Bewafa Shayari Image -11: Dhokhe Wale Status Download

Bewafa Shayari Image : दोस्तों प्यार की बेवफाई कभी आशिक को जीने नहीं देती है. क्योंकि उसके दिल पर जो गहरी चोट आई होती है. वह उसे जिंदगी भर कभी भुला नहीं पाता है. और इसका इल्जाम वह भले ही अपने महबूब पर लगाता हो. लेकिन इसका सबसे ज्यादा कसूरवार वह खुद को ही मानता है.

और सिर्फ अपने प्यार की खामी को और नसीब को ही कोसता रहता है. क्योंकि यह बात उन दोनों के बीच में बहुत ज्यादा मायने होती है. जब किसी आशिक के हाथों अपने प्यार में कोई गलती होती है. तो वह उस गलती को मानने के लिए जरा भी नहीं हिचकीचाता है. क्योंकि उसे पता होता है कि इस तरह गलती को खुद मान लेने से उन दोनों के बीच दरार नहीं आएगी.

लेकिन अगर यह दरार गलतफहमीओं में तब्दील हो गई. तब तो यह बात दिल टूटने तक जा सकती है. यही आज की Bewafa Shayari Image का कहना है. और शायद इन Dhokhe Wale Status को पढ़कर और सुनकर आप भी कुछ सबक जरूर लेना चाहेंगे. क्योंकि प्यार ही जिंदगी का सबसे अहम हिस्सा होता है. और कोई भी इसे अपनी जिंदगी से अलग नहीं होने देना चाहेगा.

Table of Content

  1. Bewafa Shayari
  2. Bewafa Shayari Image
  3. Bewafa Shayari In Hindi
  4. Bewafa Shayari Photo
  5. Bewafa Shayari English
  6. Conclusion

Bewafa Shayari

1)

तेरे इंतज़ार में उसी पगडंडी पर खड़ा हुँ
तेरे खयालों की भीड़ में आज अकेला हुँ..

बुझा ना दे सुबह होते ही बेवफा मुझे
तेरी खातीर तन्हाई के अंधेरों में जला हुँ..

-Moeen

tere intezar main usi pagdandi per khada hun
tere khayalon ke bheed mein aaj akela hun..
bujha na de subah hote hi bewafa mujhe
teri khatir tanhai ke andhero mein jala hun..

अपने यार का इंतजार करती है आशिक सदिया बिता देता है. उसे अपने दिलबर पर इतना भरोसा होता है. वह अपने आपके जिंदगी को भी नीलाम करने के लिए हमेशा तैयार रहता है.

उसके दिलरुबा का खयाल उसके दिल से कभी जाता ही नहीं है. भले ही उसकी महबूबा ने उसका दिल तोड़ कर बेवफाई की हो. लेकिन फिर भी आशिक का दिल यह मानने के लिए तैयार नहीं होता है. और हमेशा उसी के वापस आने की राह तकता है.

2)

इसी उम्मीद पर हुँ ज़िंदा वो पलट कर आएगी
साँसों की माला टूटने से पहले तेरी खबर आएगी..

तेरी बेवफाई ने भटकाया मुझे दर बदर शहर में
बेवफा मेरी चाहत तेरी आँखों में नज़र आएगी..

-Moeen

isi ummid per hun jinda vo palat kar aaegi
sanson ki mala tutane se pahle teri khabar aaegi..
teri bewafai ne bhatkaya mujhe dar badar shahar mein
bewafa meri chahat teri aankhon mein najar aaegi..

Bewafa Shayari में आशिक अपने यार के इंतजार में कई सदियां बिताने के लिए भी तैयार होता है. क्योंकि उसके बारे में का प्यार है उसके लिए सब कुछ था. लेकिन अपने दिलबर के छोड़ जाने के बाद से वहां अब जैसे अकेला पड़ गया है.

उसे दरबदर भटकाने वाला महबूब फिर एक बार अपनी जिंदगी में चाहिए. उसके लिए वह अपनी चाहत के कई सारे इल्जाम भी लेने के लिए तैयार है. लेकिन अपने आखरी सांस तक वह दिलबर को कभी भुला नहीं पाएगा.

Bewafa Shayari Image
Bewafa Shayari Image

Bewafa Shayari Image

3)

अरसा हुआ तेरी हालत से बेखबर हुँ मैं
ढूंढता हुँ तेरी कहानी में अब किधर हुँ मैं..

बेवफा ने कहा था वक्ते रुखसत मुझे
अंजान राहों का एक गुमनाम सफर हुँ मैं..

-Moeen

arsa hua teri halat se bekhabar hu main
dhundhta hun teri kahani me ab kidhar hun main..
bewafa ne kaha tha waqt e rukhsat mujhe
anjan raho ka ek gumnaam safar hoon main..

अपने महबूब से किए सारे वादों को अब आशिकी याद कर रहा है. उसके दिलबर का जिंदगी में ऐसे अधूरे सपनों को छोड़ जाना उसे अच्छा नहीं लग रहा है. और यह बात भी उसे मुनासिब नहीं लग रही है कि आखिर उसका महबूब उसे कुछ भी नहीं बता रहा है.

और ना ही उसके दिल तोड़ने का सबब या वजह वह उसे बता रहा है. और इसी वजह से हम Dhokhe Wale Status की मदद से आप को आगाह करना चाहते हैं. ताकि आपकी अनजान राहों में आपका साथी हमेशा जिंदगी बनकर साथ चले.

4)

हम पर तारी, तेरे खयालों की गुलामी हैं
तेरी गलीयों में आवारा फिरना नेकनामी हैं..

बेवफा ने ठुकराने का सबब ना बताया कभी
शायद मेरे वजूद में ही कोई खामी हैं..

-Moeen

ham per tari, tere khyalon ki gulami hai
teri galiyon mein awara firna neknaami hai..
bewafa ne tukrane ka sabab na bataya kabhi
shayad mere wajood mein hi koi khaami hai..

Bewafa Shayari Image में जब आशिक का महबूब उसे छोड़कर किसी और को अपना लेता है. तब उसके दिल पर जैसे बड़ा सा पहाड़ टूट कर गिरता है. क्योंकि यह सदमा ही उसके लिए बहुत ज्यादा बड़ा होता है. उसकी जिंदगी ही जैसे दांव पर लगी जाती है. और इस बात की वजह भी तो महबूब उसे बताने के लिए राजी नहीं होता है.

और यही सोच सोच कर अब दिलबर की हालत बिगड़ रही है. उसके मन में तो अपने प्यार को ठुकरा ने का ख्याल तक नहीं आता है. लेकिन अपने दिलबर ने इतना बड़ा कदम कैसे उठाया होगा. यही सोचकर वह नसीब की खामियों को ढूंढने की बात सोच रहा है.

Bewafa Shayari In Hindi

5)

हम ने वक्त पर छोड़ सारे हिसाब रखे हैं
उम्मीद की दहलीज़ पर बिखरे ख्वाब रखे हैं..

बेवफा के लबों पर थे अनगिनत सवाल
हम ने आँखों में महफूज़ सारे जवाब रखे हैं..

-Moeen

humne waqt per chhod sare hisab rakhe hain
ummid ki dehleez par bikhar khwab rakhe hain..
bewafa ke labon per the anginat sawal
humne aankhon mein mehfuz sare jawab rakhe hain..

अपनी महबूबा की प्यार का अफसाना आशिक को भी भुला नहीं पाता है. उसे जिंदगी भर अपने दिलबर की सारी बातों का नजराना याद रहता है. लेकिन उसे यह सोच सोचकर बहुत रोना आता है. आखिर उसके महबूब ने उसके दिल को इस तरह से बिना कोई वजह बताएं धोखा देने की सोची कैसे?

अगर उसके मन में कोई सवाल यह कोई शक था. तो वह उसे जरूर पूछ लिया बता सकता था. लेकिन यह बात पूछने के कष्ट तक वह दिलबर नहीं ले सका है. और आशिक अपनी ही आंखों में उसके जवाब लेकर यूं ही बैठा है.

6)

हर खता तेरी हमने माफ की
तेरी हर भूल को हमने भुला दिया..

फिर भी गम है मुझे प्यार को मेरे
तुमने बेवफा होकर सिला दिया..

har khata teri humne maaf ki
teri har bhul ko humne bhula diya..
fir bhi gam hai mujhe pyar ko mere
tumne bewafa hokar sila diya..

Bewafa Shayari In Hindi की तरह अपने महबूब पर आशिक को बहुत ज्यादा भरोसा होता है. लेकिन फिर भी उस महबूब अपने आशिक को प्यार में धोखा दे दिया है. ऐसा करके उसे क्या हासिल हुआ है यही सोचकर आशिक बेहाल है.

लेकिन फिर भी वह उसे जरा भी बद्दुआएं देने के लिए तैयार नहीं है. वह आज तक अपने महबूब की सारी खताओं को भूलाता रहा है. लेकिन उसकी महबूबा ने उसके प्यार को कभी समझा नहीं है. और वफा के बदले बेवफाई का तोहफा दिया है.

Bewafa Shayari Photo

7)

नैना हमारे जिनसे थे मिले
साथ उनके बन गए थे सिलसिले..

प्यार किया तहे दिल से हमने
फिर भी सनम हमारे बेवफा निकले..

naina hamare jinse the mile
sath unke ban gaye the silsile..

pyar kiya toh dil se humne
fir bhi sanam hamare bewafa nikale..

अपने दिलबर के साथ रहने के लिए आशिक हमेशा बेताब होता है. लेकिन वह अपने दिलबर की वफा को कभी समझ नहीं पाया है. दरअसल उसका यार उससे कभी वफा कर ही नहीं पाया है. उसने हमेशा ही अपने यार के साथ बेवफाई ही की थी.

लेकिन आशिक को अपने यार पर आज भी भरोसा आ रहा है. वह उसे अभी अपने दिल के करीब मानता है. इसीलिए वह अपने दिलबर को तहे दिल से सिर्फ दुआएं ही देना चाहता है.

8)

तोड़ ही दिया है जब दिल
तो उजाड़ देना ख्वाबों का आशियाना..

खाक हो जाना चाहते हैं मगर
देख नहीं सकते गैरों संग तेरा मुस्कुराना..

tod hi diya hai jab dil
to ujad dena khwabon ka aashiyana..
khaak ho jana chahte hain magar
dekh nahin sakte gairon sang tera muskurana..

Bewafa Shayari Photo का अपने दिलबर के प्यार के लिए आशिक अपना नया जहां बसाता है. और कुछ जहां में वह अपने महबूब के साथ हमेशा के लिए बस जाना चाहता है. लेकिन उसके दिल की यह सारे ख्वाब महबूब ने जैसे मिट्टी में मिला दिए हैं.

क्योंकि उसके दिलबर की यादों में महबूब कभी खोया नहीं था. और इसी वजह से वह अपने दिल के पास उसे कभी मान नहीं पाया है. लेकिन अब आशिक के दिल का सब्र जैसे पूछ रहा है. और इसी वजह से वह अपने महबूब की खुशी देख नहीं पा रहा है.

Bewafa Shayari English

9)

दरिया -ए- दिल में धड़कन की कश्ती है
सपनों के जहां में यादों की बस्ती है..

बाजार लगा है दिलों का प्यार के मेले में
कीमत बेवफाई की प्यार से सस्ती है..

dariya -e- dil mein dhadkan ki kashti hai
sapnon ke jahan mein yadon ki basti hai..|bajar laga hai dilon ka pyar ke mele mein
kimat bewafai ki pyar se sasti hai..

अपने दिल में बसाया हुआ सपनों का जहां आशिक को बहुत ज्यादा पसंद था. क्योंकि उस ख्वाबों के आशियाने में उसका दिलबर भी तो उसके साथ रहता था. और सपनों की बस्ती में हर रोज आशिक अपने दिल के दिए जलाता था.

लेकिन अब उसका यह दिल का आशियाना तन्हाइयों के अंधेरे में डूब चुका है. क्योंकि उसका दिलबर उसके प्यार की कीमत वफा के बाजार में लगाकर आ रहा है. और वह कीमत भी तो उसने मोहब्बत से बहुत कम लगाई है.

10)

करनी थी हमसे बेवफाई तो
आंखें हमसे क्यों मिलाई..

जाना था छोड़कर मुझे तन्हा
तो आदत अपनी क्यों लगाई..

karni thi humse bewafai to
aankhen humse kyon milai..

jana tha chhodkar mujhe tanha
to aadat apni kyon lagai..?

Bewafa Shayari English में अपने दिल को समझाने का कोई भी रास्ता आशिक को नजर नहीं आ रहा है. क्योंकि जिस तरह से उसका महबूब उसे छोड़ चला गया है. वह अब जैसे तन्हाइयों के अंधेरे में खो गया है.

और अपने दिलबर से बस यही सवाल करना चाहता है. आखिर उसे आशिक से प्यार नहीं करना था तो उससे दिल लगाने की गुस्ताखी क्यों की? अगर उसे अपने यार को महफिल में अकेले ही छोड़ जाना था. तो उसे साथ चलने का सपना आखिर क्यों दिखाया?

Conclusion

हर आशिक को अपने बेवफा सनम के लिए अपने दिल में बहुत ज्यादा नफरत हो सकती है. क्योंकि जिस तरह से आशिक उसे अपनी सारे दिल की राज खोलता था. उसे अपना मान कर अपनी जिंदगी उसके नाम कर बैठा था. आज उसी ने उसके जिंदगी को झुठला कर खुद का एक नया आशिया बना लिया है. यही बात Dhokhe Wale Status मदद से आपको पता चल गई होगी.

बेवफा पर लिखी गयी हमारी ये पोस्ट भी आपको अच्छी लगेगी

  1. Dard Bhari Bewafa Shayari -9: Disloyal Quotes Love Status
  2. Sad Bewafa Shayari : Yaar Gaddar Status Images In Hindi
  3. Bewafa Shayari In English : Best Baaghi Quotes Images
  4. Bewafa Status In Hindi : Best Ungrateful Quotes Images
  5. Bewafa Shayari : Sad Faithless Quotes in Hindi
  6. Bewafai Shayari -1: अपने दिल का बेवफाई भरा Sad आलम याद करोगे!
  7. Bewafa Shayari -4: Tute Dil ki Dard Bhari Shayari Image hd
  8. Bewafa -3: Sad Shayari बेवफा के जख्मों पर मरहम जैसी लगेगी!
  9. Bewafa -2 : Sad Shayari को पढ़कर बेवफ़ा को भी वफ़ा याद आएगी!
  10. Bewafa 1: Dard Bhari Bewafa Sad Shayari जख़्म ताज़ा हो जाएंगे!
  11. Bewafa Shayari Photo -10: Dard Bhare Top 10 Thoughts Hindi

हमारी इन Bewafa Shayari Image को सुनकर अपने बेवफा प्यार के लिए अपने दिल में नफरत पैदा हो. तो हमें comments area में comment करते हुए जरूर बताईये.

अपने Telegram channel पर सारे अपडेट्स प्राप्त करने के लिए जल्दी से Telegram में शायरी सुकून ऐसे या @shayarisukun सर्च करे और चैनल को subscribe करें. आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आपको चाहिये कि अपने Twitter हैन्डल पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो हमें शायरी सुकून अकाउन्ट पर Follow जरूर करें.

Leave a Comment