Latest Posts

Hidayat -1: Sad Shayari से प्यार में दी गई हिदायत याद आएगी!

hidayat shayari : हम अक्सर अपनों को या दूसरों को भी किसी बात पर हिदायत देते है. शायद आपको भी कभी किसी ने हिदायत जरूर दी होगी. hidayat meaning : हिदायत अर्थात किसी भी बात पर दिया गया अनुदेश, उपदेश या आज्ञा.

हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में भी काम करने के लिए या किसी को कोई काम अच्छी तरह से समझाने के लिए जो भी उपदेश या आज्ञा देते हैं.जैसे कि ‘हवा आने के लिए यह दरवाजा खुला रखो’ या फिर ‘बारिश आ रही है खिड़की बंद करो’ जैसी बड़ों की किसी भी आज्ञा को भी हम हिदायत कह सकते हैं.

दिलों का मैल धोए… ऐसी बरसात दे मौला
इंसान परेशान हाल हैं… तू निजात दे मौला

फिर ना लौटे हम… गुनाहों की दुनिया में
हमें तू फिर ऐसी नेक हिदायत दे मौला

Moeen

dilon ka mail dhoye..aisi barsaat de moula
insan pareshan haal hai..tu nijaat de moula
fir na loute hum..gunah ki duniya me
hume tu fir aisi nek hidayat de moula

✤ शायरी सुनने के लिए ✤
♫ Player लोड होने दें ♫


आपके महबूब ने आपको दी हुई Hidayat को Anjali Gavali इनकी आवाज़ में यह शायरियां सुनें.

हम जानते हैं कि जब भी हमारे घर के बड़े सदस्य फिर चाहे हमारे माता-पिता, बड़ा भाई या बहन हो. वो हमें कोई आज्ञा या फिर हिदायत देते हैं, तो वह हमारे बर्ताव में अच्छे सुधार के लिए ही देते हैं. और क्यों ना दें?

हमेशा हिदायत (hidayat) देने वाला अब अचानक चुप कैसे हो गया

उनका यह हक होता है और हमारा भी यह कर्तव्य होता है कि उनकी हिदायतें या उनकी आज्ञाओं को सुनकर ही हमें अपनी जिंदगी में  कोई भी अच्छा काम करना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए. आज तक किसी भी चीज में हम अपने से बड़े बुजुर्गों का अनुकरण करते हुए ही तो बड़े हुए हैं.

हिदायत अगर हम अपनों को दे या कोई अपना हमें hidayat दे तो उसका ज्यादातर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता.
लेकिन अगर हमारे अपनों को छोड़कर हम किसी दूसरे को उसके निजी बात पर कोई उपदेश या अनुदेश दे तो शायद उसे बहुत बुरा महसूस हो सकता है. इसलिए किसी को भी हिदायत देते समय हमें  इन सभी बातों को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए और सावधानी बरतनी चाहिए.

ऐसी हिदायत (hidayat) दो जो जिंदगी भर याद रहे

किसी भी बात पर आपकी निजी जिंदगी में भी आपका साथी आपको हर बार हिदायत देता था. और जब भी, आपको क्या करना है यह सूझता नहीं था, तो आप खुद होकर भी उनकी hidayat जरूर लेते थे. दूसरे शब्दों में कहें तो आपको भी उनसे हमेशा हिदायत लेना ही पसंद था.

टुट पड़ती हैं पैरों की सब ज़ंजीरें
सँवर जाती हैं पल में बिगड़ी तकदीरें

ऐसी हिदायत मिली के सँवर गया मैं
ज़माना देखता रहे गया हाथों की लकीरें

Moeen

tut padti hai pairo ki sab janjire
sanvar jati hai pal me bigdi taqdeere
aisi hidayat mili ke sanvar gya mai
jamana dekhta rhe gya haato ki lakire

लेकिन उन्होंने आपको अब तक जो हिदायतें दी थी. शायद वो अभी आपके काम आ रही है.उन्होंने दुआओं में आपके नींदे उड़ाने के लिए जो हिदायतें मांगी थी. शायद अब वो कुबूल हो गई है. क्योंकि अब आपको उनके इंतजार में अब नींद भी नहीं आती. आपकी नींद तो जैसे कहीं खो गई हो.

आपने बहुत से लोगों से कही सुनी बातें और कहानियां बहुत सुनी थी. लेकिन आपको उन बातों के लिए उन लोगों से जरा भी शिकायत नहीं थी.कई लोगों ने आपको अपने महबूब से नफरत करने की हिदायतें दी थी. लेकिन आपने उनकी एक भी नहीं मानी थी.क्योंकि आपको अपने साथी पर बहुत ज्यादा भरोसा था और अब भी है.

hidayat shayari image
hidayat shayari image

कुछ हिदायतों (hidayat) पर भरोसा रखना पड़ेगा

प्यार में भरोसा ही सबसे ज्यादा महत्त्व रखता है, यह बात आप को भलीभांति पता है. लोगों की दी हुई सारी हिदायतें आपके लिए बस एक कहावत की तरह ही थी. एक भी आपके लिए किफायती नहीं रही थी.उसी विश्वास का आज आपको अच्छा फल मिला है. आपका महबूब हरदम आपके साथ जो है.

जब वह हर बात पर आपको हिदायत देते थे. या आप उनसे हर बात पर hidayat मांगते थे, तब तो सब कुछ आप जैसा चाहो वैसा ही हो रहा था. सब कुछ ठीक था. वो आपको हमेशा याद करते थे. आप भी हमेशा उनकी बाहों में थे.लेकिन जब से उन्होंने आपको hidayat देनी बंद कर दी है, तब से ना उन्हें आप याद आ रहे हो. और ना ही उन्हें आपकी जरूरत लग रही है.

ये ज़माना जो आज परेशान हैं
रास्ते से हिदायत के अंजान हैं

तू आबाद कर फिर शहरों को हमारे
अच्छी नहीं लगती जो आबादीयाँ विरान हैं

Moeen

ye jamana jo aaj pareshan hai
raaste se hidayat ke anjan hai
tu aabad kar fir shaharon ko humare
acchi nhi lagti jo aabadiyan viraan hai

 इसलिए आज वो आपको उनके ख्यालों में भी लाने के लिए तैयार नहीं है. आपका ख्याल करने की उन्हें फुर्सत ही नहीं है. और इस बात का ही आपको बहुत ज्यादा अफसोस हो रहा है, है ना?

हम भी आप के दर्द को समझते हुए, आपके अफसोस को जानते हुए आपके लिए ऐसी ही जख्मों पर मरहम लगाने वाली शायरियां लेकर आए हैं. जिन्हें सुनकर शायद आपको अपने चहेते ने दी हुई हिदायत याद आ जाएगी.

Hidayat shayari in Hindi : sad shayari in Hindi

हर बात पर मुझे
हिदायत देता था वो,

अफसोस यह है कि आज
उसके ख्याल में भी
मेरा ख्याल नहीं आता…!

Har baat per mujhe
hidaayat deta the vo,
afsos ye hai ki aaj uske
khayal mein bhi mera
khyal nahi aata…!

Sad hidayat shayari in Hinglish

कल तक जहां जहां
हिदायत देते थे,

आज वही से
दावत खाकर आ रहे हैं…!

Kal tak jahan jahan
hidaayat dekhte the,
aaj vahi se dawat khakar
aa rahe hain…!

hidayat par shayari in Urdu

आबाद तो फिरसे
होना चाहते है हम,

लेकिन लगता है कुछ हिदायतें ही
हमारा भला करेगी…!

Aabad to fir se
hona chahte hain hum,
lekin lagta hai
kuch hidaayate
hi hamara bhala karegi…!


अब तो आपको ख्याल में भी आबाद होने पर आपको जैसे अफसोस हो रहा है..

आप अपने महबूब के प्यार में आप इस कदर डूबे रहते थे कि हमेशा ही आप khayal shayari ही लिखा करते थे. लेकिन आजकल आप उन पर khayal shayari लिखने के बजाय afsos shayari ही लिखना पसंद कर रहे हो. क्योंकि आप खुद तो afsos shayari में ही मशगूल हुए हो लेकिन वह आपका दिलबर तो अब aabad shayari पढ़ते हुए ही आबाद हो रहा है.

और वह आपसे भी मन ही मन शायद अब इसी aabad shayari की ही फरमाइश करने लगा है. और इसी तरह से अपनी महबूब यादों में खोते हुए उन पर khayal shayari  की पेशकश जरूर करना चाहोगे. लेकिन आपका मन तो उन्हें हमेशा अपनी aabad shayari में ही सुनना पसंद करता है.

आप अपने रूठे हुए महबूब को मनाने के लिए लाख कोशिश करते हुए aabad shayari भी लिखते हो. लेकिन अब तो आपको लग रहा है कि उन पर afsos shayari के बजाय और कोई शायरी नहीं पसंद नहीं होगी. और इसी ख्याल में डूबे हुए अब तो बैठे-बैठे आपने khayal shayari भी लिख दी है.


Attitude Shayari -9: Aukat Status In Hindi!
Click above link to listen more


लेकिन आपको इस बात का पता जरूर है कि उन पर आपने लिखी हुई इस khayal shayari का कोई असर नहीं होने वाला है. क्योंकि वह तो खुद aabad shayari को ही हमेशा पसंद करता है. या तो वह afsos shayari को पढ़ते हुए ही अपने दिल का अफसोस जताना चाहता है.

आप अपने महबूब के लिए चाहे कितनी भी khayal shayari सुनाएं. लेकिन वह है कि आपकी एक भी बात ना मानते हुए आपसे बस aabad shayari की ही मांग कर रहा है. लेकिन आपके मन में भी उसके लिए दर्द होने के कारण आप उस पर afsos shayari ही लिखना चाहते हो.

लेकिन यह बात आपके aabad shayari पढ़ने वाले और सुनने की आशा रखने वाली दिलबर को आपकी ये afsos shayari जरा भी पसंद नहीं आती. और वह आपसे बस khayal shayari की गुजारिश करते हुए ही आपको अपनी बात मनाना चाहता है. लेकिन आप मन ही मन बस इसी बात का ख्याल करते हुए उसे khayal shayari पेश करने का इरादा रखते हो.

Hidayat best-sad-shayari-in-hindi-2

आशा है कि इन sad hidayat shayari के साथ आप किसी को हिदायत देंगे तो वह सोच समझकर ही देंगे.

ऐसीही sad shayari with images, love shayari, attitude shayari, motivational shayari aur family shayari पर बनी ढेरों shayari से सजे हुये इस मंच को एकबार जरूर भेंट दें. साथ ही अपने Dosto को भी जरूर forward करें.

शायरी सुकून इस नायाब शायरियों के Telegram channel को अभी join करने के लिए सर्च करें शायरी सुकून या @shayarisukun और चैनल को अभी subscribe करें. आपको 24 घंटो के भीतर सेवा प्रदान की जायेगी.


कुछ प्रेरणादायी पढ़ने का मन हो रहा तो आप इस Motivational Shayari केटेगरी को पढ़ सकते हो.


शायरी सुकून के बेहतरीन शायरियो को अपने फेसबुक पर प्राप्त करने के लिए इस शायरी सुकून पेज को Like और Share जरूर करे.

Rate this post

12 thoughts on “Hidayat -1: Sad Shayari से प्यार में दी गई हिदायत याद आएगी!”


  1. Subscribe to Channel
  2. बहोत ही खूब अंदाज ए बयां अंजलीजी 👌👌👌
    आपकी आवाज छु जाती है 👌👌🌸

  3. बेहद्द दिलकश पेशकश!! अंजलीजी.
    नायब शायरी और आपकी खुबसुरत आवाज
    मिठास के साथ साथ दर्द भी बायां किया है आपने..
    बहुत खूब!!
    अनेक शुभेछाएं!
    – कल्याणी

  4. Feeling ke sath kamaal ki awaz👌💕💕 poori jaan daldi aapne shayari me💕💕😍😍beautiful words as well 👌👌

  5. Anjali, your flawless and consistent tone of voice make every audio recording so pleasant to listen to. You’ve recorded it so beautifully.
    #VoiceOfComfort

Leave a Comment