hidayat 1: Sad Shayari से प्यार में दी गई हिदायत याद आएगी!

hidayat shayari : हम अक्सर अपनों को या दूसरों को भी किसी बात पर हिदायत देते है. शायद आपको भी कभी किसी ने हिदायत जरूर दी होगी. hidayat meaning : हिदायत अर्थात किसी भी बात पर दिया गया अनुदेश, उपदेश या आज्ञा.

हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में भी काम करने के लिए या किसी को कोई काम अच्छी तरह से समझाने के लिए जो भी उपदेश या आज्ञा देते हैं.जैसे कि ‘हवा आने के लिए यह दरवाजा खुला रखो’ या फिर ‘बारिश आ रही है खिड़की बंद करो’ जैसी बड़ों की किसी भी आज्ञा को भी हम हिदायत कह सकते हैं.

हमेशा हिदायत (hidayat) देने वाला अब अचानक चुप कैसे हो गया

हम जानते हैं कि जब भी हमारे घर के बड़े सदस्य फिर चाहे हमारे माता-पिता, बड़ा भाई या बहन हो. वो हमें कोई आज्ञा या फिर हिदायत देते हैं, तो वह हमारे बर्ताव में अच्छे सुधार के लिए ही देते हैं. और क्यों ना दें?
उनका यह हक होता है और हमारा भी यह कर्तव्य होता है कि उनकी हिदायतें या उनकी आज्ञाओं को सुनकर ही हमें अपनी जिंदगी में  कोई भी अच्छा काम करना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए. आज तक किसी भी चीज में हम अपने से बड़े बुजुर्गों का अनुकरण करते हुए ही तो बड़े हुए हैं.

हिदायत अगर हम अपनों को दे या कोई अपना हमें hidayat दे तो उसका ज्यादातर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता.
लेकिन अगर हमारे अपनों को छोड़कर हम किसी दूसरे को उसके निजी बात पर कोई उपदेश या अनुदेश दे तो शायद उसे बहुत बुरा महसूस हो सकता है. इसलिए किसी को भी हिदायत देते समय हमें  इन सभी बातों को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए और सावधानी बरतनी चाहिए.

ऐसी हिदायत (hidayat) दो जो जिंदगी भर याद रहे

किसी भी बात पर आपकी निजी जिंदगी में भी आपका साथी आपको हर बार हिदायत देता था. और जब भी, आपको क्या करना है यह सूझता नहीं था, तो आप खुद होकर भी उनकी hidayat जरूर लेते थे. दूसरे शब्दों में कहें तो आपको भी उनसे हमेशा हिदायत लेना ही पसंद था.

लेकिन उन्होंने आपको अब तक जो हिदायतें दी थी. शायद वो अभी आपके काम आ रही है.उन्होंने दुआओं में आपके नींदे उड़ाने के लिए जो हिदायतें मांगी थी. शायद अब वो कुबूल हो गई है. क्योंकि अब आपको उनके इंतजार में अब नींद भी नहीं आती. आपकी नींद तो जैसे कहीं खो गई हो.

आपने बहुत से लोगों से कही सुनी बातें और कहानियां बहुत सुनी थी. लेकिन आपको उन बातों के लिए उन लोगों से जरा भी शिकायत नहीं थी.कई लोगों ने आपको अपने महबूब से नफरत करने की हिदायतें दी थी. लेकिन आपने उनकी एक भी नहीं मानी थी.क्योंकि आपको अपने साथी पर बहुत ज्यादा भरोसा था और अब भी है.  

कुछ हिदायतों पर भरोसा रखना पड़ेगा

प्यार में भरोसा ही सबसे ज्यादा महत्त्व रखता है, यह बात आप को भलीभांति पता है. लोगों की दी हुई सारी हिदायतें आपके लिए बस एक कहावत की तरह ही थी. एक भी आपके लिए किफायती नहीं रही थी.उसी विश्वास का आज आपको अच्छा फल मिला है. आपका महबूब हरदम आपके साथ जो है.

जब वह हर बात पर आपको हिदायत देते थे. या आप उनसे हर बात पर hidayat मांगते थे, तब तो सब कुछ आप जैसा चाहो वैसा ही हो रहा था. सब कुछ ठीक था. वो आपको हमेशा याद करते थे. आप भी हमेशा उनकी बाहों में थे.लेकिन जब से उन्होंने आपको hidayat देनी बंद कर दी है, तब से ना उन्हें आप याद आ रहे हो. और ना ही उन्हें आपकी जरूरत लग रही है.

 इसलिए आज वो आपको उनके ख्यालों में भी लाने के लिए तैयार नहीं है. आपका ख्याल करने की उन्हें फुर्सत ही नहीं है. और इस बात का ही आपको बहुत ज्यादा अफसोस हो रहा है, है ना?

हम भी आप के दर्द को समझते हुए, आपके अफसोस को जानते हुए आपके लिए ऐसी ही जख्मों पर मरहम लगाने वाली शायरियां लेकर आए हैं. जिन्हें सुनकर शायद आपको अपने चहेते ने दी हुई हिदायत याद आ जाएगी.


आपके महबूब ने आपको दी हुई हिदायत को अपने कानों में समाने के लिए नीचे दिए गए प्ले बटन पर अभी क्लिक करें. ▶ PLAY NOW ▶

Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com


Hidayat shayari in Hindi : sad shayari in Hindi

हर बात पर मुझे
हिदायत देता था वो,

अफसोस यह है कि आज
उसके ख्याल में भी
मेरा ख्याल नहीं आता…!

Har baat per mujhe
hidaayat deta the vo,
afsos ye hai ki aaj uske
khayal mein bhi mera
khyal nahi aata…!

Hidayat-1-best-sad-shayari-in-hindi-1

Sad shayari in Hinglish

कल तक जहां जहां
हिदायत देते थे,

आज वही से
दावत खाकर आ रहे हैं…!

Kal tak jahan jahan
hidaayat dekhte the,
aaj vahi se dawat khakar
aa rahe hain…!


hidayat par shayari in Urdu

आबाद तो फिरसे
होना चाहते है हम,

लेकिन लगता है कुछ हिदायतें ही
हमारा भला करेगी…!

Aabad to fir se
hona chahte hain hum,
lekin lagta hai
kuch hidaayate
hi hamara bhala karegi…!

Hidayat-1-best-sad-shayari-in-hindi-2

आशा है कि इन sad shayari के साथ आप किसी को हिदायत देंगे तो वह सोच समझकर ही देंगे.

ऐसीही sad shayari with images, love shayari, attitude shayari, motivational shayari aur family shayari पर बनी ढेरों shayari से सजे हुये इस मंच को एकबार जरूर भेंट दें. साथ ही अपने Dosto को भी जरूर forward करें.


शायरी सुकून इस नायाब शायरियों के Telegram channel को अभी join करने के लिए सर्च करें शायरी सुकून या @shayarisukun और चैनल को अभी subscribe करें. आपको 24 घंटो के भीतर सेवा प्रदान की जायेगी.



कुछ प्रेरणादायी पढ़ने का मन हो रहा तो आप इस 👉🏼Motivational Shayari 🌻 केटेगरी को पढ़ सकते हो.



शायरी सुकून के बेहतरीन शायरियो को अपने फेसबुक पर प्राप्त करने के लिए इस 👉🏼शायरी सुकूनपेज को Like 👍🏼 और Share जरूर करे.

1 thought on “hidayat 1: Sad Shayari से प्यार में दी गई हिदायत याद आएगी!”

Leave a Comment