गुलाब का ही क्या तोहफा दे? लेकिन उसके महबूब यही गुलाब का फूल बहुत ज्यादा पसंद होता है. और इसी वजह से वह अपने मेहबूब के दिल की मुराद को जरूर पूरा करना चाहता है.

हमारी यह आज की Shayari Sukun की पेशकश भी कुछ ऐसे ही ख़यालों पर बनी है. हमें यकीन है कि आज की हमारी यह Gulab Shayari आपके महबूब को गुलाब की तरह पसंद आएगी. और उसके जिंदगी में गुलाब के फूल जैसी ही महक जरूर लाएगी.

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


हमारी इन रोमांटिक गुलाब शायरियों को Milind Khanderao इनकी आवाज में सुनकर अपने यार को खूबसूरत गुलाब देना चाहोगे!

क्योंकि आपका दिलबर इतना कोमल और मासूम है. वह दुनिया के इस बड़े से चमन में अपने महक को फैलाता हुआ जीता है. और अपने संग खुशियां बांट कर दूसरों के चेहरे पर मुस्कान लाना चाहता है. ऐसे दिलबर के जिंदगी के लिए आप 2 Line Love Status In Hindi की मदद से जरूर दुआ करना चाहोगे.

Table of Content

  1. Gulab Shayari
  2. Gulab Shayari In Hindi
  3. Gulab Shayari 2 Lines Hindi
  4. Gulab Shayari In English
  5. Gulab Shayari Image
  6. Conclusion

Gulab Shayari

1)

जब कभी तुझ तक मेरी सदा पहुँचे
खुदा करें मेरे सामने तू आ पहुँचे..

भेजे हैं कुछ गुलाब खिलते कँवल को
महबूब तक खुदा मोहब्बत की हवा पहुँचे..

-Moeen

jab kabhi tujh tak meri sada pahunche
khuda kare mere samne to aa pahunche..
bheje hain kuchh gulab khilte kamal ko
mehboob tak khuda mohabbat ki hawa pahunche..

आशिक अपने महबूब की जिंदगी को गुलाब की तरह मैं कहना चाहता है. और हमेशा अपने मोहब्बत की मदद से उसे दुआएं देना चाहता है. ताकि उसकी जिंदगी तरह हमेशा महकती रहे. और दुनिया में अपनी खुशबू जरूरी फैलाती रहे.

जिस तरह से बड़े से चमन में गुलाब के साथ-साथ कमल का फूल भी खिलता है. उसी तरह से उसकी जिंदगी में भी अपने महबूब के रूप में जैसे कमल का फूल ही खिला है. और वह इसी तरह उसकी जिंदगी में रहे. यही उसके मन में सदा होती है.

2)

कायनात को चाहत का हसीन मंज़र बना देंगे
हैं जो दीवारें बीच अपने नफरतों की गिरा देंगे..

बेनकाब यूँ टहला ना करों गुलशन में तुम कभी
जो देखेंगे तुझे गुलाब ज़िन्दगी की दुआ देंगे..

-Moeen

kaynat ko chaahat ka haseen manzar banaa denge
hai jo deewar bich apne nafraton ki gira denge..
benaqab u tahla na karo gulshan mein tum kabhi
jo dekhenge tujhe gulab jindagi ki dua denge..

Gulab Shayari को सुनकर राशि का अपनी दिलबर को छुपाना चाहेगा. क्योंकि उसका महबूब हमेशा गुलाब के बगीचे में बेनकाब टहलने जा रहा होता है. लेकिन आशिक के मन में उसे छुपाने की बात होती है.

वह दुनिया को अपने दिलबर का मासूम चेहरा बेनकाब नहीं दिखाना चाहता है. क्योंकि उसे लगता है कि कहीं यह दुनिया उसके लिए खूबसूरत गुलाब को कहीं नजर ना लगा दे. और इसी वजह से वह उसे चमन में जाने से रोकना चाहता है.

Gulab Shayari In Hindi

3)

आए हो ज़िन्दगी में तुम बन कर मेरी रौशनी जैसे
तुम्हें चाहता हुँ मरने वाला चाहता हैं ज़िंदगी जैसे..

तेरे हाथों में इतराता हैं गुलाब किसमत पर
तेरे साथ कुछ गुनगुनाती हो फिज़ा भी जैसे..

-Moeen

aaye ho jindagi mein tum
ban kar meri roshani jaise
tumhen chahta hun marne
wala chahta hai zindagi jaise..
tere hathon mein itrata
hai gulab kismat per
tere sath kuchh gungunati ho
fiza bhi jaise..

अपने महबूब को तहे दिल से चाहने वाला आशिक अपनी इस शायरी का अंदाज बयां करता है. उसे अपने दिलबर की यादों का मंजर ही हमेशा नजर आता है. वो तहे दिल से अपने महबूब से प्यार करता है. इसी वजह से उसे यह भी पता है कि दुनिया में उसके महबूब जैसा कोई भी नहीं है.

उसके हाथों में महकता हुआ गुलाब का फूल भी जैसे इतराता है. कुछ इसी तरह से यह फिजा भी उसके महबूब के साथ ही गा रही होती है. और इसी तरह के ख्याल आता इस आशिक के दिल में चल रहे होते हैं.

4)

मैं तरसता धड़कन को और दिल हैं तू
मैं भटकता मुसाफिर और मंज़िल हैं तू..

गुलाब देना तुझे तौहीन हैं तेरे हुस्न की
मैं हुँ बहकती लहर और साहील हैं तू..

-Moeen

main tarsata dhadkan ko aur dil hai tu
main bhatakta musafir aur manjil hai tu..
gulab dena tujhe tauhin tere husn ki
mai ho bahkti lahar aur sahil hai tu..

Gulab Shayari In Hindi की मदद से अपने यार को याद करोगे. जिस तरह से किसी चमन में गुलाब की खुशबू हमेशा महकती रहती है. कुछ उसी तरह से आशिक के दिल में और जिंदगी में भी एक गुलाब खुशबू देता है.

और ये गुलाब की खुशबू किसी और की नहीं बल्कि उसके महबूब की ही होती है. क्योंकि उसका दिलबर उसे किसी गुलाब के फूल जैसा ही नजर आता है. और ऐसे रंगीन और खूबसूरत फूल को वह खुद भला गुलाब का फूल क्या तोहफ़े पर देगा?

Gulab Shayari 2 Lines Hindi

5)

मौसम गुनगुनाए जब 
तेरी आँखों में चमक ठहरे
हवा मद्धम चले जब ज़ुल्फ़ दे 
तेरे रुखसार पर पहरे..

गुलाब से नाज़ुक लबों पर 
कुरबान मेरी जान
मुकम्मल हो जो तेरी आँखों में 
बसे हैं ख्वाब सुनहरे..

-Moeen

mausam gungunaye jab
teri aankhon mein chamak thehre
hawa maddham chale jab julf de
tere rukhsar per pehre..
gulab se naazuk labon per
qurban meri jaan
mukammal ho jo teri aankhon mein
base hai khwab sunhare..

अपने महबूब के प्यार की खुशबू सारे जहां में जिस तरह से फैली है. कुछ उसी तरह से आशिक की जिंदगी में भी मौसम बदल चुका है. यह फिजा भी अपने रंग बदलती हुई नजर आ रही है. और हर पल हवाएं जैसे उसके दिलबर की ही यादों को गुनगुनाती रहती है.

इसी वजह से अपने महबूब से तहे दिल से प्यार करता हुआ आशिक यही सदा देता है. वह अपनी सभी तमन्नाओं में हमेशा अपने दिलबर की यादों को ही संजोता है. और उसका महबूब जो भी ख्वाब देखे उसे पूरा करने की चाह रखता है.

6)

भेजा था चुपके से 
हमने एक गुलाब उसे
कमबख्त, 
खुशबू ने शहर में हंगामा मचा दिया..!

bheja tha chupke se humne ek gulab use
kambakht, khushbu ne
shahar mein hungama macha diya..!

Gulab Shayari 2 Lines Hindi को सुनकर अपने प्यार की याद आ जाएगी. जिस तरह से कोई आशिक कॉलेज के दिनों में भी अपने सुनहरे पल्सर जाता है. उसे अपने यार की पहली नजर से ही प्यार हो जाता है.

और तब वह उसे एक छोटा सा गुलाब का फूल तोहफे के तौर पर देना चाहता है. और वह उस गुलाब के फूल को किताब में रखकर भेजता भी है. लेकिन उस फूल की महक से सभी लोगों को उसके प्यार के बारे में पता चल ही जाता है.

Gulab Shayari In English

7)

जब देखा मैंने किताब में रखा हुआ गुलाब..
दिल में तेरी यादों की खुशबू बिखर गई..

jab dekha maine kitab mein rakha hua gulab
dil mein teri yadon ki khushbu bikhar gai..

कोई भी आशिक अपनी पुरानी हसीन मोहब्बत को याद करता है. तो उसे अपने किसी किताब में रखा हुआ वह छोटा सा गुलाब का लाल फुल जरूर याद आता है. और उस फूल को देखकर वह मन ही मन मुस्कुराता रहता है.

क्योंकि जिस तरह से उसने अपने महबूब को किताब में फूल रखकर देने की गुस्ताखी की थी. और उसके बाद जिस तरह से उसकी प्यार का पता सारे जहां को चल चुका था. इन सारी बातों का वह हमेशा अपने यार के सामने जिक्र करता रहता है. और उसी की यादों को अपने मन में बसाये हुए हैं.

8)

जिसे पाया ना जा सके वह जवाब हो तुम
मेरी रातों का हसीन ख्वाब हो तुम..

चाहे दुनिया कुछ भी कहे लेकिन
जिंदगी का मेरी हसीन गुलाब हो तुम..

jise paya na ja sake vah jawab ho tum
meri raaton ka haseen khwab ho tum..
chahe duniya kuchh bhi kahe lekin
jindagi ka meri hasin gulab ho tum..

Gulab Shayari In English की तरह अपने यार को पाना चाहोगे. जिस तरह से अपने महबूब को आशिक अपनी जिंदगी से ज्यादा चाहता है. वह अपने फूल जैसे महबूब को हमेशा याद करता है.

उसे तो लगता है कि जैसे उसका दिलबर जिंदगी के सभी सवालों का जवाब ही है. क्योंकि उसके आने से ही उसकी जिंदगी हमेशा महकती रही है. और उसके दिल को हमेशा ही सुकून मिलता रहा है. इसी वजह से वह अपने महबूब को ही जिंदगी का हसीन ख्वाब मानता है.

Gulab Shayari Image

Gulab Shayari Image
Gulab Shayari Image
9)

हर खयाल मेरा गुलाब बन जाये
हर कली रातों का ख्वाब बन जायें..

हो जाये गर दीदार आपकी मदहोश नजरों का
तो बूंदे ओस की, जैसे शराब बन जायें..

har khayal mera gulab ban jaaye
har kali raaton ka khwab ban jaaye..
ho jaye gar didar aapki madhosh najron ka
to bunde os ki jaise sharab ban jaaye..

आशिक अपने माशूका को हमेशा अपने सर आंखों पर रखना चाहता है. और उसकी हर एक बात को वह अपने दिल में बसा कर रखना चाहता है. वह अपने दिलबर की कोई झूठी तारीफ नहीं करना चाहता है.

क्योंकि उसे पता है कि आज तक अपने दिलबर के जलवों का उसके जिंदगी में गहरा असर हुआ है. कुछ ऐसी ही बात वह जमाने को बताना चाहता है. क्योंकि यह उसकी नशीली आंखों का ही तो करम होता है. जो उस नशे से ओस की बूंदे भी इतराती रहती है. और अपनी चमक दुनिया को बताती रहती है.

10)

खूबसूरती और वफ़ा का सबब हो तुम
चमन में महकता गुलाब हो तुम..

तुम्हारे जैसा नहीं है कोई नाज़नीन जहाँ में
हसीनाओं से भी हसीन हो तुम..

khubsurti aur wafa ka sabab ho tum
chaman mein mehta gulab ho tum..
tumhare jaisa nahin hai koi nazneen jahan mein
hasinaon se bhi haseen ho tum..

Gulab Shayari Image अपने हसीन महबूब की तारीफ करना चाहोगे. प्रेमी को अपने दिलबर के चेहरे के सिवा और कुछ भी नहीं दिखता है. क्योंकि उसकी मोहब्बत में हो तहे दिल से अपनी जिंदगी को शामिल कर लेता है.

और इसी वजह से वह अपने दिलबर की दिल खोलकर तारीफ करना चाहता है. और यह तारीफ उसकी सच भी होती है. क्योंकि उसका महबूब नाज़नीन होता है. नाज़नीन का अर्थ होता है कि दुनिया में सबसे खूबसूरत स्त्री. और कुछ इसी तरह से उसका महबूब भी तो उसके लिए गुलाब के फूल जैसा खूबसूरत होता है.

Conclusion

इन 2 Line Love Status In Hindi को पढ़कर आपके भी मन में जरूर यही ख्याल आ रहे होंगे. आपके दिल भर के बारे में ही आपका मन सोचने लगा होगा. क्योंकि इन गुलाब जैसी खूबसूरत शायरियों को सुनकर तो हर कोई उनका जरूर दीवाना हो जाएगा.

हमारी इन बेहतरीन प्रेरणादायी Gulab Shayari -2 को सुनकर अगर आपको भी गुलाब में अपने महबूब का चेहरा नजर आए. तो नीचे comment area में comments जरूर करें!

अपने Telegram channel पर सारे अपडेट्स प्राप्त करने के लिए जल्दी से Telegram में शायरी सुकून ऐसे या @shayarisukun सर्च करे और चैनल को subscribe करें. आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.

अगर अभी आपका मूड कुछ और दर्द भरी शायरियां पढ़ने का है, तो आप यहाँ Sad Shayari पर क्लिक कर सकते है.

1 thought on “Gulab Shayari -1: Rose Quotes 2 Line Love Status In Hindi”

  1. वाह वा मिलिंद जी
    क्या खुब कहां आपने,
    कायनात को चाहत का हसीन मंज़र बना देंगे
    हैं जो दीवारें बीच अपने नफरतों की गिरा देंगे..

    बेनकाब यूँ टहला ना करों गुलशन में तुम कभी
    जो देखेंगे तुझे गुलाब ज़िन्दगी की दुआ देंगे..

    शायर को भी बहोत बहोत बधाईयां 😊👌👌

Leave a Comment