Manzil -2 Motivational Shayari मंजिल की तरफ बढ़ते ही जाओगे

manzil shayari : दोस्तों, जिंदगी में हमें manzil की तलाश तो हमेशा जारी रखनी ही चाहिए. और अपने सपनों को पूरा करने के लिए हमें हर वक्त अपने कामों में डटे रहना चाहिए. अगर आप अपने किसी भी काम में अपना पूरा तन मन झोंक कर उसमें लगा दे, तो आपको manzil  मिलना तो तय है दोस्तों.

और दोस्तों जरूरी नहीं है कि manzil अर्थात किसी बात में या फिर किसी काम को करते हुए आपको मिली कोई सफलता ही हो. अगर आप किसी काम में और सफल भी रहे, तो भी आप किसी मकाम तक तो जरूर ही पहुंचते हो, है ना?


इन मोटिवेशनल Manzil शायरियों को RJ Om Sonune इनकी आवाज़ में सुनकर अपने कदम मंजिल की ओर बढ़ाते ही जाओगे!

और इसी तरह manzil की तलाश में हम रास्ते से चले जाते हुए किसी असफलता के मकाम तक भी पहुंचे तो उसे हम manjil कह सकते हैं. आपको यह बात तो पता ही होगी कि कभी-कभी manjil से ज्यादा वहां तक पहुंचने वाला रास्ता ही बेहतर लगता है. और ऐसे रास्ते पर चलते चलते आपको सफलता मिले या ना मिले, लेकिन उस manjil तक पहुंचने का जो तजुर्बा है, उसे आप कभी नहीं भूल सकते.

मंजिल धोखा देती है मगर हार ना मानने में ही भलाई होती है..

दोस्तों बहुत बार ऐसा होता है कि जब हम किसी मंजिल की तलाश में तो निकलते हैं, लेकिन कभी हम रास्ता भटक जाते हैं, तो कभी हमें मंजिल दिखाई ही नहीं देती. इस तरह से कभी-कभी हमें manjil बहुत बार चतुराई से धोखा दे देती है.

लेकिन उस वक्त हमें नाराज होकर या फिर उस असफलता से घबराकर हमें कोशिश करना बंद नहीं करना चाहिए. क्या पता आप ऐसी 99 कोशिशें कर लें, और अगली एक या फिर दूसरी कोशिश में ही आपको मंजिल मिलना तय हो. कई बार बस लोग यहीं पर तो गलती कर देते हैं.

उन्हें ऐसा लगता है क्या इतनी सारी कोशिशों के बाद भी अगर मंजिल ना मिल रही हो, तो इसका मतलब है कि हम अपने काम में सफल कभी नहीं हो सकते हैं. बहुत बार यह तो सिर्फ आपकी आंखों का धोखा ही हो सकता है दोस्तों.

क्योंकि कभी कबार तो मंजिल आपके नजदीक या फिर आपके सामने ही होती है लेकिन फिर भी आपको दिखाई नहीं देती. और इसी वजह से आप अपने सारे किए कराए पर पानी खेलने के लिए भी तैयार हो जाते हो.

मंजिल (Manzil) को खुद ढूंढने पर ही उसके मिलने के आसार बढ़ जाते हैं..

हम अक्सर जब भी किसी सफलता के बारे में बात करते हैं, तो हमें बस अच्छी बातें ही याद आ जाती है. आप जब भी किसी यश प्राप्ति के लिए कोई तपस्या करते हैं तो वह काम अवश्य सफल हो होता ही है. बस आपको उसके बारे में अच्छे विचार हैं और सच्ची मेहनत से काम लेना होता है.


Manzil -1: Motivational Shayari शान से मंजिल तक ले जाएगी!
Click ? link to listen more


लेकिन अगर आप सिर्फ विचार ही करते रहेंगे, सिर्फ सोचते ही रहेंगे तो यह मंजिल आपको यूं ही नहीं मिल जाती दोस्तों. उसके लिए आपको खुद से परिश्रम भी करना होता है. खुद उठकर उस काम को अंजाम तक ले जाने के लिए मेहनत करनी पड़ेगी. तभी जाकर आपको वह काम पूरा होता नजर आ सकता है. अगर आप सिर्फ हाथ पर हाथ धरे बैठे रहोगे तो आप कोई भी काम कर नहीं सकोगे.

और अगर आप कोई काम ना करते हुए उसके बारे में बस सोचते ही रहें, तो आप इस मुकाम तक नहीं पहुंच पाओगे जहां पर आप जाना चाहते हो. इसी वजह से हम आपसे इस बात को कहना चाहते हैं कि चलिए अपनी मंजिल को खुद ढूंढने के लिए निकल पड़ेंगे. क्योंकि आप जो नींदों में ख्वाब देखते हो वह हमेशा ही अपने आप पूरे हो यह तो कतई संभव नहीं है.

मंजिल आपको ना मिले तब तक थके हुए क्यों ना हो बढ़ते रहो..

जब भी आप किसी काम में अपनी मेहनत और अपनी पूरी लगन से जुट जाते हो तो आपको अपना मक़ाम मिलना तय होता है दोस्तों. दिल से किए गए काम में आपको ना ही भूख की फिक्र होती है और ना ही प्यास की फिक्र होती है. और इसी वजह से आप अपना सारा ध्यान बस अपने काम में ही लगाते हो.

और तब आप अपने नसीब से भी यह बात बड़े शान से कह सकते हो कि आप भले ही कितने भी थके हुए क्यों ना हो, लेकिन फिर भी आप अपने मंजिल की तरफ बढ़ते रहते हो. आपका शरीर भले ही कितना ही थका क्यों न हो, आपका मन अभी भी आपको अपने मकाम तक खींच कर ले जाता है.

इसी सोच में कि कल जाकर जब आपको अपनी मंजिल, आपका असली मकाम मिल जाएगा तो वहां पर जो जश्न होगा, जो माहौल होगा, वह तो बस देखते ही बनेगा है ना?


manzil shayari in hindi urdu thoughts

कुछ मंजिले है जो
दिखती ही नहीं..

मगर ये ना समझों की
वो मिलती ही नहीं..

kuchh manjile hain
jo dikhti hi nahin..
magar ye na samjho ki 
vah milati hi nahin…

manzil-2-motivational-shayari-destination-poetry-1

best motivational shayari collection 2021 in hindi urdu

चलो दोस्तों चलकर
मंजिले ढूँढ लाए,

कुछ सपनें तो अक्सर
पुरे नहीं होते..!

chalo doston chal kar 
manzilen dhund laye..
kuchh sapne to aksar 
pure nahin hote…


manzil par shayari | whatsapp status quotes poetry

थका हु फिर भी बढ़ रहा हूँ
मंजिल की और..

यही सोचकर.. के जित गया तो
हंगामा बहुत बड़ा होगा..!

thaka hun fir bhi badh
raha hun manjil ki or..
yahi soch kar.. ke jeet gaya to 
hungama bahut bada hoga..!

manzil-2-motivational-shayari-destination-poetry-2

दोस्तों, हमारी ये प्रेरणादायक शायरियां सुनकर अगर आपको भी अपनी मंजिल पाने में प्रेरणा मिली हो, तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करते हुए जरूर बताइएगा.

अगर आप चाहते है कि आपको सारी अपडेट्स अपने Whatsapp पर मिले तो, जल्दी से ‘START’ इस मेसेज को +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.

अगर आपका मूड कुछ मोटिवेशनल शायरियां पढ़ने का है, तो आप यहाँ Motivational Shayari पर क्लिक कर सकते है.

12 thoughts on “Manzil -2 Motivational Shayari मंजिल की तरफ बढ़ते ही जाओगे”

  1. वाह ओम, आपकी आवाज ने इन शायरियों को सुनकर मंजिल का ऐतबार जरूर हो गया है…
    बहोत अच्छे

Leave a Comment