berukhi -2: Sad Shayari से यार के दिल की बेरुखी दूर कीजिये

berukhi par shayari : दोस्तों, आखिर berukhi क्या होती है…?  यूं तो हम प्यार, विश्वास, गुस्सा, दुख, दर्द ऐसी कई भावनाओं पर हमेशा बोलते और उन्हें समझते भी हैं. पर आज हम बात करने जा रहे हैं berukhi की. berukhi जिसे सुनते या पढ़ते ही एक भाव स्पष्ट हो जाता है. ना वो गुस्सा होता है, ना दुख होता है और ना ही दर्द…!

हम इस berukhi को नाराजगी कह सकते हैं. इसमें अक्सर हम अपने आप के साथ अकेले रहना पसंद करते हैं. यूं कहो “मैं और मेरी बेरुखी..” यह हो गया अपने खुद के हालत के बारे में… और ये आपके साथ भी कभी न कभी जरूर हुआ होगा. क्योंकि हम जिंदगी में अपने सगे संबंधी, हमारे रिश्तेदार और हमारे दोस्त इन सभी के प्यारे के बंधन में बंधे हुए होते हैं. और उनके इस बंधन से यूं ही बंधे रहना हम चाहते भी हैं.

लेकिन साथ ही हम खुद के व्यक्तित्व को भी उभारना और निखारना चाहते हैं. इन दोनों तरह की परिस्थितियों को एक साथ संभालते हुए हमारी कहीं ना कहीं छोटी सी भूल या गलती हो ही जाती है. और तब हमें ऐसे किसी बेरुखी का सामना करना पड़ सकता है.

आपकी चाहत शायद हमारी बेरुखी से ही थी..

अब बात करते हैं अपने प्रिय व्यक्ति के बारे में, जो आपके जैसी बेरुखी की स्थिति से उलझ गया है. वो कोई भी हो सकता है. चाहें वो आपका क़रीबी दोस्त, रिश्तेदार, साथी, भाई, या हमसे से बड़ा कोई भी व्यक्ति हो सकता है. कई बार हमारा उनसे बिना वजह ही झगड़ा हो जाता है. फिर वो लोग हमसे गुस्सा हो जाते हैं. और हमें उन्हें मनाना पड़ता है. और कईबार हमारे मनाने से, वे लोग मान भी जाते हैं. पर हमेशा ऐसा नहीं होता.

कभी हम अपने सबसे करीबी व्यक्ति को ठेस पहुंचाते हैं. जाने अनजाने में ही सही पर ये होता जरूर है. फिर हम अपने अहंकार की वजह से हो या वक्त की कमी की वजह से, शायद उन्हें मनाना भूल जाते हैं. या फिर उन्हें अनदेखा कर देते हैं. लेकिन इसी बीच वो नाराज़ हो जाते हैं. और धीरे धीरे उनकी ये नाराजगी, बेरुखी में तब्दील हो जाती हैं. फिर उनकी चुप्पी तोड़ना सबके बस की बात नहीं होती. इसमें कई दिन लग सकते हैं. कई महीने या फिर कई साल भी लग सकते हैं.

और कई बार ऐसा होता है कि जब आप खुद अपने चाहने वाले इंसान से चुप्पी साध लेते हो, शांत रहते हो. लेकिन इसी चुप्पी के दौरान आपके मन में अपने साथी के लिए जो नजदीकीया थी, धीरे-धीरे वो दूरियों में बदलने लगती है. अपने दिलबर के लिए आपके मन में जो प्यार और चाहत थी, अब वो गलतफहमी और नफरत में खोने लगती हैं. और तब आपके दिल में ये खयाल आना लाजमी होता है कि उनको शायद आपके बेरुखी से ही चाहत है. आपके नाराजगी से ही शायद उनको प्यार है. यही सोच आपके दिल को और जलाने लगती है.

उनकी बेरुखी आपके दिल को खामोश कर देगी

अपने प्रिय व्यक्ति से हमें हमेशा नजदीकीया बनाए रखनी चाहिए. कभी वो रूठ जाए तो उसे जल्द ही मना लेना चाहिए. ताकि वह हमसे इतनी दूर ना चला जाए, कि उसे वापस पाना हमारे लिए मुश्किल हो जाए. अगर हमारी किसी बात से किसी का दिल दुखा हो, तो माफी जरूर मांग लेनी चाहिए. इससे रिश्ते बनते हैं बिगड़ते नहीं. अगर हम किसी व्यक्ति से प्यार करते हैं, तो उसकी बेरुखी हम बर्दाश्त नहीं कर पाते.

इसलिए उससे नजदीकीया बनाए रखना जरूरी होता है. उसे गुस्सा होने का या रूठ जाने का मौका ही ना दें. अगर प्यार बेहद हो, तो जायज है कि गुस्सा भी बेहद ही होगा. पर इस गुस्से को हम प्यार में बदल सकते हैं. रूठे हुए चेहरे पर मुस्कान ला सकते हैं. अगर आपने अपने साथी को मनाने में जरा भी देर कर दी, तो आपके अल्फाज खामोशी में बदल जाएंगे.आपके होंठ शायद एक भी लफ्ज़ बोल नहीं पाएंगे.

आपके दिल पर उनकी बेरुखी का कुछ इस कदर असर हो जाएगा कि आपकी जुबान ही मानो खामोश हो जाएगी. और यह हालत आपके दिल को और उदास करती जाएगी. इसलिए हम आपसे अनुरोध करते हैं कि समय रहते ही आप अपने दिलबर से बेरुखी छोड़कर, उन्हें भी खुशी देने योग्य व्यक्ति बने.

berukhi से दूरी और प्यार से नजदीकीया बढ़ती है..

हमें अपने चाहने वालों के साथ प्यार से रहना चाहिए. इससे हम हमेशा उनके दिल के करीब रहते हैं. कभी वो हम पर नाराज हो जाते हैं, गुस्सा करते हैं, तो हमें उसमें उनके प्यार की झलक ही नजर आती है. बेरुखी में प्यार नहीं होता. बेरुखी हमेशा दूरी पैदा करती है. और शायद आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है. आपको अपने दिलबर पर पूरा भरोसा था, कि वह आपकी बातों से प्यार करता है.

आपके हर एक लफ्ज़ को वो अपने कानों में समा कर रखता है. लेकिन शायद ये आपकी गलतफहमी थी. उसे तो आपकी बातों पर बिल्कुल यकीन नहीं है. अब वो आपकी किसी भी बात पर तवज्जो नहीं देता. शायद उसे आपकी बेरुखी ही पसंद है. आपके दिल की उदासी उसको अच्छी लगती है. एक तरह से तो वो बेवफा ही हुआ ना? लेकिन इस बात कि आपको भी फिक्र करनी होगी कि उसके दिल में आपके लिए गलतफहमी है, तो आप उसे जल्द से जल्द दूर कर सको.

ताकि आपका प्यार हमेशा ही बरकरार रहे. इसलिए अगर आप अपने चहेते इंसान के साथ प्यार से पेश आए, तो वो आपसे कभी दूर नहीं जाएगा. फिर भी अगर बीते वक्त में कोई आपसे दूर हुआ है, तो उसे हमारी ये शायरियां सुनाकर आप जरूर करीब ला सकतें है. इस बात की कोशिश जरूर कीजियेगा!


इन सैड शायरियों को Miss Vrushali Suvarna Dnyandev इनकी आवाज़ में सुनकर 🎧 आपको अपने साथी के दिल की बेरुखी दूर करने में जरूर मदद मिलेगी! ▶ PLAY NOW ▶

Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com


berukhi ki sad shayari | sad shayari whatsapp status

हमारा खामोश रहना
आपको पसंद आ गया..

शायद आपकी मोहब्बत
हमारी बेरुखी से थी..


hamara khamosh rahana 
aapko pasand aa gaya..
shayad aapki mohabbat 
hamari berukhi se thi..

berukhi-2-sad-shayari-upset-hindi-quotes-1

berukhi par sad shayari status

हमें खामोश कर गई
आपकी बेरुखी..

अब तो अल्फाज भी
खामोशी में तब्दील हो गए…


hame khamosh kar gai 
aapki berukhi..
ab to alfaaz bhi
khamoshi mein
tabdil ho gaye…


berukhi bhari shayari quotes in hindi

हमें लगा आपको मोहब्बत
है हमारी बातों से..

पर आपकी चाह
हमारी बेरुखी थी…

hamen laga aapko mohabbat 
hai hamari baton se..
per aapki chah 
hamari berukhi thi..

berukhi-2-sad-shayari-upset-hindi-quotes-2

हमारी दर्द भरी शायरियां सुनकर अगर आपको अपने मेहबूब के दिल की बेरुखी दूर करने में मदद मिली हो, तो नीचे comment box में comment करते हुए हमें जरूर बताएं!

अगर आप चाहते है कि आपको सारी अपडेट्स अपने Whatsapp पर मिले तो, जल्दी से ‘START’ इस मेसेज को +91 90495 96834 इस वॉट्सएप नंबर पर सेंड कीजिए, आपकी सेवा 24 घंटो के भीतर शुरू हो जाएगी.

अगर आप चाहते है की आपको फेसबुक पर शायरी सुकून अपडेट्स मिले, तो इस 👉🏼शायरी सुकून पेज को लाइक और शेयर जरूर करें.

अगर अभी आपका मूड कुछ और दर्द भरी शायरियां पढ़ने का है, तो आप यहाँ 👉🏼Sad Shayari 😔पर क्लिक कर सकते है.

1 thought on “berukhi -2: Sad Shayari से यार के दिल की बेरुखी दूर कीजिये”

Leave a Comment