backspace -2: Sad Shayari दुनिया से अपने दर्द छिपा सकते है

backspace par shayari : हम दिन में कई बार अपने मोबाइल या लैपटॉप पर backspace बटन का उपयोग करते हैं. क्योंकि हमें पता है कि backspace का उपयोग करके हमें जो लिखना नहीं होता या हमने अनजाने में जो कुछ लिखा होता है, वह मिट जाता है. backspace हमें पुरानी ही जगह पर नई सोच और नए विचार लिखने के लिए प्रेरित करता है.

इसी तरह अपनी जिंदगी में भी हमें कुछ नया सीखने के लिए और पुराने विचारों को दिमाग से हटाने के लिए बैकस्पेस बटन का उपयोग जरूर करना चाहिए. अर्थात कुछ बातें हमें जानबूझकर भूल जाना चाहिए. ताकि अपनी बुद्धि को हम सही कामों में लगा सकें.

कभी-कभी हम सोचते हैं कि काश हमारे जीवन में भी बैकस्पेस जैसा ही कोई बटन होता. उसका उपयोग करते हुए हम अपने जीवन में, अनजाने में हुई गलतियों को अगर मिटा सकते, तो कितना अच्छा होता. हमारा जीवन अभी है, उससे शायद बहुत बेहतर होता. लेकिन दूसरे ही पल हमें इस बात का स्मरण होता है कि फिर वो जिंदगी, हमारी इंसानी जिंदगी नहीं रहती.

हम में और हमारे मोबाइल में या किसी रोबोट में फिर क्या फर्क रहता. बैकस्पेस ही हमें ये एहसास दिलाता है कि भले ही हम रोज जिंदगी का एक नया पाठ शुरू करते हैं. लेकिन जिंदगी के इस किताब के पन्ने मर्यादित ही होते हैं. उनका अच्छी तरह से उपयोग करने के लिए, हमें पुराने पन्नों पर जो लिखावट की हुई है. उसे कभी कबार मिटाने की भी जरूरत पड़ती है. और वो मिटाने पर ही हम कुछ नई बातें सीख सकते हैं.


बैकस्पेस की वजह से आसान हो गई है जिंदगी..

backspace key का उपयोग करके मैंने कई बार अपनी लिखावट बदली. अपने विचार बदले. अचानक मेरे मन में एक पल के लिए एक विचार आता था. तो दूसरे ही पल वह विचार बदल जाता था. उससे भी दूसरा, और अच्छा विचार आ जाता था. इसलिए मैं लिखती रहती और गलती होने पर या वो विचार पसंद ना आने पर बैकस्पेस का उपयोग करते हुए मैं मिटाती रहती थी.

लेकिन ऐसे लिखते और मिटाते रहने की वजह से वह विचार मेरी लिखावट से तो निकल जाते. लेकिन मेरे दिल और दिमाग के अंदर वापस बंद हो जाते. उन्हें मैं कैसे मिटा दूं? दिन में बहोत बार ऐसे अलग-अलग कितने ही विचार मेरे मन में आते हैं. अगर उन्हें लिखते रहो, तो मैं शायद कई किताबें लिखती जाऊं.

मगर हर सोच मुझे रास नहीं आती. इसलिए मैं बस दिल में आए मेरे सोच-विचारों को लिखती और मिटाती रहती हूं. इसी वजह से ऐसी कई बातें, ऐसे कई विचार थे, जो सिर्फ मेरा बैकस्पेस बटन ही जानता हैं.


जज्बात मिटाना सुलभ कर देता है बैकस्पेस बटन

बैकस्पेस बटन की पहुंच तो देखो. उसे मेरे मन की सभी विचार, सभी बातें पता है. जो मैं लिख पाती और जो मैं ना लिख पाती, वह भी उसे पता है. कभी कबार तो लगता है कि मेरी जिंदगी बैकस्पेस की बटन की मदद से आसान हो गई है. लेकिन कभी ऐसा लगता की मुझे और कुछ नया सोचना चाहिए.

और इस से मेरी मुश्किलें बढ़ जाती. कई बार मैं मन में आए सभी विचार कहना चाहती थी. कई बार कुछ अलग सोचती और उन्हें लिखना चाहती थी. लेकिन उन्हें लिखने की हिम्मत नहीं जुटा पाती थी. और इसमें बैकस्पेस बटन की हमेशा जीत होती. क्योंकि वो मुझे मेरे विचार मिटाने में मदद करता. लेकिन एक प्रकार से वो मेरे जज्बातों को ही वहीं पर दफन कर देता. जैसे वो मेरे विचारों पर कोई जुल्म ही कर रहा हो.


बैकस्पेस की वजह से ही अपने आंसू छुपा सकी हूं मैं..

बैकस्पेस बटन कभी मेरे जज्बात, मेरे हालात समझकर पुराने विचार मिटाने में मेरी मदद करता. लेकिन कभी कबार ऐसा लगता कि वो मुझ पर सितम कर रहा है. मेरे विचारों को दफन कर रहा है. कई बार इस बैकस्पेस के बटन की वजह से अपने जज्बात कहने में मुझे हिचकिचाहट होती थी.

तो कभी कबार यही बैकस्पेस बटन मेरे नए जज्बातों को पनाह देकर मुझ में एक नई ऊर्जा भर देता. कई बार मुझे खुशी देता और बहुत बार गम के आंसू भी! इसी बैकस्पेस की वजह से मैं अपने आंसू छिपाने में कामयाब रही. इसलिए शायद अब यह बैकस्पेस का बटन भी मेरे गम छुपाते छुपाते थक गया है. अब मुझे भी यही एहसास हो रहा है कि शायद उससे भी अब मेरे दर्द सहे नहीं जाते.


इन दर्द भरी sad शायरियों को Miss Shraddha Jain इनकी आवाज़ में सुनकर अपने जज़्बात मिटाने में कामयाब रहिये! ▶️ PLAY NOW ▶️

Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE -अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए 🎧 का प्रयोग करें – Use 🎧 for better SOUND EXPERIENCE shayarisukun.com


backspace shayari in urdu | facebook status in english

मै लिखती.. और मिटाती रहती
मै लिखती… और मिटाती रहती..

ना जानें ऐसी कितनी बातें है,
जो सिर्फ Backspace से मिटाकर
मेरे दिल के एक कोने में ही कैद हो जाती..

mai likhti.. aur mitati rahti
mai likhti.. aur mitati rahti
na jane aisi kitni batein hai,
jo sirf backspace se mitakar
mere dil ke ek kone me hi kaid ho jati…

backspace 2 sad shayari technique to stop message 1

jazbat backspace shayari in english

जज़्बात हजारों है कहना चाहते..

लेकिन हमेशा ये जुल्मी
Backspace ही जीत जाते..

jazbat hajaro hai kahna chahte..
lekin hamesha ye julmi
backspace hi jit jate…


backspace key shayari in hindi

कुछ आंसू की बूंदे तो
पलकों में भी दिखने लगे थे…

आख़िर मेरे साथ साथ Backspace भी,
थक गया था दर्द छुपाते छुपाते…

kuch aansu ki bunde to
palko me bhi dikhne lage the
aakhir mere sath sath backspace bhi 
thak gaya tha dard chupate chupate…

backspace-2-sad-shayari-technique-to-stop-message-2

अगर इन sad शायरियों की मदद से आप भी अपने दिल के दर्द मिटाने में कामयाब रहे हों तो, नीचे comment box में comment करके जरूर बताईये!

शायरी सुकून  इस नायाब शायरियों के Telegram channel को अभी join करने के लिए शायरी सुकून  या  @shayarisukun सर्च करें और इस चैनल को अभी subscribe करें. आपको 24 घंटो के भीतर सेवा प्रदान की जायेगी.

शायरी सुकून की बेहतरीन शायरियों को अपने Twitter handle पर प्राप्त करने के लिए 👉🏼शायरी सुकून अकाउन्ट को Follow जरूर करें.

कुछ और दर्द भरी Quotes पढ़ने का मन हो रहा है, तो आप इस 👉🏼Sad Shayari 💔 कैटेगरी को पढ़ सकते हैं.

2 thoughts on “backspace -2: Sad Shayari दुनिया से अपने दर्द छिपा सकते है”

  1. हा श्रद्धा जी आप की ये शायरी बिलकुल बारिश की बूंदों की तरह लगती हैं……सहजता से आप बहुत कुछ कह देती हैं।आपकी आवाज बहुत नरम हैं मतलब सुनकर अच्छा लगता है।

    Reply

Leave a Comment